वैश्विक कारकों से प्रभावित हो रहा भारत का विकास : विश्व बैंक - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 27 अक्तूबर 2019

वैश्विक कारकों से प्रभावित हो रहा भारत का विकास : विश्व बैंक

ndia-s-development-being-affected-by-global-factors-world-bank
नयी दिल्ली 26 अक्टूबर, विश्व बैंक के अध्यक्ष डेविड मालपास ने शनिवार को यहां कहा कि वैश्विक कारकों से भारतीय अर्थव्यवस्था प्रभावित हो रही है लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा निर्धारित पांच लाख करोड़ डॉलर की अर्थव्यवस्था का लक्ष्य बहुत ही शक्तिशाली दृष्टिकोण है।भारत के दौरे पर आये श्री मालपास ने प्रधानमंत्री और वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से भेंट करने के बाद यहां संवाददाताओं से कहा कि भारत ने तेजी से सुधार को आगे बढ़ाया है जिससे सरल कारोबारी वाले देशों की सूची में इसकी रैकिंग में उल्लेखनीय सुधार हुआ है और यह अभी 63वें पायदान पर है। उन्होंने कहा कि कुछ क्षेत्र है जिसमें सुधार की जरूरत है और इसमें सुधार होने से भारत की रैंकिंग और बेहतर हो जायेगी। उन्होंने जिला स्तर पर व्यावसायिक अदालतें बनाये जाने की बात कहते हुये कहा कि कारोबार से जुड़े मामलों के निपटान में तेजी आनी चाहिए।उन्होंने कहा कि भारतीय वित्तीय क्षेत्र ने संपदा निगरानी के मामले में बेहतर प्रगति किया है और दिवालियपन प्रक्रिया से बैंकिंग तंत्र में अधिक सुधार होने की उम्मीद है। उन्होंने कहा कि भारत में बाँड बाजार को प्रोत्साहित करने की जरूरत है ताकि निवेश बढ़ेगा। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...