पहले दिन रात्रि के टेस्ट पर बोले गांगुली यह मेरा काम है, इसीलिये मैं यहां हूं, - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 29 अक्तूबर 2019

पहले दिन रात्रि के टेस्ट पर बोले गांगुली यह मेरा काम है, इसीलिये मैं यहां हूं,

this-is-my-work-said-ganguly
कोलकाता, 29 अक्टूबर, बीसीसीआई अध्यक्ष सौरव गांगुली ने मंगलवार को कहा कि भारत में पहला दिन रात्रि का टेस्ट कराने का ऐतिहासिक फैसला ‘सामान्य समझ’ के आधार पर किया गया हैक्योंकि क्रिकेट के पारंपरिक प्रारूप के प्रति दर्शकों की रूचि फिर जगाने का यही तरीका है ।  बांग्लादेश के खिलाफ भारत का पहला दिन रात्रि का टेस्ट 22 से 26 नवंबर तक ईडन गार्डन पर खेला जायेगा । बांग्लादेश का भी यह पहला दिन रात्रि का टेस्ट है ।  गांगुली ने कहा कि उन्हें खुशी है कि भारतीय कप्तान विराट कोहली और बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड भी इतने कम समय में इसके लिये तैयार हो गया है । उन्होंने कहा ,‘‘ यह मेरा काम है और मैं इसी के लिये यहां हूं । मैने लंबे समय तक खेला है । मेरा मानना है कि आम समझ महत्वपूर्ण है । यह टेस्ट क्रिकेट के लिये अच्छा होगा और उम्मीद है कि दर्शक मैदान पर आयेंगे ।’’  गांगुली ने कहा ,‘‘ टेस्ट क्रिकेट को इसकी जरूरत है । मैं और सचिव जय और हमारी नयी टीम यह करना चाहती ही थी । विराट को भी धन्यवाद जो तुरंत तैयार हो गया । बांग्लादेश क्रिकेट बोर्ड का शुक्रिया जो इतने कम समय में इसके लिये तैयार हुआ ।’’  उन्होंने कहा ,‘‘ चीजें ऐसे ही बदलती है । यह उपमहाद्वीप में टेस्ट क्रिकेट के लिये अच्छी शुरूआत है । हमारे इरादे नेक हैं । इसमें कोई दिक्कत नहीं आनी चाहिये । सब कुछ ठीक ही होगा ।’’  पूर्व कप्तान ने यह भी कहा कि बीसीसीआई ड्यूक्स या कूकाबूरा की जगह एसजी टेस्ट गुलाबी गेंद का ही इस्तेमाल करेगा । 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...