मधुबनी : सतीश चंद्र झा ने पेश किया मधुबनी विकास का ब्ल्यू प्रिंट - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 25 अप्रैल 2019

मधुबनी : सतीश चंद्र झा ने पेश किया मधुबनी विकास का ब्ल्यू प्रिंट

पूर्वांचल जनता पार्टी ने किया मिथिला के विशेष विकास का वायदा 
मधुबनी  (आर्यावर्त संवाददता) सम्पूर्ण पूर्वांचल समेत मिथिला के चहुर्दिक विकास को संकल्पित पूर्वांचल जनता पार्टी (सेकुलर) क्षेत्र के हर विकास को संकल्पित ही और विकास के इस धारा में विकसित राज्यों के साथ कदम से कदम मिला कर चलने को आतुर, बस लक्ष्य के साथ मातृभूमि के प्रति निष्ठा को क्षेत्र के लोगों से ऊर्जा मिलती रहे, उपर्युक्त बातें पूर्वांचल जनता पार्टी (सेकुलर) के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं मधुबनी से पार्टी के प्रत्याशी सतीश चंद्र झा ने कही. उन्होंने बताया की सम्पूर्ण पूर्वांचल के विकास के लिए ब्ल्यू प्रिंट तैयार है लेकिन मधुबनी  प्रत्याशी साथ साथ वासी  कारण मधुबनी के लिए हमने विशेष तैयारी की है, जिसे मधुबनी का घोषणा पत्र  के रूप में जारी किया है. अपने घोषणा पत्र जानकारी देते हुए श्री झा ने सबसे पहले मिथिला स्टूडेंट यूनियन  प्राथमिक मांग को क्षेत्र के विकास की जरूरत बताते हुए सबसे पहले मिथिला विकास बोर्ड बनाने की बात कही, साथ ही बंद पड़े लोहट, सकरी चीनी मिल को पुनर्जीवित करना अपना प्राथमिक एजेंडा बतया। मधुबनी का विश्व प्रसिद्द खादी ग्रामोद्योग के मृत हो जाने पर सरकारों पर भड़ास निकालते हुए मधुबनी खादी को वापिस पुनर्जीवित करने को अपने घोषणा पत्र में जगह दिय है. शिक्षा के क्षेत्र में वैश्विक योग्यता के लिए एक सरकारी इंजीनियरिंग कालेज, जिले के बेटियों के लिए के लिए प्रखंड स्तर पर महिला कालेज, साथ ही तकनिकी योग्यता के लिए प्रखंड स्तर पर आई टी आई एवं मोबाइल रिपेयरिंग की पढाई की व्यवस्था होने की बात कही, उन्होंने बताया कि ऐतिहासिक सौराठ सभा, कालिदास डीह उच्चैठ, राजराजेश्वरी स्थान डोकहर, विद्यापति डीह बिस्फी, कपिलेश्वर स्थान समेत अन्यायन्य महत्वपूर्ण स्थलों को पर्यटक क्षेत्र के रूप में विकास किया जायेगा। खादी विकास के लिए पंडौल सूत मिल के साथ हरेक विधानसभा में केंद्रीय विद्यालय की स्थापना करेंगे। साथ ही प्रखंड स्तर पर पशुपालन, दुग्ध उत्पाद, एवं पशु चिकित्सा के नवीन तकनिकी को उपलब्ध कराया जाएगा।  

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...