दिल्ली-मुंबई हाइवे से युवाओं को मिलेगा रोजगार : गडकरी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 4 मई 2019

दिल्ली-मुंबई हाइवे से युवाओं को मिलेगा रोजगार : गडकरी

will-get-jobs-from-delhi-mumbai-highway-gadkari
बीकानेर 04 मई, केंद्रीय सड़क, परिवहन एवं राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने कहा है कि उनके मंत्रालय द्वारा बनाये जा रहे दिल्ली-मुम्बई बारह लेन एक्सप्रेस हाईवे का काम ईमानदारी के साथ किया जा रहा है और इससे राजस्थान के वनवासी क्षेत्र के युवाओं को रोजगार मिलेगा। बीकानेर संसदीय सीट पर चुनाव प्रचार के आखिरी दिन रविंद्र रंगमंच पर विजय संकल्प संवाद कार्यक्रम में बोलते हुए श्री गडकरी ने कहा कि विशेष रुप से राजस्थान, गुजरात के बेकवर्ड एरिया के लिए दिल्ली-मुम्बई एक्सप्रेस हाईवे प्रदेश के सवाई माधोपुर, अलवर, जालौर, बड़ोदरा, रतलाम होकर मुम्बई जाएगा। उन्होंने कहा कि इसमें ईमानदारी से कार्य किया जा रहा है, इससे प्रदेश के ही वनवासी क्षेत्र के युवाओं को न केवल रोजगार मिलेगा बल्कि 120 किलोमीटर की दूरी भी कम होगी। उन्होंने कहा कि पंडित जवाहरलाल नेहरु, इंदिरा गांधी, राजीव गांधी, सोनिया गांधी एवं मनमोहन सिंह के नेतृत्व में बनी सरकारों ने गरीबी हटाने का वादा किया लेकिन आज तक भी गरीबी नहीं मिटी और अब राहुल गांधी गरीबी मिटाने के नाम पर 72 हजार रुपए प्रतिवर्ष युवाओं को देने की बात कह रहे हैं। उन्होंने कहा कि इतने वर्षों तक लोगों को गुमराह किया गया देश में। उन्होंने कहा कि देश में पैसे की कोई कमी नहीं है, केन्द्र सरकार का बजट एक तरफ और उनके मंत्रालय का बजट एक तरफ। उन्होंने कहा कि जो बोला वह करके दिखाया गया।

उन्होंने कहा कि कहा कि देश में पहली बार गंगा में 26 हजार करोड़ के काम किए गए। आज से पहले इतने करोड़ों के काम गंगा के नाम पर नहीं हुए। उन्होंने कहा कि वर्तमान में हम 40 उपनदियों पर काम कर रहे हैं। दिल्ली में पांच हजार करोड़ के 13 प्रोजेक्ट जिसमें यमुना, मथुरा, हिमाचल प्रदेश, आगरा, इटावा, इलाहाबाद, कानपुर, वाराणसी में भी काम किए। साथ ही सुंदर घाट भी बनाए गए हैं। तब जाकर गंगा में अविरलता दिखाई दी है। इस दौरान गंदे नाले रोक दिए गए तब जाकर गंगा का पानी शुद्ध हुआ है। श्री गडकरी ने कहा कि अगले मार्च तक सौ प्रतिशत काम पूरा करेंगे और सौ प्रतिशत गंगा को शुद्ध करेंगे। उन्होंने आरोप लगाया कि 1984 में राजीव गांधी ने भी गंगा को शुद्ध करने पर काम शुरु किया था, लेकिन कुछ नहीं हुआ। वर्ष-2014 में नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में सरकार आयी तब अविरल और निर्मल गंगा बनने पर काम हुआ। उन्होंने कहा कि श्री मोदी में किसी प्रकार का घमण्ड नहीं है। न ही वे झूठ बोलते हैं, सिर्फ काम करते हैं। इस मौके उन्होंने कहा कि अर्जुन मेघवाल जीते, तो बीकानेर में डबल डेकर स्काई बस चलाएंगे, जिसमें 260 लोगों के बैठने की क्षमता होगी। उन्होंने उदाहरण दिया कि वह दावोस गए, फिर आस्ट्रिया जहां विश्व की सबसे बड़ी कम्पनी से बातचीत की है जो 28 टैक्नोलोजी से यहां कार्य करेगी और डबल डेकर आकाश में उड़ने वाली स्काई बस चलाके दिखाएंगे, यह नितिन गडकरी का वचन है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...