देश को विकसित श्रेणी में लाने की मजबूत आधारशिला रखेंगे: मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 9 अप्रैल 2019

देश को विकसित श्रेणी में लाने की मजबूत आधारशिला रखेंगे: मोदी

strong-foundation-will-to-bring-the-country-into-developed-category-modi
नयी दिल्ली, 08 अप्रैल,  प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने आज कहा कि दोबारा सत्ता में आने पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पांच वर्षों में विकास को जनांदोलन बनाकर आजादी के 100 वर्ष पूरे होने पर 2047 में भारत को विकसित राष्ट्र बनाने की मजबूत आधारशिला रखेगी। श्री मोदी ने आज यहां पार्टी अध्यक्ष अमित शाह और अन्य वरिष्ठ नेताओं की मौजूदगी में लोकसभा चुनावों के लिए पार्टी का संकल्प पत्र जारी किये जाने के मौके पर कहा ,“ हमारा संकल्प पत्र, सुशासन पत्र , राष्ट्र की सुरक्षा का पत्र और राष्ट्र की समृद्धि का पत्र भी है”। देश को तरक्की की राह पर तेज गति से दौड़ाने के लिए जनांदोलन की जरूरत पर बल देते हुए उन्होंने कहा कि इसके लिए स्वच्छता की तर्ज पर जनांदोलन चलाना होगा। उन्होंने कहा कि पार्टी प्रतिबद्ध है कि वह देश को समृद्ध बनाने के लिए, सामान्य मानवी के सशक्तिकरण को लेकर जन भागीदारी को बढ़ाते हुए, लोकतांत्रिक मूल्यों को बढ़ावा देगी और ‘एक मिशन , एक दिशा’ को लेकर आगे बढेगी। उन्होंने कहा कि भारतीय समाज में विविधताएं हैं। भाषाएं, जीवन स्तर, शिक्षा आदि की विविधता है। इसलिए विकास को बहुआयामी बनाने की योजना को भी संकल्प पत्र में शामिल किया गया है। उन्होंने कहा कि मौजूदा कार्यकाल में भाजपा सरकार ने सामान्य मानवीय की आवश्यकताओं को ध्यान में रखकर शासन चलाया। अब उनकी आकांक्षाओं को पूरा करने के लिए क्या किया जा सकता है इसका खाका संकल्प पत्र में तैयार किया गया है। उन्होंने कहा ,“ दिल्ली में एयर कंडीशन मैं बैठे लोग गरीबी को हरा नहीं सकते। गरीब ही गरीबी को परास्त कर सकता है। ये हमारा मंत्र है और इसलिए गरीबों के सशक्तिकरण पर हमने बल दिया है। ” प्रधानमंत्री ने कहा कि गांव, गरीब और किसान भाजपा की विचारधारा के केन्द्र में है। श्री मोदी ने कहा कि अक्सर कहा जाता है कि 21 वीं सदी एशिया की होगी। भारत को यह तय करना है कि आजादी के 100 वर्ष पूरे होने के मौके यानी 2047 में उसे विकासशील से विकसित राष्ट्र कैसे बनना है। इसके लिए वर्ष 2019 से 2024 के बीच इस लक्ष्य को हर भारतीय का सपना बनाना है और इस लक्ष्य की मजबूत नींव रखनी है। इसके लिए विकास का जनांदोलन चलाना जरूरी है। युवाओं को इस सपने के केन्द्र में रखा गया है क्योंकि वही 2047 का भविष्य तय करेंगे। प्रधानमंत्री ने कहा कि भारतीय जनता पार्टी ने उसके कामकाज के लेखे-जोखे के लिए एक मध्यावधि बिन्दू भी तय किया है। इसके माध्यम से लोग सरकार को उसके वादों की कसौटी पर परख सकेंगे और इसके लिए 2022 में जब आजादी के 75 साल होंगे तब देश के उन महापुरुषों जिन्होंने आजादी की जंग लड़ी थी, उनके सपनों का भारत बनाने के लिए पार्टी ने 75 लक्ष्य तय किये हैं। उन्होंने इसके लिए ‘75 वर्ष , 75 लक्ष्य’ का नारा भी दिया। उन्होंने कहा कि जल संकट देश के सामने खड़ी बड़ी चुनौतियों में से एक है और इसके समाधान के लिए पार्टी जल शक्ति मंत्रालय बनायेगी। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...