भारत और जर्मनी के बीच 17 समझौतों पर हुए हस्ताक्षर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 1 नवंबर 2019

भारत और जर्मनी के बीच 17 समझौतों पर हुए हस्ताक्षर

india-germany-17-tie-up
नयी दिल्ली, एक नवंबर, भारत और जर्मनी के बीच कृषि, समुद्री प्रौद्योगिकी, आयुर्वेद और योग समेत अन्य क्षेत्रों में 17 समझौतों पर हस्ताक्षर हुए।  विदेश मंत्रालय ने एक बयान में बताया कि भारत और जर्मनी के बीच पांच संयुक्त आशय पत्र साझा किए गए। इसमें कहा गया है कि संयुक्त आशय पत्रों में सामरिक परियोजनाओं पर सहयोग, शहर में हरित क्षेत्र बढ़ाने के लिए भागीदारी, कृत्रिम बुद्धिमत्ता पर अनुसंधान और विकास तथा समुद्र में कचरे को रोकने में सहयोग शामिल हैं। भारत की दो दिवसीय यात्रा पर आयी जर्मन चांसलर एंजेला मर्केल ने कहा कि ये समझौते साबित करते हैं कि दोनों देशों के बीच संबंध नये और उन्नत तकनीक के क्षेत्र की ओर बढ़ रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘‘बड़ी बुनियादी ढांचा परियोजनाओं में शामिल होकर हमें खुशी होगी जिन पर भारत विचार कर रहा है।’’  बयान में कहा गया है कि वैज्ञानिक और प्रौद्योगिकी अनुसंधान सहयोग, आयुर्वेद में अकादमिक गठबंधन, योग और ध्यान के क्षेत्र में भी समझौतों पर हस्ताक्षर किए गए हैं। कहा गया है कि व्यावसायिक रोग, निशक्तता वाले बीमाकृत व्यक्तियों तथा कर्मियों के पुनर्वास और व्यावसायिक प्रशिक्षण के क्षेत्र में भी एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए गए हैं। अंतर्देशीय, तटीय तथा समुद्री प्रौद्योगिकी में सहयोग पर भी समझौते पर हस्ताक्षर किए गए हैं।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...