बिहार : कालेधन का खुलासा होने से उनमें गजब की बेचैनी : सुशील मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 29 अप्रैल 2019

बिहार : कालेधन का खुलासा होने से उनमें गजब की बेचैनी : सुशील मोदी

rjd-congress-feuding-over-ban-on-corruption-and-corruption-sushil
पटना 28 अप्रैल, भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के वरिष्ठ नेता एवं बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने आज कहा कि केंद्री की नरेंद्र मोदी सरकार के नोटबंदी और भ्रष्टाचार पर प्रहार से राष्ट्रीय जनता दल (राजद) और कांग्रेस के नेताओं के अकूत कालेधन का खुलासा होने से उनमें गजब की बेचैनी है। श्री मोदी ने कहा कि नोटबंदी और भ्रष्टाचार पर प्रहार से जहां दलाल और बिचैलियों की काली कमाई बंद हो गयी वहीं राजद, कांग्रेस, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) और तृणमूल कांग्रेस जैसी पार्टियों के लोगों के अकूत कालेधन का खुलासा हुआ है। इसके कारण ही आज वे लोग न केवल प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को गाली दे रहे हैं बल्कि उनमें गजब की बेचैनी भी है। भाजपा नेता ने कहा कि भ्रष्टाचार पर किए गए प्रहार का ही नतीजा है कि कालेधन को सफेद करने वाली तीन लाख से ज्यादा फर्जी कम्पनियां बंद कर दी गयी हैं। उन्होंने कहा कि बैंक खातों को आधार से जोड़ कर आठ करोड़ से ज्यादा डुप्लीकेट एवं फर्जी रसोई गैस कनेक्शन, राशन कार्ड, विभिन्न पेंशन योजना के लाभार्थी रद्द किए गए है। श्री मोदी ने कहा कि केंद्र की मोदी सरकार के इन प्रयासों की बदौलत ही एक लाख 10 हजार करोड़ रुपये जो दलाल-बिचैलिए हड़प जाते थे उसकी बचत हुई। एक लाख 30 हजार करोड़ रुपये से अधिक की अघोषित आय पकड़ी जा चुकी है। उन्होने कहा कि 6900 करोड़ रुपये से ज्यादा की बेनामी सम्पत्ति देश में तथा 1600 करोड़ रुपये की विदेशों में जब्त की गयी। भाजपा नेता ने कहा कि जिनके कालेधन उजागर हुए, जिन दलालों-बिचैलियों की काली कमाई बंद हुई वे ही लोग आज प्रधानमंत्री श्री मोदी का विरोध कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि रिश्वतखोरी, गरीबों की हकमारी और बेईमानी से हासिल बेनामी सम्पत्ति के जब्त होने से बौखलाए लोगों की हकीकत जनता अच्छी तरह से जान रही है और वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में उन्हें जरूर सबक सिखायेगी। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...