झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 07 नवंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 7 नवंबर 2019

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 07 नवंबर

कल्याणपुरा में कॉंग्रेस ने निकाली आभार रैली  हुई सभा
कल्यानपुरा क्षेत्र का विकास करना पहली प्राथमिकता - विधायक कांतिलाल भूरिया
jhabua news
झाबुआ। उपचुनाव में प्रचंड जीत दर्ज करवाने के बाद आज कॉंग्रेस पार्टी द्वारा आभार रैली का आयोजन किया गया रैली में नवनिर्वाचित विधायक कांतिलाल भूरिया ने हाथ जोड़कर जनता का अभिवादन किया आभार रेली मे डीजे की धुन पर कार्यकर्ता जनकर थिरके ओर उत्साह के साथ अपने नेता का स्वागत किया ।  रैली नगर भृमण करने बाद पुराना बस स्टैंड पहुची जहाँ पर सभा का आयोजन किया गया सभा को सम्बोधित करते हुए नव निर्वाचित विधायक कांतिलाल भूरिया ने कहा कि कल्यानपुरा छेत्र को 15 वर्ष से भजपा वोट बैंक के रूप में उपयोग कर रही है पर आज तक इस छेत्र को भाजपा ने कुछ नही दिया है आखिर कब तक लूटते असलियत तो जनता के सामने आनी ही थी कल्यानपुरा छेत्र जो भाजपा का गढ़ हुआ करता आज सभी कार्यकर्ता ओर जनता के आशीर्वाद से कॉंग्रेस पार्टी ने यहां से शानदार बढ़त बनाई है जिसकी तारीफ स्वयं मुख्यमंत्री ने की है और कहा है कि झाबुआ विधानसभा के कल्यानपुरा गांव को में गोद ले रहा हु में मुख्यमंत्री कमलनाथ जी को धन्यवाद देता हूं जो इस छेत्र को उन्होंने गोद लिया आज से इस छेत्र की जनता को कोई भी कार्य हो में हमेशा आपकी सेवा के लिए खड़ा हूँ कुछ कार्य हो सुख दुख में में सदैव आपके साथ खड़ा हूँ। कार्यक्रम को डाँ विक्रांत भूरिया ने भी सम्बोधित करते हुए कहा कि यह जीत हर कार्यकर्ता की जीत है आप सभी ने हमारे लिए लड़ाई लड़ी है अब हमारी बारी है हम आपकी सेवा करे आपके हर कार्य  मे मदद करे और उसे पूरा करवाए सभा को थांदला विधायक विरसिंग भूरिया जेवियर मेड़ा हेमचंद डामोर ने भी सम्बोधित किया इस दौरान ब्लाक अध्यक्ष शंकर भूरिया सुरेन्द्र गरवाल रविन्द्र ठाकुर उमेश चैहान शंकर हटिला मकना निनामा शांतु मावी दिव्येश अमलियार दादुलाल चैहान पीटर भाई सहित सेकड़ो कार्यकर्ता उपस्थित थे।

