नरेन्द्र मोदी 30 मई को लेंगे प्रधानमंत्री पद एवं गोपनीयता की शपथ - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 26 मई 2019

नरेन्द्र मोदी 30 मई को लेंगे प्रधानमंत्री पद एवं गोपनीयता की शपथ

modi-take-oath-on-30th
नयी दिल्ली, 26 मई, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 30 मई को राष्ट्रपति भवन में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलाएंगे। यह उनका दूसरा कार्यकाल होगा। साथ ही, मंत्रिपरिषद के अन्य सदस्यों को भी पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलायी जाएगी। राष्ट्रपति भवन ने रविवार को यह जानकारी दी। राष्ट्रपति के प्रेस सचिव अशोक मलिक द्वारा जारी विज्ञप्ति में कहा गया है, ‘‘राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 30 मई को शाम 7 बजे राष्ट्रपति भवन में प्रधानमंत्री एवं मंत्रिपरिषद के अन्य सदस्यों को पद एवं गोपनीयता की शपथ दिलायेंगे। ’’  मोदी भाजपा के ऐसे पहले नेता हैं जिन्हें प्रधानमंत्री के रूप में पांच साल का अपना कार्यकाल पूरा करने के बाद दूसरी बार भी इस पद के लिए चुना गया है। साथ ही जवाहरलाल नेहरू और इंदिरा गांधी के बाद मोदी पूर्ण बहुमत के साथ लगातार दूसरी बार सत्ता के शिखर पर पहुंचने वाले तीसरे प्रधानमंत्री हैं ।

भाजपा से अटल बिहारी वाजपेयी भी लगातार दो कार्यकाल के लिए प्रधानमंत्री चुने गए थे लेकिन उनका पहला कार्यकाल सिर्फ एक साल सात महीने का रहा था।  मोदी के दूसरे कार्यकाल के मंत्रियों के नामों का अभी खुलासा नहीं हुआ है। हालांकि, मंत्रिपरिषद में कुछ नये सदस्यों को शामिल किए जाने की अटकलें हैं जिनमें पश्चिम बंगाल जैसे राज्यों से पार्टी के सांसद होंगे। इस राज्य में भाजपा ने शानदार जीत हासिल की है।  हालांकि, फिलहाल यह स्पष्ट नहीं है कि शपथ ग्रहण समारोह में विश्व के कुछ नेता भी शरीक होंगे या नहीं। दरअसल, 2014 के शपथ ग्रहण के दौरान मोदी ने पाकिस्तान के तत्कालीन प्रधानमंत्री नवाज शरीफ सहित दक्षेस देशों के नेताओं को आमंत्रित किया था। उस समारोह में विदेशी गणमान्य लोगों सहित करीब 2,000 लोगों को आमंत्रित किया गया था।  इस लोकसभा चुनाव में मोदी की प्रचंड जीत पर पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान, अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप, चीनी राष्ट्रपति शी चिनफिंग और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन सहित कई वैश्विक नेताओं ने उन्हें बधाई दी है। 

गौरतलब है कि राष्ट्रपति ने भाजपा और राजग संसदीय दल का सर्वसम्मति से नेता चुने गए नरेन्द्र मोदी को शनिवार को प्रधानमंत्री नामित करते हुए केंद्र में नयी सरकार बनाने का न्यौता दिया था। भारतीय जनता पार्टी :भाजपा: और इसकी अगुवाई वाली राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) की ओर से मोदी को सर्वसम्मति से नेता चुने जाने के बाद वह (मोदी) सरकार बनाने का दावा पेश करने शनिवार रात राष्ट्रपति भवन गए थे। साथ ही, शनिवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह के नेतृत्व में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन : राजग : के प्रतिनिधिमंडल ने राष्ट्रपति भवन में राष्ट्रपति से मुलाकात की थी। इस प्रतिनिधिमंडल में प्रकाश सिंह बादल, राजनाथ सिंह, नीतीश कुमार, रामविलास पासवान, सुषमा स्वराज, उद्धव ठाकरे, नितिन गडकरी, के पलानीसामी, कोनराड संगमा और नेफियू रियो शामिल थे। शिष्टमंडल ने एक पत्र राष्ट्रपति को सौंपा गया जिसमें कहा गया है कि नरेन्द्र मोदी को भाजपा संसदीय दल का नेता चुन लिया गया है। राजग के घटक दलों के समर्थन वाले पत्र भी राष्ट्रपति को सौंपे गए थे । गौरतलब है कि निवर्तमान मंत्रिपरिषद के मंत्रियों ने शुक्रवार रात कोविंद को अपना इस्तीफा सौंप दिया था ।  543 सदस्यीय लोकसभा के लिये हाल ही में हुए चुनाव में भाजपा नीत राजग के 353 सांसद निर्वाचित हुए हैं। इनमें भाजपा के 303 सांसद हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...