पूर्णिया : खुश्कीबाग में आम व लीची के पत्तों का सड़कों पर लगा अंबार, चलना हुआ दूभर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 9 जून 2019

पूर्णिया : खुश्कीबाग में आम व लीची के पत्तों का सड़कों पर लगा अंबार, चलना हुआ दूभर

- कारोबारी फल व सब्जी के मलवे को फेंक देते है सड़कों पर
khushki-bagh-market-purnia
पूर्णिया (आर्यावर्त संवाददाता) : खुश्कीबाग में फल और सब्जी का थोक कारोबार होता है। इन दिनों आम और लीची का मौसमी फल का कारोबार चल रहा है। लेकिन यह आम और लीची का कारोबार लोगों के लिए मुसीबत बन गया है। कटिहार मोड़ से लेकर रेलवे ओवरब्रिज के निचे और हाट तक सड़क के दोनों तरफ लीची और आम का दुकानें सजी हुई है। लेकिन यह मौसमी फल का दुकानों के कारण लोगों को रास्ते से चलना मुश्किल हो गया है। कटिहार मोड़ से लेकर हाट और रेलवे ओवरब्रिज के नीचे सड़क के दोनों तरफ लीची का पत्ता और सड़े गले आम का मलवा पसरा हुआ है। समय पर साफ सफाई नहीं होने के कारण यह मलवा सड़क तक फैल गया है। यहां तक कि मलवा सड़ गल जाने के कारण पूरे क्षेत्र में दुर्गंध फैला रहा है। लोग नाक व मुंह बंद कर रास्ते से गुजरते हैं। इस रास्ते से नेता और अधिकारियों का गुजरना होता है लेकिन कचरा और अव्यवस्था के तरफ किसी का भी नजर नहीं पड़ता है। 

...कारोबारी फल व सब्जी के मलवे को फेंक देते है सड़कों पर :
खुश्कीबाग में हर रोज आम, लीची व अन्य फल व सब्जी का करीब पांच क्विंटल से अधिक मलवा निकलता है। कचरा निष्पादन व उठाव का कोई ठोस प्रबंध नहीं होनें से कारोबारी इन मलवे को सड़क किनारे ही फेंक देते हैं। इस मलवा को आवारा जानवर चारा बनाने के क्रम में इधर उधर बिखेर देते है। जिस कारण मलवा सड़क तक पहुंच जाता है। यहां तक कि कारोबारी सड़क के साथ कटिहार मोड़ के पास नदी में भी मलवा फेंक देते है। जिस कारण नदी में नाला का पानी निकास बंद हो गया है।

...मलवा के कारण हर रोज होती है सड़क दुर्घटना :
खुश्कीबाग क्षेत्र में फल व सब्जी का मलवा सड़क पर ही फेंक देने से लोग सड़क दुर्घटना के शिकार हो रहे हैं। वाहन चालक मलवा से बचने के लिए इधर उधर भागने लगते हैं जिस कारण पैदल यात्री वाहन की चपेट में आ जाते हैं और घायल हो जाते हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...