दीक्षांत समारोह में छात्रों से बोले पीएम मोदी, जहां भी रहें भारत को याद रखें - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 30 सितंबर 2019

दीक्षांत समारोह में छात्रों से बोले पीएम मोदी, जहां भी रहें भारत को याद रखें

always-remember-india-said-modi
चेन्नई (आर्यावर्त संवाददाता) प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज चेन्नई दौरे पर हैं। वह आईआईटी मद्रास में आयोजित कई कार्यक्रमों में आज हिस्सा ले रहे हैं। पीएम मोदी ने आईआईटी मद्रास पहुंचकर वहां आयोजित सिंगापुर-भारत हैकथॉन 2019 में भाग लिया। इसके बाद पीएम मोदी आईआईटी के 56वें दीक्षांत समारोह में शामिल हुए। इस दौरान पीएम ने छात्रों को संबोधित भी किया। पीएम ने युवाओं को अपनी मातृभूमि भारत से जुड़े रहने की अपील की। पीएम मोदी भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी) मद्रास के 56वें वार्षिक दीक्षांत समारोह में पहुंचे।आईआईटी मद्रास के 56वें दीक्षांत समारोह में पीएम मोदी ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा, 'मैं अभी अमेरिका से लौटा हूं। इस यात्रा के दौरान, मैं बहुत से राष्ट्राध्यक्षों, नवप्रवर्तकों और निवेशकों से मिला।हमारी चर्चाओं में एक बात कॉमन थी, वह था नए भारत के बारे में हमारा दृष्टिकोण और भारत के युवाओं की क्षमताओं पर विश्वास। पीएम ने तमिलनाडु की भाषा का जिक्र करते हुए कहा कि यहां पहाड़ चलते हैं और नदियां स्थिर होती हैं। हम तमिलनाडु में हैं, जिसे एक विशेष गौरव प्राप्त है, यह दुनिया की सबसे पुरानी भाषा का घर है और यह भारत में सबसे नई भाषा में से एक है, आईआईटी-मद्रास लिंगो।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...