सोश्यल मीडिया पर पर्सनल इंफारमेषन कभी भी शेयर ना करे, जानलेवा हो सकती है साबित -ः अतिरिक्त पुलिस महानिदेषक वरूण कूपर
सोष्यल मीडिया पर कुछ भी शेयर, लाईक, कमेंट, सबक्राईब्स करने से पहले अपनी सुरक्षा के बारे में जरूर सोचे -ः वरूण कूपर सायबर क्राईम पर पुलिस सामुदायिक भवन में हुआ भव्य सेमिनार का आयोजन
jhabua news
झाबुआ। देष हीं नहीं अपितु दुनिया में तेजी से बढ़ रहे सायबर अपराधों, जिसमें विषेषकर युवाओं की हो रहंी मौतों को लेकर देषभर में सरकारे इस ओर गंभीर होने के साथ पुलिस भी ऐसे अपराधों को नियंत्रित करने के लिए विषेष अभियान संचालित करने में लगी हुई है, ताकि सोष्यल मीडिया अर्थात सायबर के क्षेत्र में होने वाले अपराधों में कमी लाई जा सके।
इसी बीच 5 नवंबर, मंगलवार को झाबुआ भ्रमण पर आए इंदौर जोन के अतिरिक्त पुलिस महानिदेषक वरूण कपूर ने शाम 6 बजे से स्थानीय डीआरपी लाईन स्थित सामुदायिक भवन में आयोजित एक सेमिनार में शहर के लोगों, जिसमें विषेषकर स्कूल-काॅलेज के छात्र-छात्राओं को सायबर अपराधो की प्रोजेक्टर के माध्यम से विस्तृत जानकारी देते हुए इस तरह के अपराधों से बचने के लिए आवष्यक टिप्स एवं जानकारी साझा की। प्रारंभ में महानिदेषक वरूण कूपर का पुष्पगुच्छ भेंटकर स्वागत जिले के पुलिस अधीक्षक विनीत जैन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक विजय डावर, रक्षित निरीक्षक चेतनसिंह बघेल के साथ सकल व्यापारी संघ अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर, संकल्प ग्रुप एवं संस्कार भारती अध्यक्ष श्रीमती भारती सोनी, सेवानिवृत्त प्राचार्य डाॅ. केके त्रिवेदी, वरिष्ठ पत्रकारों में चंद्रभानसिंह भदौरिया, सचिन बैरागी आदि ने किया। बाद पुलिस अधीक्षक विनीत जैन ने बताया कि अतिरिक्त पुलिस महानिदेषक वरूण कपूरजी को सायबर के क्षेत्र में देषभर में लोगांे केा जागरूक करने एवं इससे होने वाले अपराधांे में कमी लाने के चलते कई बडे अवार्डों से नवाजा जा चुका है। वे अब तक इस संबंध में 300 से अधिक कार्यषाला (सेमिनारों) का आयोजन कर लोगों को जागरूक कर चुके है।

दुनिया में 98 प्रतिषत लोग कर रहे आज व्हाट्स-एप का उपयोग
बाद वरूण कपूर ने अपना व्यक्तव्य शुरू करते हुए उपस्थित युवा वर्ग से पूछा कि आज जो देष में अधिकतर छोटे एवं बड़े अपराध हो रहे है, वह किस कारण से हो रहे है, उसके पीछे का वास्तविक कारण क्या है, तो उन्होंने युवाआंे को मोबाईल हाथ में लेकर बताया कि आज घटित होने वाले अधिकतर अपराधों की जड़ यह स्मार्ट फोन है। आज सायबर अपराध तेजी से बढ़ रहे है। आज दुनिया में 98 प्रतिषत लोग सोष्यल मीडिया का उपयोग कर रहे है। दुनिया में 1 लाख तरह-तरह के अपराध प्रतिदिन हो रहे है। आज का युग टेक्नालाजी युग होने से आज हर व्यक्ति के पास स्मार्ट फोन है, जिसे सुरक्षित तरीके से उपयोग करना बहुत जरूरी है।  उन्होंने दो दुनिया बताते हुए कहा कि मोबाइ्र्रल की दुनिया एक अलग दुनिया है और हकीकत की दुनिया एक अलग दुनिया है। इसमें सोष्यल मीडिया से जो जुड गया है, उसे बेहद सावधानी एवं सुरक्षा रखना आवष्यक है।

किसी भी धर्म, जाति, समाज पर ना करे अषोभनीय टिप्पणी या कमेंट
वरूण कूपर ने आगे बताया कि आज किस तरह व्हाट्स-एप एवं फैसबुक पर हैकिंग हो रहीं है। युवा लोग किसी भी धर्म, जाति, समाज पर गलत एवं अषोभनीय टिप्पणी करने के बाद उसे लाखों लोगों द्वारा देखने के बाद जहां सांप्रदायिक तनाव तो फैलता ही है, वहीं इस कारण इस तरह की कमेंट करने वाला युवा भी कार्रवाई के मकड़जाल में बुरी तरह फंसकर उस पर आईटी एक्ट जैसे कठोर कानून के तहत कार्रवाई होने से कई बार आजीवन कारावास की सजा भी हो जाती है। उन्होंने इस तरह का उदाहरण हाल ही में खरगोन में हुआ बताया, जिसमें एक युवक के इस तरह से कमेंट करने से सांप्रदायिक तनाव फैल गया और इन दंगों में कई लोगों की जान चली गई तो कई गंभीर घायल हो गए। पुलिस ने उक्त आरोपी को पकड़कर उसे कोर्ट में पेष करने के बाद आजीवन कारावास की सजा हो गई।   

