पूर्णिया : मानव सेवा के माध्यम से स्वयं सेवा ही सबसे बड़ा धर्म है : प्राचार्य - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 8 मई 2019

पूर्णिया : मानव सेवा के माध्यम से स्वयं सेवा ही सबसे बड़ा धर्म है : प्राचार्य

- कृषि महाविद्यालय ने विश्व रेडक्राॅस दिवस के अवसर पर एड्स के प्रति जागरूकता लाने के लिए किया चित्रकला प्रतियागिता का आयोजन
human-service-biggest-service
पूर्णिया (आर्यावर्त संवाददाता): भोला पासवान शास्त्री कृषि महाविद्यालय की राष्ट्रीय सेवा योजना इकाई एवं रेड रिबन क्लब के प्रभारी डाॅ पंकज कुमार यादव की देखरेख में विश्व रेडक्राॅस दिवस के मौके पर एड्स के प्रति जागरूकता लाने के लिए चित्रकला प्रतियागिता का आयोजन किया गया। कार्यक्रम की अध्यक्षता महाविद्यालय के सह अधिष्ठाता सह प्राचार्य डॉ पारसनाथ ने की। प्राचार्य ने कहा इस दिवस को मनाने का उद्धेश्य युवाओं में स्वयं सेवा की भावना पैदा करना है। जिसके माध्यम से असहाय एवं पीड़ित लोगों की समय पर मदद की जा सके। इस दिवस को आयोजित करने की शुरुआत महान मानवता सेवी हेनरी ड्यूनेंट जिनका जन्म 08 मई 1828 को हुआ था। इनके उत्कृष्ट कार्यों को ध्यान में रखते हुए संयुक्त राष्ट्र द्वारा वर्ष 1901 में पहला नोबेल शांति पुरस्कार प्रदान किया गया था। भारत में विभिन्न शिक्षण संस्थानों में रेड रिबन क्लब की स्थापना की गई। जिसका उद्धेश्य युवाओं में जागरुकता के माध्यम से एचआईवी, थैलेसिमिया, एनिमिया एवं कैंसर जैसी बीमारियों के बारे में जानकारी देना है। जिससे युवा बिना किसी भेदभाव के मदद कर सके। क्योंकि हम सभी का जीवन एक सफर है और इस सफर में कब किसे कहां किस बीमारी का सामना करना पड़े कोई नहीं जानता। उन्होंने कहा यदि हम जागरुक नहीं होंगे या हमारे पास जानकारी का अभाव होगा तो हम मदद करने से पीछे हट जाएंगे। वहीं इस मौके पर चित्रकला प्रतियागिता में भाग लेने वाले सभी छात्र छात्राओं के द्वारा एचआईवी एड्स विषय पर बनाए गए पोस्टर का मूल्यांकन प्राचार्य द्वारा गठित निर्णायक समित के सदस्यों डाॅ जनार्दन प्रसाद, डाॅ रवि केसरी, अनुपम कुमारी, डाॅ तपन गोराई द्वारा किया गया। जिसमें प्रथम, द्वितीय, तृतीय एवं सांत्वना पुरस्कार के लिए छात्र छात्राओं को चयनित किया गया। सभी सफल छात्र छात्राओं को 09 मई को महाविद्यालय में आयोजित होने वाले नव आगंतुक छात्रों के बैच 2018-19 के फ्रेसर्स पार्टी 2019 कार्यक्रम में अतिथियों द्वारा सम्मानित किया जाएगा। वहीं प्राचार्य द्वारा महाविद्यालय में 3 दिसंबर 2018 को आयोजित चतुर्थ स्वैच्छिक रक्तदान शिविर में भाग लेकर रक्तदान करने वाले छात्रों को ब्लड डोनर कार्ड एवं प्रमाण पत्र प्रदान किया गया। डाॅ पंकज कुमार यादव ने रेड रिबन क्लब की स्थापना, उद्देश्य, लक्ष्य एवं कार्यक्रम के बारे में छात्र छात्राओं को जानकारी दी। एड्स के कारण निवारण बचाव पर चर्चा करते हुए यह बताया कि यह एक प्रकार के वायरस के द्वारा फैलने वाली बीमारी है। जिसमें हमारे शरीर की प्रतिरक्षा या बीमारी से लड़ने वाली ताकत खत्म हो जाती है। इसके लिए निःशुल्क सलाह एवं जांच निकट के सरकारी स्वास्थ्य केंद्र में प्राप्त की जा सकती है। मौके पर सभी छात्र छात्राओं द्वारा एचआईवी एड्स से संबंधित भी जागरुकता के लिए बिहार एड्स नियंत्रण समिति पटना वितरित किया गया। आप सभी लोग प्रत्येक वर्ष एक बार रक्तदान जरूर करें। क्योंकि रक्तदान महादान है यह सिर्फ हमारे आपके शरीर में ही निर्मित होता है कृत्रिम रूप से रक्त को बनाया नहीं जा सकता है। इस मौके पर महाविद्यालय अन्य के वैज्ञानिक डाॅ जेएन श्रीवास्तव, डाॅ पंकज कुमार यादव, डाॅ अनिल कुमार, जेपी प्रसाद, डाॅ तपन गोराई के साथ महाविद्यालय के कर्मचारियाें की भी सहभागिता रही। इस मौके पर छात्राओं में अंकिता कुमारी, मोनी प्रिया, श्रीकुटि, आदिती, प्रिया, कंचन, संगीता एवं छात्रों में राहुल कुमार, सुधांशु अवनीश कुमार, संदीप कुमार, रवि कुमार रंजन, सुशील, बी कार्तिक, अक्षत, आकाश, दिपेश साह, अंकित आनंद, सोनू कुमार, मनिष कुमार, विष्णु कुमार, राघव गोयल, हिमाचल कुमार, अतशय वारिश, वसीम अख्तर, सचिन देव रमण, मो अफताब, मो आदिल अनवर, अमरकांत कुमार, पुष्कल, मनीष एवं अन्य 2018-19 बैच के सभी छात्र छात्राओं की सक्रिय सहभागिता रही। कार्यक्रम का संचालन 2018-19 बैच के छात्र उत्कर्स कश्यप उत्कर्स कश्यप तथा धन्यवाद ज्ञापन डाॅ पंकज कुमार यादव द्वारा किया गया। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...