ऑड-ईवन केजरीवाल की गुमराह करने वाली योजना : शर्मिष्ठा मुखर्जी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 20 सितंबर 2019

ऑड-ईवन केजरीवाल की गुमराह करने वाली योजना : शर्मिष्ठा मुखर्जी

kejriwal-odd-even-fraud-mukherjee
नयी दिल्ली, 19 सितम्बर, कांग्रेस ने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल की ऑड-ईवन योजना को गुमराह करने वाला करार देते हुए गुरुवार को कहा कि जब तक लोगों को सार्वजनिक परिवहन की बेहतर सुविधा उपलब्ध नहीं करायी जाएगी तब तक प्रदूषण में कमी नहीं आ सकती। कांग्रेस प्रवक्ता शर्मिष्ठा मुखर्जी ने गुरुवार को यहां पार्टी मुख्यालय में संवाददाता सम्मेलन में कहा कि श्री केजरीवाल दावा कर रहे हैं कि उनकी ऑड ईवन योजना दिल्ली में प्रदूषण मुक्ति के लिए अत्यंत प्रभावशाली साबित हुई है तो उन्हें यह भी बताना चाहिए कि यदि यह इतना ही सशक्त योजना थी तो लागू करने के बाद इसे फिर दो साल तक बंद क्यों किया गया। उन्होंने कहा कि ऑड-ईवन के नाम पर वह लोगों को सिर्फ गुमराह कर रहे हैं। प्रदूषण मुक्ति के लिए उनका यह तरीका अगर बहुत कारगर होता तो इसको लेकर वह वाही वाही लूटने में देर नहीं करते। किसी भी डाटा से साबित नहीं हुआ है कि ऑड ईवन योजना प्रदूषण के लिए सफल रही है। प्रवक्ता ने श्री केजरीवाल पर दिल्ली की परिवहन व्यवस्था को चौपट करने का आरोप लगाया और कहा कि कांग्रेस की सरकार के समय दिल्ली में पांच हजार डीटीसी की बसें थी जो आज घटकर 3700 रह गयी हैं। दिल्ली को जरूरत 11 हजार बसों की है और कलस्टर को मिलाकर चल रही है सिर्फ पांच हजार। इस सरकार ने एक भी बस नहीं खरीदी है। मेट्रो का दो बार भाड़ा बढाया इसलिए यात्री संख्या बढ गयी। उन्होंने कहा कि श्री केजरीवाल मुफ्त में बिजली पानी देने की बात करते हैं तो राज्य सरकार को मिलने वाली निधि का सारा पैसा इसी में जाता है इसलिए नयी बसें आदि नहीं खरीदी जा सकती। वह पूरी तरह से गुमराह करने में लगे है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...