विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 11 मई - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 11 मई 2019

विदिशा (मध्यप्रदेश) की खबर 11 मई

लोकतंत्र के इस महापर्व में बढ़ चढ़कर हिस्सा लें की अपील

कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री कौशलेन्द्र सिंह ने जिले के सभी मतदाताओं से अपील की है कि लोकतंत्र के इस महापर्व में बढ़ चढ़कर हिस्सा लें। उन्होंने लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 में जिले के सभी मतदाता अपने मतों का निर्भीक होकर मतदान करें का आव्हान करते हुए कहा हैै कि प्रजातंत्र में जो मतदान का मौलिक अधिकार प्राप्त है उसका उपयोग अवश्य करें।  उन्होंने 12 मई को मतदान केन्द्र पर पहुंचकर मतदान अवश्य करने का आव्हान करते हुए कहा कि जिले में सर्वाधिक मतदान के प्रतिशत को हासिल कर हम मतदाताबंधु जिले को देश स्तर पर गौरवान्वित करने का सहभागी बनें।  कलेक्टर श्री सिंह ने मतदाताओं से अपील करते हुए कहा है कि निर्वाचन आयोग द्वारा मतदान केन्द्रों पर जो-जो व्यवस्थाओं की पूर्ति के संबंध में निर्देश दिए गए है का अक्षरशः क्रियान्वयन किया गया है। मतदाताबंधु मतदान के दौरान उन व्यवस्थाओ का भी परीक्षण करें। उन्होंने कहा कि जिले में 22 ऐसे मतदान केन्द्र है जिनका समुचित संचालन महिला मतदान दलो के अधिकारियों के द्वारा किया जाएगा वही क्यूलेस मतदान केन्द्रों की संख्या 33 है जबकि एक मतदान केन्द्र का संचालन दिव्यांग मतदान दलो के अधिकारियों के द्वारा कर समाज में यह संकेत देेने का प्रयास किया जा रहा है कि हम किसी से कम नही है। उन्होंने बताया कि जिले में 19 माॅडल पोलिंग बूथ भी बनाए गए है। कलेक्टर श्री सिंह ने जिले के मतदाताओं से पुनः आग्रह करते हुए अपने मत का उपयोग अनिवार्यतः मतदान केन्द्र पर पहुंचकर करने की अपील की गई है।  

मतदान सामग्री प्राप्त कर मतदान केन्द्रों पर पहुंचे मतदानकर्मी

vidisha news
लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 के लिए मतदान 12 मई की प्रातः सात बजे से शुरू होगा जो सायं छह बजे तक जारी रहेगा। विदिशा जिले की पांचो विधानसभाओं मंे मतदान प्रक्रिया को सम्पादित कराने हेतु नियुक्त मतदान दलों के अधिकारियों ने आज नियत स्थलों से निर्वाचन सामग्री प्राप्ति के उपरांत मतदान केन्द्रों पर पहुंचने की ओके रिपोर्ट जिला कार्यालय को सेक्टर आफीसर के माध्यम से प्राप्त हो रही है।  गौरतलब हो कि विदिशा जिले की पांच विधानसभाएं दो ससंदीय क्षेत्रों में विभक्त है तदानुसार लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र 05 सागर के अंतर्गत जिले की विधानसभा क्रमशः कुरवाई, सिरोंज, शमशाबाद तथा लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र क्रमांक 18 विदिशा-रायसेन के अंतर्गत जिले की विदिशा एवं बासौदा विधानसभा क्षेत्र शामिल है। विदिशा जिला मुख्यालय पर एसएटीआई इंजीनियरिंग काॅलेज के प्रागंण में विदिशा एवं शमशाबाद विधानसभा क्षेत्र के मतदान दलों को निर्वाचन सामग्री वितरण का कार्य आज प्रातः छह बजे से शुरू हुआ और दोपहर 11 बजे तक सभी मतदान दलों के अधिकारी निर्वाचन सामग्री सहित नियत मतदान केन्द्रों की ओर वाहनों के निर्धारित रूटचार्ट अनुसार मतदान केन्द्रों में पहुंचने के उपरांत ओके रिपोर्ट प्रेषित करने का कार्य उनके द्वारा किया गया है।  ज्ञातव्य हो कि बासौदा विधानसभा क्षेत्र के मतदान दलों को निर्वाचन सामग्री शासकीय संजय गांधी स्मृति महाविद्यालय बासौदा से, कुरवाई विधानसभा क्षेत्र के मतदान दलों को शासकीय उत्कृष्ट विद्यालय कुरवाई से तथा सिरोंज विधानसभा क्षेत्र के मतदान दलो को पाॅलिटेक्निक काॅलेज लटेरी रोड़ सिरोंज से प्रदाय की गई है। 

