बंगाल को ‘कंगाल’ कहने पर ममता ने की शाह की खिंचाई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 14 मई 2019

बंगाल को ‘कंगाल’ कहने पर ममता ने की शाह की खिंचाई

mamta-pulls-shah-out-when-bengal-is-called-poor
बज बज, 13 मई, पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री एवं तृणमूल कांग्रेस सुप्रीमो ममता बनर्जी ने सोमवार को भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के अध्यक्ष अमित शाह द्वारा बंगाल को ‘कंगाल’ कहने पर उनकी तीखी आलोचना करते हुए उन्हें ‘अर्द्ध शिक्षित’ और ‘कम जानकार’ करार दिया। सुश्री बनर्जी ने डायमंड हार्बर लोकसभा क्षेत्र में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि बंगाल का अपमान करने के लिए लोग भाजपा को जरूर सबक सिखायेंगे। उन्होंने कहा, “वह (श्री शाह) हमारे ऊपर ‘तोलाबाज़’ होने का आरोप लगाते हैं। वह कहते हैं कि ममता बनर्जी ने बंगाल को ‘कंगाल’ बना दिया है। क्या वह ‘कंगाल’ का अर्थ भी जानते हैं? उनकी इतनी हिम्मत? बंगाल के लोग उन्हें राज्य का अपमान करने का सबक सिखाएंगे। ये अर्द्ध शिक्षित, कम जानकार नेता बंगाल के बारे में कुछ नहीं जानते।” मुख्यमंत्री ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को देश के लिए सबसे बड़ा खतरा बताते हुए लोगों से उनकी हार सुनिश्चित करने की अपील की। उन्होंने कहा कि नेता आसमान से नहीं टपकते बल्कि लोगों के लिए काम करने से जमीनी स्तर पर एक नेता का निर्माण होता है। उन्होंने कहा,“मेरे परिवार में हरेक राजनीति में शामिल है लेकिन इनमें से कोई भी सार्वजनिक जीवन में नहीं है क्योंकि मैने कभी ऐसा नहीं चाहा। मेरे परिवार का केवल एक सदस्य सार्वजनिक जीवन में है लेकिन भाजपा को उससे भी ईर्ष्या है।” सुश्री बनर्जी ने सवालिया लहजे में कहा,“मोदी बाबू, अभिषेक बनर्जी (सुश्री बनर्जी के भतीजे) पर हमला करने से पहले, अपनी पत्नी के बारे में पता करें। क्या आपको पता भी है कि परिवार का मतलब क्या होता है?” तृणमूल प्रमुख ने आरोप लगाया, “भाजपा केवल दंगों पर आर्केस्ट्रा करती है। वे विभाजन की राजनीति करते हैं। मैं अपनी जान देने के लिए तैयार हूं, लेकिन कभी दंगे नहीं होने दूंगी।” 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...