पिंकी, साक्षी कोलोन मुक्केबाजी विश्वकप के सेमीफाइनल में - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 12 अप्रैल 2019

पिंकी, साक्षी कोलोन मुक्केबाजी विश्वकप के सेमीफाइनल में

pinky-sakshee-kolon-cologne-boxing-semifinal-in-world-cup
कोलोन (जर्मनी), 11 अप्रैल,  राष्ट्रमंडल खेलों की कांस्य पदक विजेता पिंकी रानी (51 किग्रा) और मौजूदा यूथ वर्ल्ड चैम्पियन साक्षी (57) किग्रा ने जर्मनी में कोलोन मुक्केबाजी विश्व कप के सेमीफाइनल में पहुंचकर भारत के लिए दो और पदक पक्के कर दिए। इंडिया ओपन की स्वर्ण पदक विजेता पिंकी ने गुरुवार को महिलाओं के क्वार्टर फाइनल में थाईलैंड की फुन्सांग काहिरांचाया को 5-0 से हराया जबकि साक्षी ने डेनमार्क की सेसिले केल्ले को कड़े मुकाबले में विभाजित फैसले से मात दी। मीना कुमारी और पी बासुमतारी पहले ही 54 और 64 किग्रा वर्ग के फाइनल और सेमीफाइनल में पहुंचकर पहले ही क्रमश: रजत और कांस्य पदक पक्का कर चुकी हैं। 54 किग्रा में केवल तीन मुक्केबाज ही थीं, जिसमें से स्ट्रांजा मेमोरियल की स्वर्ण पदक विजेता मैंसनाम ने सीधे फाइनल में प्रवेश कर लिया। ठीक इसी तरह 64 किग्रा वर्ग में भी पांच मुक्केबाज के होने के चलते स्ट्रांजा मेमोरियल की कांस्य पदक विजेता बासुमातारे ने सीधे सेमीफाइनल में जगह बनाई। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...