आलिया हर फिल्म को न्यूकमर की तरह करना चाहती है - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 21 अप्रैल 2019

आलिया हर फिल्म को न्यूकमर की तरह करना चाहती है

aaliaa-wants-to-work-new-comer
मुंबई 21 अप्रैल, बॉलीवुड अभिनेत्री आलिया भट्ट का कहना है कि वह हर फिल्म को न्यूकमर की तरह करना चाहती है। वर्ष 2012 में प्रदर्शित फिल्म स्टूडेंट ऑफ द इयर से बॉलीवुड में अपने करियर की शुरूआत करने वाली आलिया की फिल्म 'कलंक' हाल ही में रिलीज हुई है। फिल्म को मिला-जुला रिस्पॉन्स मिल रहा है। आने वाले दिनों में आलिया कई बड़ी फिल्मों में काम कर रही हैं। आलिया ने अपनी फिल्मों और करियर के बारे में बात की है। आलिया आने वाले दिनों में संजय भंसाली, आर राजामौली, करण जौहर और महेश भट्ट की फिल्मों में नजर आएंगी। आलिया का कहना है कि इस तरह वह अपनी विश लिस्ट पूरी कर रही हैं। आलिया से जब पूछा गया कि आने वाले दिनों में आप तमाम बड़े निर्माताओं की बड़ी-बड़ी फिल्मों में नजर आएंगी , तब आपको कैसा फील हो रहा है। आलिया ने जवाब में कहा, “ फील तो पहले जैसा ही हो रहा है। मैं इस पर ज्यादा फोकस नहीं करूंगी कि ये बड़ी-बड़ी फिल्में हैं, क्योंकि मेरे लिए तो हरेक फिल्म और कहानी बड़ी होती है। हां, मैं इतना जरूर कहूंगी कि मैं आने वाले दिनों में उन निर्देशकों के साथ काम कर रही हूं, जिनके साथ मैं हमेशा से काम करना चाहती थी। ” आलिया ने कहा , “ संजय सर हों या राजामौली सर हों, बल्कि करण सर के साथ भी दोबारा काम करने का एक्सपीरियंस मजेदार रहने वाला है। इसके अलावा, मुझे कभी उम्मीद नहीं थी कि मेरे पापा महेश भट्ट दोबारा फिल्में निर्देशित करेंगे, लेकिन मेरी खुशकिस्मती है कि पापा 'सड़क 2' को डायरेक्ट करने वाले हैं, तो यह मेरे लिए सपना पूरा होने जैसा है। इसलिए मैं यदि यह कहूं कि मैं इन डायरेक्टर्स के साथ काम करने को लेकर क्रेजी हूं, तो यह ज्यादा सही होगा। इन डायरेक्टर्स के साथ काम करके मैं अपनी विशलिस्ट को टिक कर रही हूं। बाकी छोटा मुंह बड़ी बात कहूं, तो मैं अपनी हर फिल्म में न्यूकमर की तरह जाना चाहती हूं। मैं चाहती हूं कि हरेक फिल्म की शुरुआत इस तरह करूं कि मैंने इससे पहले कोई फिल्म ही नहीं की है। ”

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...