खाता खुलवाने पर सवाल करने वाले इसमें पैसे डालने की करते हैं बात : मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 28 मार्च 2019

खाता खुलवाने पर सवाल करने वाले इसमें पैसे डालने की करते हैं बात : मोदी

will-they-deposit-money-who-always-questioned-account-opening-modi
मेरठ, 28 मार्च, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस की न्यूनतम आय गारंटी योजना ‘न्याय’ पर तंज कसते हुए गुरुवार को कहा कि जब उनकी सरकार ने बैंक खाते खुलवाये तो कुछ ‘बुद्धिमान’ लोग कहते थे कि देश में बैंक ही नहीं हैं खाते खुलवाने से क्या होगा और आज वही खातों में पैसे डालने की बात करते हैं। मेरठ से लोकसभा चुनाव के प्रचार अभियान की शुरुआत करते हुए श्री मोदी ने कहा कि देश के 130 करोड़ लोग 2019 में एक बार फिर मोदी सरकार बनाने का मन बना चुके हैं। रैली में मौजूद भारी भीड़ से गदगद प्रधानमंत्री ने कहा कि केवल दिल्ली ही नहीं, बल्कि दुनिया का मीडिया, जिसे भी 2019 के जनादेश का आकलन करना है वह इस जन सैलाब को देख सकता है। श्री मोदी ने अपने संबोधन में कांग्रेस को तो आड़े हाथों लिया ही, उत्तर प्रदेश लोकसभा चुनाव के लिए बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और समाजवादी पार्टी (सपा) के गठबंधन पर भी जमकर निशाना साधा। केंद्र में सरकार बनने पर गरीबों के लिए न्याय योजना लाने के कांग्रेस के वादे पर श्री मोदी ने कहा, “जब मैं बैंक खाते खुलवाता था तो कुछ बुद्धिमान लोग कहते थे कि देश में बैंक ही नहीं है, खातों से क्या होगा। जो 70 साल में गरीब का खाता नहीं खुलवा सके वे आज कहते हैं कि खातों में पैसे डालेंगे।” बसपा और सपा के बीच लोकसभा चुनाव के लिए गठबंधन पर निशाना साधते हुए प्रधानमंत्री ने कहा, “उत्तर प्रदेश में जिस पार्टी के नेताओं को जेल भेजने के लिए ‘बहन जी’ ने जीवन के दो दशक लगा दिये, उसी से उन्होंने हाथ मिला लिया है। जिस दल के नेता बहन जी को गेस्ट हाउस में ही खत्म कर देना चाहते थे वह अब उनके साथी बन गये हैं।” उत्तर प्रदेश के विधानसभा चुनावों में सपा और कांग्रेस के गठबंधन पर श्री मोदी ने कहा, “अभी पिछले चुनाव में यूपी ने दो लड़कों का खेल देखा और दो लड़कों से बुआ-बबुआ तक पहुंचने में जो तेजी दिखाई गई है, वह बहुत गजब है।” मेरठ से 2019 के आम चुनाव अभियान की शुरुआत करने की वजह बताते हुए श्री मोदी ने कहा 1867 में वहीं सपना, वही आकांक्षा दिल में लिये इसी मेरठ से स्वतंत्रता के आंदोलन का पहला बिगुल फूंका गया था। उन्होंने कहा, “पांच साल पहले जब मैंने आप सभी से आशीर्वाद मांगा था तो आपने भरपूर प्यार दिया था, मैंने कहा था आपके प्यार को मैं ब्याज सहित लौटाऊंगा और जो काम किया है, उसका हिसाब दूंगा तथा साथ में दूसरों का हिसाब भी लूंगा। ये दोनों काम साथ-साथ चलेंगे। तभी तो होगा हिसाब बराबर। चौकीदार हूं भाई और चौकीदार कोई नाइंसाफी नहीं करता। हिसाब होगा, सबका होगा, बारी-बारी से होगा।” उन्होंने कहा आज एक तरफ नये भारत के संस्कार हैं, तो दूसरी तरफ वंशवाद और भ्रष्टाचार का विस्तार। एक तरफ दमदार चौकीदार है, तो दूसरी तरफ दागदारों की भरमार है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...