कलेक्टर ने मतदान केन्द्रों पर पहुंचकर संवाद स्थापित किया

लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 के लिए निर्वाचन सामग्री प्रदाय के उपरांत मतदानकर्मी नियत मतदान केन्द्रों पर पहुंचे है कि नही का जायजा कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह के द्वारा स्वंय मतदान केन्द्रों में पहुंचकर लिया गया।  कलेक्टर श्री सिंह ने बासौदा, कुरवाई एवं सिरोंज विधानसभा क्षेत्र के अनेक मतदान केन्द्रों में पहुंचकर मतदान दलों के अधिकारियों से संवाद स्थापित कर निर्वाचन कैसे कराएंगे, क्या-क्या सावधानी बरतेंगे, क्या-क्या जानकारियां समय अंतराल में आयोग अथवा जिला निर्वाचन कार्यालय को प्रेषित की जानी है के संबंध में चर्चा कर हासिल की गई है।  कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सिंह ने भ्रमण के दौरान प्रत्येक मतदान केन्द्र पर मतदान दलों के अधिकारियों को आश्वस्त कराया कि निर्भीक होकर मतदान प्रक्रिया को सम्पादित कराएं। निर्वाचन आयोग द्वारा जो नियम जारी किए गए है का ही पालन करें।  कलेक्टर श्री सिंह ने वास्तविक मतदान के पहले माॅकपोल पर विशेष जोर देते हुए कहा कि माॅकपोल प्रक्रिया संबंधी कार्यवाही समय सीमा में निर्धारित मतों का प्रयोग कर की जाए। माॅकपोल के उपरांत ही प्रातः सात बजे से वास्तविक मतदान अनिवार्यतः शुरू किया जाए। माॅकपोल के दौरान की गई प्रक्रिया संबंधी जानकारी निर्धारित प्रपत्रों में आयोग एवं जिला निर्वाचन कार्यालय को अवगत कराने के निर्देश उनके द्वारा दिए गए है। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री सिंह ने मतदान दलों के अधिकारियों का हौंसला अफजाई करते हुए कहा कि निर्भीक होकर पूरी मतदान प्रक्रिया सम्पादित कराएं। आयोग के दिशा निर्देशो के अक्षरशः पालन करें। कही कोई दिक्कत आती है तो अविलम्ब सेक्टर आफीसर की जानकारी में लाएं। यदि ऐसी समस्या जो सेक्टर आफीसर स्तर पर निदान नही हो सकी है उन समस्याओं का एआरओ के संज्ञान में अवश्य मंें लाएं।  कलेक्टर श्री सिंह के साथ उप जिला निर्वाचन अधिकारी श्री लोकेन्द्र सरल के अलावा स्थानीय एसडीएम/एआरओ के अलावा अन्य विभागों के अधिकारी भी साथ मौजूद थे। 

