गोगोई ने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव और डीजीपी को तलब किया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 8 नवंबर 2019

गोगोई ने उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव और डीजीपी को तलब किया

gogoi-summoned-the-chief-secretary-and-dgp-of-uttar-pradesh
नयी दिल्ली 08 नवंबर, अयोध्या में श्रीरामजन्मभूमि मामले में जल्द ही फैसला आने के मद्देनज़र देश के प्रधान न्यायाधीश रंजन गोगोई ने आज पूर्वाह्ल यहां उत्तर प्रदेश के मुख्य सचिव राजेन्द्र कुमार तिवारी और पुलिस महानिदेशक ओ पी सिंह को बुलाकर राज्य की कानून व्यवस्था की जानकारी ली।उच्चतम न्यायालय परिसर में मुख्य न्यायाधीश के चैंबर में श्री गोगोई के साथ इन अधिकारियों की बैठक में फैसला सुनाने वाली पीठ के चारों न्यायाधीश और राज्य सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।बताया गया है कि श्री गोगोई ने राज्य की कानून व्यवस्था के बारे में अधिकारियों से विस्तार से जानकारी ली। अयोध्या के विवादित स्थल पर कब्ज़े को लेकर उच्चतम न्यायालय में मुख्य न्यायाधीश की अध्यक्षता वाली संविधान पीठ ने 17 अक्टूबर को सुनवाई पूरी कर ली थी और अगले सप्ताह इस बहुचर्चित मामले का बहुप्रतीक्षित फैसला आने की संभावना है।इस फैसले के पहले अखिल भारतीय संत समिति, राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ और विश्व हिन्दू परिषद ने आश्वासन दिया है कि वे फैसले को जय पराजय अथवा हिन्दु मुसलमान के सांप्रदायिक रूप में नहीं लेंगे और ना ही किसी को चिढ़ाने या भड़काने वाले बयान देंगे। मुस्लिम समाज की ओर से ऑल इंडिया मुस्लिम पर्सनल लॉ बोर्ड, सुन्नी वक्फ़ बोर्ड आदि ने भी न्यायालय के फैसले का पूरा सम्मान करने का वचन दिया है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...