पुनित गुप्ता के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 6 अप्रैल 2019

पुनित गुप्ता के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी

lookout-notice-issued-against-punit-gupta
रायपुर, छत्तीसगढ़ में रायपुर जिले की पुलिस ने पूर्व मुख्यमंत्री रमन सिंह के दामाद पुनित गुप्ता पर करोड़ों रूपए की अनियमितता के आरोप के बाद लुकआउट नोटिस जारी किया है। रायपुर जिले के पुलिस अधिकारियों ने शुक्रवार को यहां भाषा को बताया कि पुलिस ने गुप्ता के खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया है, जिससे वह देश के बाहर नहीं जा सकें। अधिकारियों ने बताया कि राजधानी रायपुर स्थित डीकेएस पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीटयूट एवं रिसर्च सेंटर में 50 करोड़ रूपए की अनियमितता की शिकायत के बाद पुलिस ने गुप्ता को दो बार नोटिस जारी किया था। लेकिन गुप्ता नोटिस मिलने के बाद भी पुलिस के सामने पेश नहीं हुए। इसके बाद उसके खिलाफ लुकआउट नोटिस जारी किया गया। उन्होंने बताया कि पुनित गुप्ता फरार हैं और पुलिस को आशंका है कि वह देश से बाहर भी जा सकते हैं। ऐसे में उन्हें देश छोड़ने से रोकने के लिए लुकआउट नोटिस जारी किया गया है।


पुलिस अधिकारियों ने बताया कि रायपुर स्थित डीकेएस पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीटयूट एवं रिसर्च सेंटर के अधीक्षक कमल किशोर सहारे ने गोल बाजार थाने में सेंटर के पूर्व अधीक्षक पुनित गुप्ता और अन्य के खिलाफ करीब 50 करोड़ रूपये की आर्थिक अनियमितता कर सरकार को करोड़ों रुपये की नुकसान पहुंचाने का मामला दर्ज कराया था। सहारे ने शिकायत की थी कि आरोपियों ने दिसंबर 2015 से अक्टूबर 2018 के बीच डीकेएस पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट एवं रिसर्च सेंटर में अपने कार्यकाल के दौरान नियम विरूद्ध कार्य किया। इस दौरान अपात्र लोगों से पैसे लेकर नियमों के विरूद्ध भर्ती किए जाने तथा अन्य कई शिकायतें राज्य सरकार को प्राप्त हुई थी।सहारे की शिकायत के बाद गोल बाजार थाने की पुलिस ने गुप्ता के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया था। उन्होंने बताया कि मामले की जांच के लिए पुलिस अधिकारियों के एक दल ने राजेंद्र नगर स्थित जीबीजी किडनी केयर सेंटर में छापा मारा था और महत्वपूर्ण दस्तावेज जब्त किया था।



पिछले वर्ष राज्य में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद पुनित गुप्ता को अधीक्षक पद से हटाकर रायपुर मेडिकल कालेज में ओएसडी के पद पर पदस्थ किया गया था। गुप्ता के स्थान पर सहारे को डीकेएस पोस्ट ग्रेजुएट इंस्टीट्यूट एवं रिसर्च सेंटर का अधीक्षक नियुक्त किया गया है। बाद में गुप्ता ने नौकरी से त्यागपत्र दे दिया था। कांग्रेस के नेताओं ने वर्ष 2014 में अंतागढ़ उपचुनाव में कथित लेनदेन को लेकर भी गुप्ता के खिलाफ मामला दर्ज कराया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...