भारत ने आतंकवाद, अलगाववाद के पीछे के बड़े कारण को नष्ट कर दिया : मोदी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 2 नवंबर 2019

भारत ने आतंकवाद, अलगाववाद के पीछे के बड़े कारण को नष्ट कर दिया : मोदी

india-distroy-terorisam-resion-modi
बैंकाक, दो नवंबर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जम्मू-कश्मीर में अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधान निरस्त करने और उसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित करने के फैसले का स्पष्ट संकेत करते हुए शनिवार को यहां कहा कि भारत ने आतंकवाद एवं अलगाववाद के पीछे के एक बड़े कारण को नष्ट कर दिया है। मोदी ने यहां भारतीय मूल के लोगों को संबोधित करते हुए कहा कि उनकी सरकार उन लक्ष्यों को पूरा करने की दिशा में काम कर रही है जो असंभव प्रतीत होते थे। उन्होंने कहा, ‘‘आप जानते हैं कि भारत ने आतंकवाद एवं अलगाववाद के बीज बोए जाने के पीछे के एक बड़े कारण से छुटकारा पाने का फैसला किया है।’’  मोदी ने ‘स्वस्ति पीएम मोदी’ कार्यक्रम में कहा, ‘‘ जब फैसला सही होता है तो इसकी गूंज पूरी दुनिया में सुनाई देती है।’’  मोदी ने जब अनुच्छेद 370 के संबंध में सरकार के उठाए कदम का जिक्र किया तो लोगों ने खड़े होकर तालियां बजाईं। उन्होंने कहा कि ये तालियां भारत की संसद और उनके सांसदों के लिए हैं। मोदी ने कहा कि जो काम करके दिखाते हैं, उनसे लोगों की अपेक्षाएं भी अधिक होती हैं। प्रधानमंत्री ने करतारपुर गलियारा खोले जाने का भी जिक्र किया और कहा कि अब श्रद्धालु आजादी से करतारपुर साहिब जा सकेंगे। उन्होंने अपने भाषण में उज्ज्वला योजना समेत सरकार की उपलब्धियों को रेखांकित किया। मोदी ने कहा कि भारत में पिछले पांच साल में हुए बदलावों की वजह से जनता ने इस बार उनकी सरकार को और बड़ा जनादेश दिया। उन्होंने कहा कि भारत पांच हजार अरब डॉलर की अर्थव्यवस्था बनने के लिए प्रतिबद्ध है और इस दिशा में कड़ी मेहनत कर रहा है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...