भाजपा चाहती है ‘‘गूंगे-बहरे दलित’’ : उदित राज - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 7 मई 2019

भाजपा चाहती है ‘‘गूंगे-बहरे दलित’’ : उदित राज

bjp-wants-gunga-behra-dalit-udit-raj
पटना, सात मई, लोकसभा टिकट नहीं मिल पाने के कारण हाल में भाजपा छोड़ने वाले उदित राज ने आरोप लगाया है कि सत्तारूढ़ दल केवल ‘‘गूंगे-बहरे दलित’’ ही चाहता है। नरेन्द्र मोदी सरकार को ‘दलित विरोधी’ एवं ‘पिछड़ा वर्ग विरोधी’ करार देते हुए उदित राज ने कहा कि भाजपा ऐसे दलित चाहती है जो ‘गूंगे-बहरे’ हो। किंतु वह ऐसा दलित नेता नहीं चाहती जो अपनी आवाज उठा सके। भाजपा छोड़ने के बाद कांग्रेस में शामिल हुए उदित राज ने यहां कांग्रेस पार्टी कार्यालय में संवाददाताओं से कहा, ‘‘यदि दलित सम्मानित एवं गरिमापूर्ण जीवन जीना चाहते हैं तो उन्हें कांग्रेस, राजद एवं सहयोगियों को वोट देना चाहिए।’’  उन्होंने आरोप लगाया, ‘‘यदि कोई दलित भाजपा को वोट देता है तो वह अपनी भावी पीढ़ी के जीवन को खतरे में डाल लेगा।’’  उदित राज ने दावा कि भाजपा ने रामनाथ कोविंद को राष्ट्रपति पद पर इसलिए मनोनीत किया क्योंकि वह पार्टी में अपनी आवाज नहीं उठाते थे जबकि वह (उदित) संसद में सरकार के खिलाफ बोलते थे। उन्होंने आरोप लगाया कि बिहार की नीतीश कुमार सरकार उतनी ही दलित विरोधी है जितनी की केन्द्र की मोदी सरकार।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...