शिव सेना को सरकार बनाने का दिया न्योता - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 10 नवंबर 2019

शिव सेना को सरकार बनाने का दिया न्योता

invited-shiva-sena-form-government
मुंबई 10 नवंबर, महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने भारतीय जनता पार्टी की ओर से सरकार बनाने से असमर्थता जाहिर करने के बाद शिव सेना को सरकार बनाने का न्योता दिया है।श्री कोश्यारी ने भाजपा के बाद दूसरी सबसे बड़ी पार्टी होने के नाते शिव सेना को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया है।राज्यपाल कार्यालय के अधिकारियों के अनुसार शिव सेना को सोमवार शाम साढ़े सात बजे तक सरकार गठन के बारे में को राज्यपाल को बताना है।नये घटनाक्रम के बाद अब गेंद राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के पाले में है। सरकार बनाने के लिए शिव सेना को राज्यपाल का निमंत्रण मिलने के बाद राकांपा ने कहा कि वह अपने अगले कदमों के बारे में विचार करेगी।इस बीच श्री मल्लिकार्जुन खड़गे और कांग्रेस के अन्य वरिष्ठ नेताओं ने सोमवार से पार्टी अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात करने का फैसला किया है।इससे पहले आज शाम भाजपा ने महाराष्ट्र में सरकार बनाने में असमर्थता व्यक्त की।भाजपा के प्रदेश प्रभारी चंद्रकांत पाटिल ने पत्रकारों से कहा“ इस समय हम सरकार नहीं बना सकते हैं।”उन्होंने कहा कि अगर शिव सेना चाहे तो वह महाराष्ट्र में कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी(राकांपा) के साथ मिलकर सरकार बना सकती है।उन्होंने कहा“ भाजपा और शिव सेना ने महागठबंधन के बैनर तले एक साथ मिलकर चुनाव लड़ा था लेकिन शिव सेना हमारे साथ नहीं आना चाहती है और उसने जनादेश के साथ विश्वासघात किया है। हमने पहले ही राज्यपाल को बता दिया है कि हम सरकार नहीं बना सकते हैं। अगर शिव सेना कांग्रेस और राकांपा के साथ मिलकर सरकार बनाना चाहती है तो हमारी तरफ से उन्हें शुभकामनाएं।”इसके कुछ देर बाद शिव सेना के विरष्ठ नेता संजय राउत ने कहा,“ किसी भी तरह महाराष्ट्र में शिव सेना का ही मुख्यमंत्री होगा। ” इस बीच राकांपा ने कहा कि वह राज्य में स्थिर सरकार का समर्थन करेगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...