बेगुसराय : अपराधियों ने किया दिन-दहाड़े एक व्यवसायी की हत्या - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 28 मई 2019

बेगुसराय : अपराधियों ने किया दिन-दहाड़े एक व्यवसायी की हत्या

murder-in-begusaray
अरुण कुमार (आर्यावर्त) रंगदारी नहीं देने पर वीरपुर बाजार से किराना व्यवसायी व मोतिहारी में पदस्थापित चिकित्सक के पिता पृथ्वी चौधरी का अपहरण मंगलवार को दोपहर में बाइक सवार नकाबपोश बदमाश ने कर लिया।घटना की सूचना मिलते ही वीरपुर थानाध्यक्ष वरुण कुमार व पुलिस ने नाकेबंदी करते हुए घटनास्थल पर पहुँच कर जानकारी ली।साथ ही एसपी अवकाश कुमार को सूचना दी।इसके बाद एसपी ने आसपास के थाना को अलर्ट करते हुए नाकेबंदी का निर्देश दिया।एसपी अवकाश कुमार स्वयं घटनास्थल पर दलबल के साथ पहुँच चुके हैं।इस बीच पुलिस को जानकारी मिली कि वीरपुर के आसपास में ही पृथ्वी चौधरी की हत्या कर शव को फेक दिया गया है।पुलिस ने शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए बेगूसराय सदर अस्पताल भेज दिया है।बताया जाता है कि अपहरण के कुछ देर बाद ही गोली मारकर उनकी हत्या की गई है। इधर,एसपी अवकाश कुमार द्वारा गठित स्पेशल टास्क फोर्स अपहरणकर्ताओं की खोज में लगी हुई है।एसपी अवकाश कुमार स्वयं छापेमारी का नेतृत्व कर रहे हैं।सूत्रों की माने तो पुलिस अपराधियों के ठिकानो का नाकाबंदी कर चुकी है। दूसरी ओर पुलिस को बाजार बंद कर रहे आक्रोशित लोगों को शांत कराने व सड़क जाम को हटाने के लिए जद्दोजहद करनी पड़ रही है।क्योंकि अपहरण के बाद हत्या कर देने से लोगों का आक्रोश थमने का नाम नहीं ले रहा है।बताया जाता है कि आज दोपहर करीब साढ़े 12 बजे में पृथ्वी चौधरी अपने किराना दुकान पर बैठे थे।इसी बीच दो मोटर साइकिल पर सवार चार नकाबपोश अपराधी वहाँ पहुँचे मोटर साइकिल से उतर कर सीधे उनके दुकान में घुस गए और पिस्टल की नोक पर कब्जे में लेकर मोटर साइकिल पर बैठाया और हवाई फायरिंग करते हुए बाजार से उत्तर दिशा की ओर भाग निकला।बताया जाता है कि आधे दर्जन अपराधी घटना के वक्त आसपास में मंडरा रहे थे।अपहरणकर्ताओं ने गल्ले से रुपये लूटे या नहीं इसका खुलासा अभी नहीं हुआ है।चर्चा है कि किराना दुकानदार को इससे पहले रंगदारी के रुपये देने को कहा गया था।रंगदारी नहीं देने पर जान से मारने की धमकी दी गई थी।घटना के बाद पूूूरे परिवार में कोहराम मचा हुआ है।अबतक पुलिस ने दो अपराधियों को गिरफ्तार करने में सफलता पा चुकी है,बाकी अपराधियों को भी जल्द ही गिरफ्तार कर लिया जाएगा।ऐसा एएसपी अवकाश कुमार ने आश्वस्त किया है।जब दो अपराधकर्मी पुलिस के गिरफ्त में आ चुका है तो बाकी बचकर जाएगा कहाँ।एक कहावत है न कि बकरे की माँ आखिर कबतक खैर मनाएगी बकरों के लिये।पुलिस के हाथ बड़े लंबे होते हैं।पुलिसप्रशासन यदि मन से चाह ले तो कोई भी अपराधकर्मी बाख नहीं सकताआ है।अब देखना है कि पुलिसप्रशासन इस मामले में आगे क्या करती है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...