विधायकों को 25 से 50 करोड़ रुपये देने की हो रही पेशकश : कांग्रेस - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 8 नवंबर 2019

विधायकों को 25 से 50 करोड़ रुपये देने की हो रही पेशकश : कांग्रेस

congress-blame-horse-trading-in-maharashtra
मुंबई, आठ नवंबर, कांग्रेस नेता विजय वडेट्टीवार ने शुक्रवार को आरोप लगाया कि महाराष्ट्र में पार्टी बदलने के लिए विधायकों को ‘‘25 करोड़ रुपये से लेकर 50 करोड़ रुपये’’ तक देने की पेशकश की जा रही है। उन्होंने दावा किया कि कांग्रेस विधायकों को भी इस तरह के प्रस्तावों के साथ फोन पर संपर्क किया गया है। निवर्तमान विधानसभा में विपक्ष के नेता ने कहा कि शिवसेना ने दावा किया है कि उनके एक विधायक को पार्टी बदलने के लिए 50 करोड़ रुपये की पेशकश की गई थी। उन्होंने पत्रकारों से कहा, “हमारे विधायकों से भी संपर्क किया जा रहा है। विधायकों को 25 से 50 करोड़ रुपये की पेशकश कर लुभाने की कोशिश की जा रही है।”  वडेट्टीवार ने कहा, “हमने अपने विधायकों को ऐसी कॉल रिकॉर्ड करने के लिए कहा है ताकि जनता उनके बारे में जान सके।’’  कांग्रेस नेता ने भाजपा पर राजनीति का स्तर गिराने का आरोप लगाया। भाजपा ने इन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया कि वह दूसरी पार्टी के विधायकों को लुभाने के प्रयास कर रही है। वडेट्टीवार ने कांग्रेस विधायकों को जयपुर स्थानांतरित किए जाने संबंधी खबरों का खंडन किया है। उन्होंने कहा, “कुछ विधायक चुनाव में कड़ी मेहनत के बाद आराम करने गए होंगे।”  वडेट्टीवार ने शुक्रवार को विधायकों की बैठक से पहले अपने आवास पर संवाददाताओं से बात की। विधानसभा चुनावों में 105 सीट जीत कर भाजपा सबसे बड़ी पार्टी के रूप में उभरी है। भाजपा की सहयोगी शिवसेना 56 सीटों के साथ दूसरे स्थान पर काबिज रही। दोनों पार्टियों ने अब तक एक साथ या अलग से सरकार बनाने का दावा नहीं किया है। ‘महायुति’ के तौर पर चुनाव लड़ने वाले दोनों दल 24 अक्टूबर को चुनाव नतीजे आने के बाद से ही मुख्यमंत्री पद के बंटवारे पर जोर दे रहे हैं।  राकांपा और कांग्रेस ने 288 सदस्यीय विधानसभा के चुनाव में क्रमश: 54 और 44 सीटें जीतीं। बहुमत के लिए आंकड़ा 145 सीटों का है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...