सुरक्षा का रखे विषेष ध्यान
अतिरिक्त पुलिस महानिदेषक ने कहा कि हम सोष्यल मीडिया व्हाट्स एप, फैसबुक, इंस्टाग्राम, ओरकुट आदि पर कोई भी पोस्ट शेयर, कमेंट, लाईक, सबक्राईब्स करने से पहले अपनी सुरक्षा के बारे में सोचे कि क्या यह पोस्ट आपत्तिजनक तो नहीं है, तो उसे शेयर ना करे, ऐसी पोस्ट पर लाईक और कोई भी कमेंट  ना करे, ऐसो करने पर आप बड़ी मुसीबत अर्थात कानूनी कार्रवाइ्र्र में उलझ सकते है। साथ ही ऐसी पोस्ट आने पर स्वयं अपनी ओर से आगे होकर इसकी सूचना संबंधित पुलिस थानों एवं चैकियों पर दे, ताकि इस तरह की पोस्ट डालकर गुमराह करने वालों पर कानूनी कार्रवाई की जा सके।  

जा चुकी है कई युवाआंे की जान
वरिष्ठ पुलिस अधिकारी श्री कपूर ने बताया कि हम सोष्यल मीडिया पर इस बात का भी विषेष ध्यान रखे कि कभी भी अपनी प्राईवेसी ज्यादा शेयर ना करे। कई बार युवा मोबाईल पर सेल्फी लेने के बाद उसकी तस्वीर तो शेयर करते है। उसके साथ यह भी लिखते है कि उसने किस शहर किस स्थान से कितनी बजे सेल्फी ली, जिससे सायबर किलरों को यह पता चल जाता है कि संबंधित व्यक्ति अभी कहां पर है और वह उसे लूटकर या मारने की योजना बना लेते है। साथ ही कई बार अपने स्टेटस में भी अपने प्रायवेट फोटोस को अपडेट करते है या कई बार इस तरह की बात लिख देते है कि जिससे सायबर अपराध करने वालों को हमारे बारे में सारी इंफारमेषन मिलने से वह हम तक आसानी से पहुंचकर कई तरह की घटनाओं को अंजाम देते है। इस ताजा उदाहरण उन्होंने इंदोर का बताया। जहां फेसबुक पर एक लड़की द्वारा एक लड़के से बात करना बंद करने पर उसे लड़के ने उसके घर पहुंचकर उस लड़की एवं उसकी मां को चाकूओं से कई बार गोदा। जिसमें लड़की की मृत्यु भी हो गई। साथ ही आस्ट्रेलिया के सिड़नी की घटना बताई, जहां ख्रीस्तोफर नामक युवक ने नैना नाम की युवती, जिसे जानवरों से काफी प्रेम था, वह जानवरों के साथ अपने फोटो शेयर कर पूरी इंफारमेंषन शेयर करती थी, जिसके आधार पर सायबर के कुख्यात अपराधी ने उसके घर पहुंचकर उसका बलात्कार कर उसकी हत्या कर गाड़ दिया।

प्रायवेसी को कभी शेयर ना करे
अंत में वरूण कपूर ने बताया कि हम कभी भी सोष्यल मीडिया पर अपनी प्रायवेसी को किसी के साथ भी शेयर ना करे, नही ंतो यह घातक हो सकता है। साथ ही व्हाटस एवं फेसबुंक के कई सीक्रेट आॅपषन और फयूचरों के बारे में भी बताया, जिसमें सावधानी रखने की बात भी उन्होंने कहीं। उन्होंने प्रोजेक्ट के माध्यम से इसकी जानकारी दी। इस अवसर पर उपस्थित स्कूल एवं काॅलेज के युवाओं ने श्री कूपर से विभिन्न प्रष्न पूछकर आवष्यक जानकारियां प्राप्त की। साथ ही शासकीय अधिकारी-कर्मचारियों ने भी वार्तालाप किया।  यह सेमिनार करीब डेढ़ घंटे तक चला।

अभिनंदन-पत्र देकर किया सम्मान
अंत में इस सेमिनार के आयोजक सकल व्यापारी संघ की ओर से अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर, सचिव पंकज जैन मोगरा, उपाध्यक्ष कमलेष पटेल, सह-सचिव हरिष शाह लालाभाई, कोषाध्यक्ष राजेष शाह, सह-कोषाध्यक्ष मधुकर शाह, वरिष्ठजनों में भरत बाबेल, दीपक माहेष्वरी, हरिष शाह, अमित जैन, राजेन्द्र संघवी, अजय रामावत आदि ने अतिरिक्त पुलिस महानिदेषक वरूण कूपर का पुष्प गुच्छ भेंटकर उन्हें झाबुआ पधारने पर अभिनंदन-पत्र प्रदान किया। सेमिनार का संचालन पुलिस अधीक्षक कार्यालय के प्रकाष चैहान ने किया एवं अंत में आभार रक्षित निरीक्षक चेतनसिंह बघेल ने माना। इस अवसर पर जिलेभर के  पुलिस अधिकारी-कर्मचारी, जिला प्रषासन के अधिकारियों में डिप्टी कलेक्टर पराग जैन, एसडीएम श्री मालवीय, तहसीलदार बीपी भिलाला के साथ विभिन्न सामाजिक-धार्मिक संस्थाओं के पदाधिकारी-सदस्य, नर्सिंग काॅलेज की छात्राएं बड़ी संख्या में उपस्थित थी।

