सबसे सफल सलामी जोड़ी के रूप में विश्व कप में उतरेंगे रोहित और धवन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 19 मई 2019

सबसे सफल सलामी जोड़ी के रूप में विश्व कप में उतरेंगे रोहित और धवन

dhawan-rohit-best-opener-couple
नयी दिल्ली, 19 मई , सचिन तेंदुलकर और वीरेंद्र सहवाग के संन्यास लेने के बाद भारतीय शीर्ष क्रम में बल्लेबाजी की जिम्मेदारी बखूबी निभाने वाले रोहित शर्मा और शिखर धवन वर्तमान समय में दुनिया की सबसे सफल सलामी जोड़ी के रूप में विश्व कप में कदम रखेंगे। रोहित और धवन ने मिलकर अब तक 101 वनडे मैचों में साझेदार के तौर पर 4541 रन जोड़े हैं जो कि पिछले दस वर्षों में किसी भी सलामी जोड़ी का सर्वश्रेष्ठ रिकार्ड है। इन दोनों ने अब तक 15 शतकीय और 13 अर्धशतकीय साझेदारियां निभायी हैं। आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में खेले गये पिछले विश्व कप के बाद के आंकड़ों पर भी गौर करें तब भी रोहित और धवन विश्व भर की सलामी जोड़ियों के सामने अव्वल ही साबित होते हैं। भारतीय जोड़ी ने इन चार वर्षों में 60 मैचों में 2609 रन मिलकर बनाये जिसमें आठ शतकीय और सात अर्धशतकीय साझेदारियां शामिल हैं। इन चार वर्षों में सलामी बल्लेबाजों में सर्वाधिक रन रोहित के बल्ले से निकले। उन्होंने 71 मैचों में 61.12 की औसत से 3790 रन बनाये जिसमें 15 शतक और 16 अर्धशतक दर्ज हैं। धवन इस सूची में 67 मैचों में 2848 रन के साथ चौथे स्थान पर हैं। विश्व कप में भाग ले रहे सभी सलामी बल्लेबाजों के प्रदर्शन पर गौर करें तो वेस्टइंडीज के क्रिस गेल (9850 रन), दक्षिण अफ्रीका के हाशिम अमला (7880) और बांग्लादेश के तमीम इकबाल (6636) ने ओपनर के तौर पर रोहित (6043) से अधिक रन बनाये हैं लेकिन यह नहीं भूलना चाहिए कि भारतीय बल्लेबाज लंबे समय तक मध्यक्रम में अपनी भूमिका निभाता रहा। रोहित ने अब तक जो 206 वनडे खेले हैं उनमें से 103 मैचों में वह मध्यक्रम में उतरे। रोहित ने जनवरी 2013 से नियमित तौर पर सलामी बल्लेबाज की भूमिका निभायी और इसके बाद ओपनर के रूप में सर्वाधिक रन (6014) उन्हीं के नाम पर दर्ज हैं। उनके बाद दूसरे स्थान पर धवन (5286), अमला (4676), क्विंटन डिकाक (4493), मार्टिन गुप्टिल (4264) और आरोन फिेंच (4012) का नंबर आता है। ब्रिटेन में 30 मई से शुरू होने वाले क्रिकेट महाकुंभ में भाग ले रही अन्य देशों की सलामी जोड़ियों के पिछले विश्व कप के बाद के प्रदर्शन पर गौर करें तो रोहित और धवन के बाद दक्षिण अफ्रीका के अमला और डिकाक (2442 रन), इंग्लैंड के जॉनी बेयरस्टॉ और जैसन राय (1675), आस्ट्रेलिया के फिंच और डेविड वार्नर (1350), पाकिस्तान के फखर जमां और इमाम उल हक (1269) तथा बांग्लादेश के तमीम इकबाल और सौम्य सरकार (1155) ही इन चार वर्षों में मिलकर 1000 से अधिक रन बना पाये हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...