दिव्यांग मतदान दल द्वारा संचालित होगा मतदान केन्द्र 

लोकसभा निर्वाचन 2019 के दौरान विदिशा जिले में निर्वाचन आयोग की मंशा के अनुरूप माॅडल, क्यूलेस, पीडब्ल्यूडी एवं वूमन (महिला प्रबंधकीय) पोलिंग बूथ संचालित करने हेतु संबंधित मतदान दलों के अधिकारियों को आवश्यक जबावदेंही सौंपी गई है।  विदिशा जिले का एक मात्र दिव्यांग पोलिंग बूथ क्रमांक 103 नगर विदिशा सात जिला परिवहन अधिकारी कार्यालय उत्तरीखण्ड में स्थित है। उक्त मतदान केन्द्र का समुचित संचालन मतदान तिथि 12 मई को दिव्यांग मतदान दलों के अधिकारिेयों द्वारा किया जाएगा। उक्त मतदान केन्द्र हेतु जिन दिव्यंागजनांें को निर्वाचन प्रक्रिया सम्पादित कराने का दायित्व सौंेपा गया है उनके द्वारा आज एसएटीआई इंजीनियरिंग काॅलेज के प्रागंण से प्रातः छह बजे निर्वाचन सामग्री प्राप्त की गई है और निर्धारित रूट वाहन के माध्यम से मतदान केन्द्र पर पहुंचने की ओके रिपोर्ट संबंधितों के माध्यम से प्रेषित की गई है।  दिव्यांगजनों के द्वारा संचालित मतदान केन्द्र क्रमांक 103 के पीओ श्री नारायण प्रसाद चैधरी ने बताया कि मतदान केन्द्र पर कुल 1191 मतदाता है जिसमें पुरूष 603 तथा महिला 508 शामिल है। उक्त मतदान केन्द्र पर तृतीय लिंग के अलावा सर्विस वोटरों की संख्या नगण्य है। मतदान प्रक्रिया को सुव्यवस्थित रूप से सम्पन्न कराने हेतु पीओ के साथ जिन दिव्यांगजनों को दायित्व सौंपा गया है उनमें पी-1 हेतु महेश श्रीवास्तव, पी-2 अमरेश कुमार सिंह तथा पी-3 का दायित्व लक्ष्मण सिंह जाट को सौंपा गया है। 

जिले के 75 मतदान केन्द्रों पर पृथक-पृथक व्यवस्थाओं का क्रियान्वयन

लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 के दौरान विदिशा जिले में 75 मतदान केन्द्र ऐसे है जहां पृथक-पृथक व्यवस्था सुनिश्चित की गई है जिले में 19 माॅडल पोलिंग बूथ केन्द्र बनाए गए है जबकि 33 मतदान केन्द्र क्यूलेंस वही आॅल वूमन (महिला प्रबंधकीय) के द्वारा 22 मतदान केन्द्रों का संचालन किया जाएगा। इसके अलावा जिला मुख्यालय पर एक मतदान केन्द्र दिव्यांग मतदान दल कर्मी के द्वारा संचालित किया जाएगा। 

बिना लाइन में लगे वोट डाल सकेंगे दिव्यांग मतदाता

लोकसभा चुनाव-2019 में अधिक से अधिक दिव्यांग मतदाता अपने मताधिकार का उपयोग कर सकें इसके लिए निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार जिले में विशेष व्यवस्थायें की जा रही हैं। दिव्यांग मतदाताओं के लिए प्रत्येक मतदान केन्द्र में जहां रैम्प बनाये गये हैं, वहीं मतदान केन्द्रों पर व्हीलचेयर अथवा ट्राइसाइकिल की उपलब्धता सुनिश्चित की जा रही है। प्रत्येक मतदान केन्द्र पर दिव्यांग मतदाताओं की सहायता के लिए स्थानीय स्वयंसेवी युवाओं को दिव्यांग मित्र नियुक्त किया जायेगा।   कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने बताया कि दिव्यांग मतदाताओं को मतदान में किसी तरह की असुविधा न हो इसके लिए उन्हें विशेष छूट देते हुए तीन पहिया वाहन सीधे मतदान कक्ष तक जाने की अनुमति दी जायेगी। दिव्यांग मतदाताओं को बिना कतार में लगे सीधे मतदान करने की अनुमति भी होगी। मतदान केन्द्रों पर तैनात किये जा रहे मतदान कर्मियों को भी मतदान में दिव्यांगों की सहायता के निर्देश दिये गये हैं। ऐसे मतदाता जिनके पास दिव्यांग मतदाता वाली पर्ची होगी उसे मतदान कक्ष तक ले जाने के निर्देश मतदान कर्मियों को दिये गये हैं। इसी प्रकार ऐसे मतदान केन्द्रों जहां दिव्यांग मतदाताओं की संख्या अधिक है वहां दिव्यांग मतदाताओं को मतदान केन्द्र तक आने-जाने के लिए वाहन सुविधा भी उपलब्ध कराई जायेगी। दिव्यांग मतदाताओं के अलावा निर्वाचन आयोग के निर्देशानुसार बुजुर्ग मतदाताओं और गर्भवती मतदाताओं के लिए भी विशेष व्यवस्थायें की गई हैं। ऐसे मतदाता भी बिना लाइन में लगे सीधे मतदान कर सकेंगे। 

