घाटी में राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक ओर से यातायात बहाल - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 13 मार्च 2019

घाटी में राष्ट्रीय राजमार्ग पर एक ओर से यातायात बहाल

on-one-side-of-the-national-highway-restored-traffic
श्रीनगर 13 मार्च, मौसम में सुधार के बाद कश्मीर घाटी को देश के अन्य हिस्सों से जोड़ने वाले राष्ट्रीय राजमार्ग पर बुधवार को एक ओर से यातायात बहाल कर दिया गया।  यातायात पुलिस ने यूनीवार्ता को बताया कि जम्मू से श्रीनगर राजमार्ग पर यातायात जारी रहेगा और विपरीत दिशा से यातायात की अनुमति नहीं होगी। उन्होंने कहा कि पिछले दो दिनों से श्रीनगर से जम्मू यातायात की इजाजत है। हम विपरीत दिशा से अनुमति देते है। उन्होंने कहा कि जाकिनी उधमपुर पर हल्के वाहनों को 0800 बजे से 1300 बजे के दौरान तथा 1300 बजे के बाद भारी वाहनों को यातायात की अनुमति देने का निर्णय लिया गया है। उन्होंने कहा निर्धारित समय सीमा के बाद किसी भी वाहन को जाने की अनुमति नहीं होगी। उन्होंने कहा कि आवश्यक सामाग्री से लदे सैकड़ो वाहन उधमपुर से कश्मीर घाटी जाने के लिए तैयार है। इस कारण कश्मीर घाटी में लोगों आवश्यक सामाग्री ताजी सब्जियां, मीट और चिकन की भारी किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। जिसके कारण इनके दामों भारी बढोत्तरी हो गयी है। कश्मीर घाटी में इन सामानों की अपूर्ति देश के विभिन्न हिस्सों से होती है। श्रीनगर-लेह राजमार्ग के कई हिस्सों पर ताजा हिमपात की खबरें मिली थी। जोजिला दर्रे के दोनों ओर बर्फ हटाने का काम पहले से ही चल रहा है। दक्षिण कश्मीर के शोपिया को जोड़ने वाला राजौरी, पुंछ और अनंतनाग से किस्तवाड़ तक 86 किलोमीटर लंबा ऐतिहासिक मुगल रोड़ तथा अनंतनाग-किश्तवाड मार्ग सड़कों पर हिमस्खलन के कारण पिछले वर्ष दिसम्बर से ही बंद है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...