मंत्रिमंडल ने 13 कानूनों को मिलाकर एक संहिता बनाने के विधेयक को मंजूरी दी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 10 जुलाई 2019

मंत्रिमंडल ने 13 कानूनों को मिलाकर एक संहिता बनाने के विधेयक को मंजूरी दी

13-law-become-one-by-cabinet
नयी दिल्ली, 10 जुलाई, केंद्रीय मंत्रिमंडल ने काम की जगह पर श्रमिकों को शारीरिक क्षति से बचाव, स्वास्थ्य और कार्य की दशाओं से जुड़े 13 केंद्रीय श्रम कानूनों को मिलाकर एक संहिता बनाने से जुड़े विधेयक को बुधवार को मंजूरी दी।  पर्यावरण और सूचना एवं प्रसारण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने मंत्रिमंडल के इस निर्णय की संवाददाताओं को जानकारी दी। यह संहिता उन प्रतिष्ठानों पर लागू होगा 10 या उससे अधिक कर्मचारी कार्यरत हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अध्यक्षता में मंत्रिमंडल की बैठक के बाद जारी जारी अधिकारिक विज्ञप्ति के अनुसार काम पर सुरक्षा, स्वास्थ्य और कामकाजी स्थिति विधेयक, 2019 पर प्रस्तावित संहिता से कानूनी संरक्षण में आने वाले कर्मचारियों का दायरा कई गुना बढ़ेगा।  प्रस्तावित संहिता से कर्मचारियों का दायरा कई गुना बढ़ेगा क्योंकि यह उन सभी प्रतिष्ठानों पर लागू होगा जहां 10 या उससे अधिक कर्मचारी कार्यरत हैं। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...