पकिस्तान ने सदभावना के तहत 100 भारतीय मछुआरों को रिहा किया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 7 अप्रैल 2019

पकिस्तान ने सदभावना के तहत 100 भारतीय मछुआरों को रिहा किया

pakistan-release-100-indian-fishermen
कराची, सात अप्रैल , पाकिस्तान ने पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत के साथ संबंधों में आए तनाव के बीच सदभावना के तहत रविवार को 100 भारतीय मछुआरों को रिहा किया। मीडिया में आई खबरों में यह जानकारी दी गई है।  ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ की खबर के मुताबिक रिहा कैदियों को भारी सुरक्षा के बीच कराची छावनी रेलवे स्टेशन ले जाया गया, जहां उन्हें लाहौर के लिए अल्लमा इकबाल एक्सप्रेस में चढ़ाया गया।  खबर के मुताबिक लाहौर से उन्हें वाघा सीमा पर ले जाया जाएगा, जहां उन्हें भारतीय अधिकारियों को सौंपा जाएगा।  पाक के जलक्षेत्र में घुसने और अंतरराष्ट्रीय समुद्री सीमा का उल्लंघन करने को लेकर इन मछुआरों को गिरफ्तार किया गया था।  खबर के मुताबिक उन्हें पाक के गैर लाभकारी समाज कल्याण संगठन ईधी फाउंडेशन द्वारा तोहफे एवं यात्रा का खर्च मुहैया किया गया है।  गौरतलब है कि पाकिस्तान ने शुक्रवार को घोषणा की थी कि वह 360 भारतीय कैदियों को सदभावना के तहत इस महीने चार चरणों में रिहा करेगा। इनमें से ज्यादातर मछुआरे हैं। विदेश कार्यालय के प्रवक्ता मोहम्मद फैसल ने इस्लामाबाद में शुक्रवार को मीडिया से कहा था, ‘‘हम इसे सदभावना के तहत कर रहे हैं और आशा है कि भारत भी इसी तरह का कदम उठाएगा।’’  उन्होंने कहा कि पाकिस्तान 360 भारतीय कैदियों को रिहा करेगा जिनमें 355 मछुआरे हैं। ईधी फाउंडेशन के प्रवक्ता अनवर काजमी ने शुक्रवार को कहा कि मछुआरों को रिहा करने की प्रक्रिया शनिवार से शुरू होगी। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...