पूर्णिया : प्रधानमंत्री मातृत्व सुरक्षा अभियान के तहत लगाया गया शिविर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 9 जुलाई 2019

पूर्णिया : प्रधानमंत्री मातृत्व सुरक्षा अभियान के तहत लगाया गया शिविर

camp-in-purnia-for-pm-matritw
पूर्णिया (आर्यावर्त संवाददाता) : प्रधानमंत्री मातृत्व सुरक्षा अभियान के तहत डाॅ अनुराधा सिन्हा ने 250 गर्भवती महिलाओं की मुफ्त उपचार की और आवश्यक सलाह भी दी गई। यह शिविर प्रत्येक माह के नौ तारीख को लगाया जाता है। उसी के तहत मंगलवार को स्थानीय केनगर प्रखंड के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में लगाया गया। इस शिविर में गर्भवती महिलाओं को देख कर मुफ्त में दवा भी दी जाती है। केनगर प्रखंड के प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र प्रभारी डॉ एसपी झा ने बताया कि प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान महिलाओं को समर्पित अभियान है। जिसकी शुरुआत जून 2016 में की गई थी। इस अभियान के तहत गरीब और जरूरतमंद गर्भवती महिलाओं के स्वास्थ्य की देखभाल और बच्चे को जन्म देते समय मां की होने वाली मौतों की संख्या को कम करना है। इस अभियान के तहत पीएम नरेंद्र मोदी ने देशभर के डॉक्टरों से अनुरोध किया है कि वे हर महीने की 9 तारीख को गरीब गर्भवती महिलाओं की फ्री जांच करें। इसी के तहत पूर्णिया सहयोग नर्सिंग होम की डाॅ अनुराधा सिन्हा ने अपने क्लिनिक से समय निकाल कर प्रत्येक माह के नौ तारीख को गर्भवती महिलाओं की मुफ्त जांच करने के लिए आती है। जिससे गरीब और जरूरतमंद प्रेग्नेंट महिलाएं को काफी लाभ मिलता है। इधर डाॅ अनुराधा सिन्हा ने बताया कि जब प्रधानमंत्री ने सभी प्राइवेट चिकित्सकों से अपील की थी कि प्रत्येक माह के नौ तारीख को गर्भवती महिलाओं ईलाज के लिए अपना भागीदारी सुनिश्चित करें। तब जाकर हमने निश्चय किया कि प्रत्येक माह को गर्भवती महिलाओं की मुफ्त के लिए समय देंगे। इस व्यवस्था में एएनएम अनिता सिंह, लवली कुमारी, ममता कुमारी, निशा कुमारी, पुष्पा कुमारी एवं रीता सिंह का सराहनीय योगदान रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...