मोदी ने चुनाव में नफरत का इस्तेमाल किया, हमने प्यार का : राहुल गांधी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 12 मई 2019

मोदी ने चुनाव में नफरत का इस्तेमाल किया, हमने प्यार का : राहुल गांधी

modi-hatred-politicss-rhul-gandhi
नयी दिल्ली, 12 मई, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने यहां लोकसभा चुनावों के लिए रविवार को मतदान करने के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा कि उन्होंने (मोदी) चुनावों के दौरान ‘‘नफरत का इस्तेमाल” किया जबकि कांग्रेस ने “प्यार अपनाया।”  राहुल ने कहा कि इस बार के चुनावों में दोनों प्रतिद्वंद्वी पार्टियों के बीच “अच्छी लड़ाई” देखने को मिली। उन्होंने साथ ही कहा कि उनके विचार में “जीत प्यार की होने वाली है।”  उन्होंने अपना वोट डालने के बाद संवाददाताओं से कहा, “प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने नफरत का इस्तेमाल किया, हमने (कांग्रेस ने) प्यार का। मेरे विचार से प्यार जीतेगा।”  नयी दिल्ली से कांग्रेस उम्मीदवार अजय माकन इस मौके पर राहुल गांधी के साथ थे । यह मतदान केंद्र उनके तुगलक रोड स्थित आवास से कुछ कदम की दूरी पर है। राहुल कुर्ता पजामा पहने हुए थे। गांधी ने कहा, “इन चुनावों में तीन चार मुद्दे हैं, ये कांग्रेस पार्टी के नहीं बल्कि लोगों के मुद्दे हैं। और इनमें से सबसे जरूरी रोजगार का मुद्दा है। उसके बाद, किसानों की हालत, नोटबंदी, गब्बर सिंह टैक्स (जीएसटी का मजाक उड़ाते हुए) हैं जिन्होंने भारत की ताकत और इसकी अर्थव्यवस्था को बर्बाद कर दिया।”  दिल्ली की सातों लोकसभा सीटों पर मतदान रविवार को हो रहा है। कांग्रेस प्रमुख ने कहा कि अब तक चुनावों में ‘‘अच्छी लड़ाई’’ रही है। यह पूछे जाने पर कि कांग्रेस कितनी सीटों पर जीतने वाली है, गांधी ने कहा, ‘‘मैं इस पर कोई टिप्पणी नहीं करूंगा। इसका फैसला जनता करेगी।’’  उन्होंने कहा, ‘‘जनता सर्वोपरि है। जनता जो आदेश देगी, हम स्वीकार करेंगे। हम कितनी सीटें जीतेंगे, इसका फैसला जनता करेगी... जय हिंद।’’  दिल्ली में भाजपा, कांग्रेस और आप के बीच त्रिकोणीय मुकाबला है। वर्ष 2014 आम चुनावों में राष्ट्रीय राजधानी की सातों सीटें भाजपा ने जीती थीं। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...