माकपोल के बाद होगा वास्तविक मतदान

 लोकसभा निर्वाचन 2019 के लिए विदिशा जिले में मतदान 12 मई को होगा। निर्वाचन आयोग द्वारा मतदान का समय प्रातः सात बजें से शाम छह बजे तक का नियत किया गया है। मतदान प्रक्रिया में इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीनों व्हीव्हीपैट का उपयोग किया जाएगा।  कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री कौशलेन्द्र विक्रम सिंह ने समस्त मतदान दलों के अधिकारियों को निर्देश दिए है कि वास्तविक मतदान प्रारंभ होने से पहले माकपोल यानी दिखावटी मतदान कराया जाना अनिवार्य है। इस संबंध में जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मतदान दल के सदस्य मतदान प्रारंभ होने से एक घण्टा पूर्व माकपोल कराएंगे। माकपोल कराने के समय की सूचना मतदान के पूर्व सभी मतदान एजेण्टों को दे दी गई है। एजेण्टों की उपस्थिति में ही माकपोल कराया जाएगा। यदि एजेण्ट निर्धारित समय पर उपस्थित नही होते हैं तो भी माकपोल की कार्यवाही की जाएगी और माॅकपोल सम्पन्न होने की सूचनाएं सेक्टर आफीसर अपने-अपने कार्यक्षेत्रों के मतदान केन्द्रों से प्राप्त कर जिला निर्वाचन कार्यालय को प्रेषित करेंगे। 

मतदान के लिए पहचान हेतु 12 दस्तावेज मान्य

भारत निर्वाचन आयोग द्वारा लोकसभा निर्वाचन में मतदान केन्द्र पर पहचान के लिये 12 दस्तावेजों का निर्धारण किया गया है। मतदाता को अपनी मतदाता पर्ची के साथ इन निर्धारित दस्तावेजों में से कोई एक दस्तावेज मतदान केन्द्र पर पहचान के रूप में ले जाना अनिवार्य है।   कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि आयोग द्वारा मतदाता पहचान पत्र, पासपोर्ट, ड्रायविंग लायसेंस, केन्द्र, राज्य, सार्वजनिक उपक्रम और पब्लिक लिमिटेड कंपनियों द्वारा जारी सर्विस पहचान पत्र, फोटो सहित बैंकध्डाक घर द्वारा जारी पासबुक, पैन कार्ड, श्रम मंत्रालय की योजना के अंतर्गत स्मार्ट कार्ड और स्वास्थ्य बीमा स्मार्ट कार्ड, मनरेगा जॉब कार्ड, फोटो सहित पेंशन दस्तावेज, सांसद, विधायक और विधान परिषद सदस्यों को जारी सरकारी पहचान पत्र और आधार कार्ड को मतदाता की पहचान के लिये निर्धारित किया गया है। 

