लोकसभा की 542 सीटों के लिये मतगणना आरंभ - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 23 मई 2019

लोकसभा की 542 सीटों के लिये मतगणना आरंभ

counting-of-vote-started
नयी दिल्ली 23 मई, लोकसभा चुनाव के लिए 542 संसदीय सीटों पर हुए सात दौर के मतदान के बाद बृहस्पतिवार को सुबह आठ बजे मतगणना आरंभ हो गयी। मतगणना के आधार पर चुनाव मैदान में डटे 8,000 से अधिक प्रत्याशियों की किस्मत का फैसला होगा। आयोग से प्राप्त जानकारी के अनुसार, मतदान वाली सभी लोकसभा सीटों के लिये बनाये गये मतगणना केन्द्रों पर मतों की गिनती का काम निर्धारित समय पर, सुबह आठ बजे शुरु हो गया। सात चरण की मतदान प्रक्रिया संपन्न होने के बाद मतदान में प्रयुक्त ईवीएम और वीवीपीएटी मशीनों को मतदान केन्द्रों से मतगणना स्थलों तक पहले ही सुरक्षित पहुंचाया जा चुका था।उल्लेखनीय है कि चुनाव आयोग ने 10 मार्च को लोकसभा की 543 सीटों के लिये चुनाव कार्यक्रम घोषित किया था। चुनाव प्रचार के दौरान तमिलनाडु की वेल्लोर लोकसभा सीट पर धन बल का अत्यधिक उपयोग किए जाने की शिकायतों के कारण आयोग ने इस सीट पर मतदान स्थगित कर दिया था। इस सीट पर चुनाव के लिए नयी तारीख का ऐलान नहीं हुआ है।चुनाव आयोग ने चुनाव परिणाम और मतगणना के रुझान की ताजा जानकारी के लिये ऑनलाइन सिस्टम भी तैयार किया है। इसके जरिये मतदाता आयोग की वेबसाइट, मोबइल एप और हेल्पलाइन के जरिये मतगणना के रुझान और चुनाव परिणाम से अवगत हो सकेंगे। 


आयोग ने देश में 4000 से अधिक मतगणना केन्द्र बनाये हैं। मतगणना केन्द्रों से प्रत्येक लोकसभा क्षेत्र के निर्वाचन अधिकारी ऑनलाइन सिस्टम के जरिये मतगणना के रुझानों को अपडेट करेंगे। इस बीच चुनाव आयोग ने चुनाव परिणाम घोषित होने में देर होने की आशंका से बचने के लिये इस बार डाक मतपत्रों और ईवीएम के मतों की गिनती एक साथ कराने का फैसला किया है। उल्लेखनीय है कि इस चुनाव में पंजीकृत 90.99 करोड़ मतदाताओं में से करीब 67.11 प्रतिशत लोगों ने अपने मताधिकार का प्रयोग किया है। भारतीय संसदीय चुनाव में यह अब तक का सर्वाधिक मतदान है। लोकसभा चुनाव में पहली बार इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीनों के परिणामों का मिलान पेपर ट्रेल मशीनों से निकलने वाली पर्चियों से किया जाएगा। यह मिलान प्रति विधानसभा क्षेत्र में पांच मतदान केंद्रों में होगा। चुनाव मैदान में किस्मत आजमा रहे प्रमुख नेताओं में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा विभिन्न केंद्रीय मंत्री, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी और सपा प्रमुख अखिलेश यादव सहित विभिन्न दलों के प्रमुख नेता शामिल हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...