दुमका : बेहतर सुविधाएँ व सेवाएँ प्राप्त हों, इसके लिये बनाएँ विस्तृत योजनाएँः डीडीसी वरुण रंजन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 9 जून 2019

दुमका : बेहतर सुविधाएँ व सेवाएँ प्राप्त हों, इसके लिये बनाएँ विस्तृत योजनाएँः डीडीसी वरुण रंजन

श्रावणी मेला के अवसर पर उप राजधानी दुमका के बासुकीनाथ धाम सहित तमाम धर्मस्थलों, तीर्थस्थलों, पूजास्थलों में व्यवस्था दुरुस्त बनाए रखने के उद्देष्य से वरीय पदाधिकारियों के साथ की गई बैठक 
prepration-for-shrawani-mela-dumka
दुमका (अमरेन्द्र सुमन) डीडीसी, दुमका की गोपनीय शाखा में दिन रविवार को राजकीय श्रावणी मेला 2019 की तैयारियों से संबंधित एक समीक्षात्मक बैठक आयोजित की गई। यह बैठक डीडीसी वरुण रंजन की अध्यक्षता मंे आयोजित थी।  बैठक में डीडीसी वरुण रंजन ने कहा कि श्रावणी मेला के दौरान विभिन्न देशों के विभिन्न हिस्सों से बड़ी संख्या में श्रद्धालु पहुँचते हैं ऐसे में मेले के दौरान श्रद्धालुओं के लिए अपने-अपने विभाग द्वारा की जाने वाली व्यवस्थाओं की विस्तृत योजना बनाएँ। इस बात का ध्यान रखा जाय कि पिछले वर्ष की तुलना में इस वर्ष श्रद्धालुओं को बेहतर सुविधायें दी जा सके। श्रद्धालुओं के विश्राम की पूरी व्यवस्था व प्रयाप्त प्रबंधन मौजद रहे। श्रद्धालुओं के लिए 1, 500 शैय्या वाले टेंट सिटी का निर्माण, सूचना सहायता केन्द्र, आवश्यक सुविधाओं से सम्पन्न अस्पताल, ऐंबुलेंस, चिकित्सक, पारा मेडिकल सुविधायें उपलब्ध हो। नये प्रखंड कार्यालय के पास पुलिस के कर्मियों के लिए 400 शैय्या वाले टेंट सिटी, दर्शनिया टीकर के पास 250 शैय्या वाले टेंट सिटी एवं हंसडीहा में 150 शैय्या वाले टेंट सिटी का निर्माण किया जाय। श्रद्धालुओं के लिए विश्राम स्थल पर पेयजल, शौचालय, पर्याप्त विद्युत व्यवस्था, मोबाइल चार्जिंग प्वाइंट एवं अन्य जरूरी सुविधाएं उपलब्ध हो। उन्होंने संबंधित विभाग को निदेष दिया कि पूरे मेला क्षेत्र में पर्याप्त मात्रा में साइनेज लगाए जाएंगे ताकि श्रद्धालुओं को किसी प्रकार की परेशानी ना हो। उन्होंने संबधित विभाग को निदेष दिया कि पूरे मेला क्षेत्र में बेहतर लाइटिंग की व्यवस्था की जाए। कोई भी पहुंच पथ अंधकार में नहीं रहे इसका विशेष ध्यान रखा जाय। उन्होंने कहा कि इस वर्ष प्रसाद के लिए अलग से काउंटर बनाए जाए जहां अलग-अलग दर के प्रसाद के पैकेट श्रद्धालुओं के लिए उपलब्ध हो। उन्होंने निर्देश दिया कि बासुकीनाथ धाम स्थित सभी दुकान, होटल एवं धर्मशाला में डस्टबिन अवष्य रखे जाय, इसे सुनिश्चित करें। उन्होंने दुमका से बासुकीनाथ के पथ की मरम्मती के लिए संबंधित अधिकारी को निर्देश दिया। साथ ही कहा कि जितने भी कांवरिया रूट लाइन हैं उसकी बेहतर ढंग से साफ-सफाई रंग रोगन का कार्य किया जाए एवं सभी यात्री शेड में शौचालय की व्यवस्था रहे इसे सुनिश्चित करें। उन्होंने संबंधित अधिकारी को निदेष दिया कि शिवगंगा के चारों ओर तथा संस्कार मंडप में आयरन बैरिकेडिंग की जाय। मेला क्षेत्र में पार्किंग की बेहतर व्यवस्था रहे। उन्होंने निदेष दिया कि पूरे मेला क्षेत्र में प्रर्याप्त मात्रा में सीसीटीवी कैमरे लगाए जाए। उन्होंने श्रावणी मेला में कार्यरत सभी विभाग के अधिकारियों को निदेष दिया कि अपने-अपने विभाग से संबंधित निविदा की प्रक्रिया को जल्द से जल्द पूरी करना सुनिष्चित करें। इस अवसर पर अनुमंडल पदाधिकारी राकेष कुमार, उप निदेषक जनसम्पर्क शालिनी वर्मा, जिला योजना पदाधिकारी अरुण द्विवेदी, प्रखंड विकास पदाधिकारी जरमंुडी, नगर परिषद बासुकिनाथ के कार्यापालक अभियंता सहित संबंधित विभाग के अधिकारी उपस्थित थे। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...