जिले के 1321 मतदान केन्द्रों पर पौने दस लाख से अधिक मतदाता मतदान करेंगे आज

लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 के लिए मतदान आज 12 मई की प्रातः सात बजे से शुरू होगा जो सायं छह बजे तक का समय नियत किया गया है। विदिशा जिले के नौ लाख 85 हजार 865 मतदाता 1321 मतदान केन्द्रों पर मतदान करेंगे।  जिला निर्वाचन कार्यालय से प्राप्त जानकारी के अनुसार लोकसभा निर्वाचन क्षेत्र 05 सागर में विदिशा जिले की तीन विधानसभाएं क्रमशः कुरवाई, सिरोंज एवं शमशाबाद शामिल है। उक्त तीनों विधानसभाओं के कुल 585122 मतदाता 792 मतदान केन्द्रों पर अपने मतो का प्रयोग करेंगे। कुल मतदाताओं में पुरूष 311438 तथा महिला मतदाताओं की संख्या 273679 तथा अन्य पांच शामिल है। संसदीय क्षेत्र 18 विदिशा-रायसेन के अंतर्गत जिले की दो विधानसभा क्रमशः 144 विदिशा एवं 145 बासौदा शामिल है। उक्त संसदीय क्षेत्र के लिए उल्लेखित दोनो विधानसभाओं के कुल 400735 मतदाता अपने मतो का प्रयोग 529 मतदान केन्द्रों पर करेंगे। कुल मतदाताओें में पुरूष 210594, महिला मतदाता 190141 तथा अन्य छह शामिल है। 

मतदान केन्द्रों पर तमाम व्यवस्थाओं की पूर्ति

लोकसभा सामान्य निर्वाचन 2019 हेतु मतदान 12 मई को नियत समयावधि में होगा। विदिशा जिले के सभी 1321 मतदान केन्द्रों पर निर्वाचन आयोग द्वारा जारी गाइड लाइन, आदेशो के अनुरूप तमाम प्रबंध प्रत्येक मतदान केन्द्र पर पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित किए गए है।  कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी श्री कौशलेन्द्र विक्रम ंिसह ने बताया कि निर्वाचन आयोग के दिशा निर्देशानुसार प्रत्येक मतदान केन्द्र पर मतदाताओं के लिए जो बुनियादी सुविधाएं मुहैया कराई गई है उनमें छाया, बैठक व्यवस्था, पानी पिलाने हेतु कर्मचारी की तैनाती सुनिश्चित की गई है इसके अलावा प्रत्येक मतदान केन्द्र में शौचालय की भी व्यवस्था की गई है। कलेक्टर श्री सिंह ने बताया कि प्रत्येक मतदान केन्द्र पर गर्मी को ध्यानगत रखते हुए स्वास्थ्य सुविधाओं का भी पुख्ता प्रबंध सुनिश्चित किया गया है। मतदाताओं को ग्रीष्मकाल के दौरान किसी भी प्रकार की असुविधा ना हो का विशेष ध्यान रखा गया है। दिव्यांग मतदाता सुगमता से मतदान केन्द्र में पहुंच सकें इसके लिए एप के माध्यम से पंजीकृत दिव्यांगजनों को निर्धारित सुविधाएं प्रदाय की जायगी। प्रत्येक मतदान केन्द्र पर एक-एक रेम्प का भी निर्माण कराया गया है।  प्रत्येक मतदान केन्द्र पर बिजली की आपूर्ति सतत बनी रहे इसके लिए मध्यप्रदेश मध्य क्षेत्र विद्युत वितरण कंपनी लिमिटेड के अधीक्षण यंत्री श्री जोस के पुजांत ने बताया कि प्रत्येक मतदान केन्द्र के लिए एक-एक लाइनमैन तैनात किया गया है। विकासखण्ड स्तरों पर जेई, एसडीओ के अलावा यदि कही किसी भी प्रकार से ट्रांसफार्मरों फेल होने अथवा क्षति होने की सूचनाएं प्राप्त होती है तो एक घंटे से भी कम अवधि में ट्रांसफार्मर बदलने की कार्यवाही की जाएगी। इसके लिए वाहनों में पहले से ट्रांसफार्मर रखवाए गए है और बकायदा बदलने हेतु कर्मचारियों की नाम दर्ज ड्यूटी लगाई गई है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...