कोहली के आईपीएल कप्तानी रिकार्ड की भारत से तुलना न करें : गांगुली - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 14 मई 2019

कोहली के आईपीएल कप्तानी रिकार्ड की भारत से तुलना न करें : गांगुली

dont-compare-kohli-ipl-captaincy-ganguly
कोलकाता, 14 मई, पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली ने मंगलवार को कहा कि विराट कोहली की आईपीएल की कप्तानी का विश्व कप पर असर नहीं पड़ेगा क्योंकि एकदिवसीय कप्तान के रूप में उनका रिकार्ड अच्छा है।  गांगुली ने कहा कि कोहली के लिये सबसे बड़ा फायदा यह है कि उन्हें दो सफल कप्तानों महेंद्र सिंह धोनी और रोहित शर्मा का साथ मिलेगा।  रायल चैलेंजर्स बेंगलोर की आईपीएल में लगातार नाकामी से कोहली की नेतृत्वक्षमता पर सवाल उठाये जा रहे हैं लेकिन गांगुली ने कहा कि भारतीय कप्तानी पूरी तरह से भिन्न है।  गांगुली ने एक कार्यक्रम से इतर पीटीआई से कहा, ‘‘विराट कोहली की आईपीएल कप्तानी रिकार्ड की भारत के साथ तुलना मत करो। भारत के लिये उनका कप्तानी रिकार्ड बहुत अच्छा है। उनके साथ रोहित जैसा उप कप्तान है। धोनी टीम में है। इसलिए उन्हें अच्छा सहयोग मिलेगा।’’  इस 46 वर्षीय पूर्व क्रिकेटर का मानना है कि 30 मई से इंग्लैंड में शुरू होने वाले विश्व कप में हार्दिक पंड्या भारतीय अभियान में अहम भूमिका निभाएंगे।  उन्होंने कहा, ‘‘हार्दिक पंड्या अहम भूमिका निभाएंगे। वह बेहतरीन फार्म में है। भारत के लिये वह बहुत महत्वपूर्ण होगा। ’’  गांगुली ने सेमीफाइनल में पहुंचने वाली चार टीमों में भारत, आस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के अलावा पाकिस्तान को चुना।  उन्होंने कहा, ‘‘पाकिस्तान का इंग्लैंड में विश्व टूर्नामेंट में रिकार्ड उल्लेखनीय है। दो साल पहले उन्होंने चैंपियन्स ट्राफी जीती थी। उसने 2009 में विश्व टी20 भी इंग्लैंड में जीती थी। पाकिस्तान हमेशा इंग्लैंड में अच्छा खेलता रहा है। ’’  गांगुली ने हालांकि कहा कि कोहली की टीम को पाकिस्तान की चिंता करने की जरूरत नहीं है।  उन्होंने कहा, ‘‘मैं रिकार्ड में विश्वास नहीं करता। उस दिन दोनों टीमों को अच्छा प्रदर्शन करना होगा। भारत की टीम बहुत अच्छी है। उसे हराना बहुत मुश्किल होगा। जिस टीम में कोहली, रोहित और शिखर धवन जैसे खिलाड़ी हों उसे कमजोर नहीं कहा जा सकता है।’’ 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...