त्योहारी मौसम में खपत बढ़ने से पटरी पर लौटेगी आर्थिक गतिविधियां: सीतारमण - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 27 सितंबर 2019

त्योहारी मौसम में खपत बढ़ने से पटरी पर लौटेगी आर्थिक गतिविधियां: सीतारमण

festive-season-will-improve-economy-sitharaman
नयी दिल्ली, 26 सितंबर, वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने आर्थिक सुस्ती बढ़ने की चर्चा के बीच बृहस्पतिवार को कहा कि स्थिति सुधर रही है। चीजें आगे बढ़ रही हैं। त्योहारी मौसम में खपत बढ़ने के साथ दूसरी छमाही में आर्थिक गतिविधियों के पटरी पर लौटने की उम्मीद है।  सीतारमण ने निजी क्षेत्र के बैंकरों, वित्तीय संस्थानों के साथ यहां हुई बैठक के बाद कहा, "मैंने किसी से नकदी की समस्या होने के बारे में नहीं सुना है।" अर्थव्यवस्था में सुस्ती के लिये बाजार में नकदी की तंगी को बड़ी अड़चन माना जा रहा है।  वित्त मंत्री ने निजी क्षेत्र के बैंकरों के हवाले से कहा कि वाणिज्यिक वाहनों की बिक्री में गिरावट चक्रीय है। धारणा की वजह से यात्री वाहनों की बिक्री कम हुई है।  उन्होंने कहा कि सस्ते मकानों की योजना के लिए ऋण की अच्छी मांग है। बैंकरों ने इसकी सीमा 45 लाख रुपये से बढ़ाकर 50 लाख रुपये करने की मांग की है।  बैठक के बाद वित्त सचिव ने कहा कि ऋण देने के लिए निजी क्षेत्र के बैंक भी सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के साथ 400 जिलों में खुले में बैठकर रिण वितरण कार्यक्रम से जुड़ेंगे। इसके तहत 250 जिलों में पहले चरण का संपर्क अभियान तीन से सात अक्टूबर 2019 तक आयोजित होगा।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...