प्रधानमंत्री मोदी पांच मिनट भी राजनीति को छोड़ नहीं सकते : राहुल गाँधी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 1 मार्च 2019

प्रधानमंत्री मोदी पांच मिनट भी राजनीति को छोड़ नहीं सकते : राहुल गाँधी

modi-can-not-leave-politics-rahul-gandhi
धुले/मुंबई, एक मार्च, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की आलोचना करते हुए शुक्रवार को कहा कि वह (प्रधानमंत्री मोदी) पांच मिनट भी अपने पीआर (पब्लिक रिलेशंस) को छोड़ नहीं सकते और यह उनमें और हममें फर्क है।  राहुल ने उत्तर महाराष्ट्र के धुले में एक जनसभा को संबोधित करते हुए यह कहा। उन्होंने पुलवामा आतंकी हमले के बाद देश के एक साथ खड़े होने की जरूरत का प्रधानमंत्री के जिक्र करने के बावजूद कांग्रेस पर हमला बोलने को लेकर उनकी आलोचना की। कांग्रेस अध्यक्ष ने उद्योगपति अनिल अंबानी पर तंज कसते हुए कहा कि वह कागज का जहाज तक नहीं बना सकते हैं।  बाद में, मुंबई में राहुल ने मोदी को संवाददाता सम्मेलन करने और जनता के सवालों का जवाब देने की चुनौती दी।  कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, ‘‘पुलवामा हमले के बाद, मैंने अपनी पार्टी के नेताओं और कार्यकर्ताओं से यह सुनिश्चित करने कहा था कि कोई भी व्यक्ति सरकार की आलोचना नहीं करेगा और (यह भी कहा था) कि देश को इस लड़ाई में एकसाथ खड़ा रहना चाहिए।’’ 

उन्होंने कहा कि भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव कम हो जाने के बाद सरकार पर राजनीतिक हमले किए जा सकते थे। राहुल ने कहा, ‘‘मोदी ने मीडिया से कहा कि भारत पुलवामा आतंकी हमले के बाद एकजुट है। लेकिन इसके तुरंत बाद उन्होंने राष्ट्रीय समर स्मारक (नेशनल वार मेमोरियल) के उदघाटन (दिल्ली में) के दौरान हमारी आलोचना की। इस देश के प्रधानमंत्री पांच मिनट भी अपने पीआर (पब्लिकल रिलेशंस) को छोड़ नहीं सकते। यह उनके (मोदी) और कांग्रेस के बीच फर्क है।’’  राहुल ने कहा कि जब नोटबंदी की घोषणा की गई थी देश को यह विश्वास दिलाया गया कि यह कालाधन के खिलाफ एक लड़ाई है लेकिन बैंकों के आगे सिर्फ आम आदमी को कतार में खड़ा होना पड़ा, ना कि अनिल अंबानी, नीरव मोदी, मेहुल चोकसी या विजय माल्या को । केंद्रीय बजट के दौरान किसान सम्मान निधि योजना की घोषणा किए जाने का जिक्र करते हुए कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा के सांसदों ने इसका स्वागत मेज थपथपा कर किया।  राहुल ने 2019 के लोकसभा चुनाव के बाद कांग्रेस के सत्ता में आने पर गरीबों की न्यूनतम आय गारंटी सुनिश्चित करने के अपने वादे को दोहराया। 

उन्होंने कहा कि भाजपा दो भारत बनाना चाहती है, एक भारत 20 - 25 उद्योगपतियों का जबकि दूसरा भारत गरीबों, किसानों और बेरोजगार युवाओं का।  उन्होंने कहा कि मोबाइल फोन, शर्ट और जूते चीन निर्मित हैं लेकिन कांग्रेस उसे भारत में और महाराष्ट्र में बनाना चाहती है।  राहुल ने कहा, ‘‘मैं प्रेस कांफ्रेंस करता हूं, लेकिन क्या आपने चौकीदार को प्रेस कांफ्रेंस करते देखा है? वह न सिर्फ चोर हैं बल्कि डरपोक भी है।’’  उन्होंने दावा किया कि मोदी हर वक्त झूठ बोलते हैं। उन्होंने उपनगरीय बांद्रा में लोगों को संबोधित करते हुए कहा, ‘‘ यदि आप सच सुनना चाहते हैं तो यहां आइए लेकिन यदि आप झूठ सुनना चाहते हैं तो नरेंद्र मोदी की रैलियों में जाइए। ’’  उन्होंने फरार कारोबारी मेहुल चोकसी जैसों को बचाव करने को लेकर भी प्रधानमंत्री की आलोचना की।  राहुल ने कहा, ‘‘मेहुल चोकसी को मोदी मेहुल भाई कहते हैं लेकिन आपको मित्रों कहते हैं।’’  उन्होंने कहा कि यदि आमचुनाव के बाद कांग्रेस केंद्र की सत्ता में आती है तो मुंबई में झुग्गी झोपड़ी वासियों को स्लम विकास योजना के तहत 500 वर्ग फुट का मकान देगी।  उन्होंने वायुसेना के विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान की स्वदेश वापसी पर खुशी जाहिर की। उन्होंने कहा, ‘‘विंग कमांडर अभिनंदन वर्धमान, देश में स्वागत है। ’’ 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...