शीत ऋतु में कड़कड़ाती ठंड से बचाव के लिए जिले की 9 स्कूलों में 10 हजार से अधिक स्वेटरों का होगा वितरण, रोटरी सदन में कार्यक्रम का आयोजन कर स्वेटरों का किया गया गरिमामय रूप से लोकार्पण

jhabua news
झाबुआ। देष की महानगरी मुंबई निवासी दानवीर एवं जैन मित्र शैलेन्द्र घीया द्वारा श्री मालवा जैन श्वेतांबर महासंघ एवं भारतीय जैन संघटना के सहयोग से इस वर्ष झाबुआ जिले की 9 शासकीय स्कूलों में 10 हजार से अधिक स्वेटरों का वितरण किया जाएगा। इसके लिए स्कूलों का चयन किया जा चुका है। 6 नवंबर, बुधवार को दोपहर स्थानीय सिद्धेष्वर काॅलोनी स्थित रोटरी सदन में कार्यक्रम का आयोजन कर स्वेटरों का लोकार्पण दोनो संगठनों के पदाधिकारियों के साथ 9 स्थानों के कार्यक्रम संयोजकों और स्कूल प्राचार्यों द्वारा मिलकर किया गया। सर्वप्रथम जानकारी देते हुए श्री मालवा जैन श्वेतांबर महासंघ के राष्ट्रीय प्रवक्ता एवं भारतीय जैन संघटना के मुख्य संरक्षक यषवंत भंडारी ने शैलेन्द्रजी घीया का सभी को परिचय करवाते हुए बताया कि वे मुंबई के निवासी होकर प्रतिवर्ष देष के विभिन्न राज्यों में विषेषकर ट्रायबल जिलों का चयन कर वहां शासकीय स्कूलों में पढ़ने वाले निर्धन वर्ग के छात्र-छात्राआंे को शीत ऋतु में ठंड से बचाव के लिए हजारों की संख्या में स्वेटरों का वितरण करते है। इस वर्ष उन्होंने इस कार्य के लिए झाबुआ जिले का चयन करते हुए श्री भंडारी से संपर्क किया। श्री भंडारी ने उनके इस कार्य को काफी अनुमोदनीय एवं अत्यंत पुण्य का कार्य बताते हुए झाबुआ जिले में इसकी स्वीकृति प्रदान की।

इन 9 स्कूलों में होगा स्वेटरों का वितरण
राष्ट्रीय प्रवक्ता यषवंत भंडारी ने अआगे बताया कि झाबुआ जिले में यह आयोजन 22 नवंबर शुक्रवार को शासकीय उमा विद्यालय झकनावदा, 23 नवंबर शनिवार को शासकीय उमा विद्यालय रातीतलाई झाबुआ, 25 नवंबर सोमवार को शासकीय उमा विद्यालय रानापुर एवं पारा, 26 नवंबर मंगलवार को शासकीय उमा विद्यालय मेघनगर एवं थांदला, 27 नवंबर बुधवार को शासकीय उमा विद्यालय पेटलावद एवं कालीदेवी तथा 28 नवंबर गुरूवार को शासकीय उमा विद्यालय रायपुरिया पर समापन होगा। समापन भव्य रूप से किया जाएगा। जिसमें संभवतः जिले के कलेक्टर, पुलिस अधीक्षक एवं क्षेत्र के जनप्रतिनिधियों को भी आमंत्रित कर उनके आतिथ्य में समापन समारोह रखा जाएगा।

गणिवर्य राजेन्द्र विजयजी मसा प्रदान करेंगे निश्रा
25 नवंबर को शासकीय विद्यालय पारा में होने वाले आयोजन में कवाट (गुजरात) में रहने वाले आदिवासी जनजीवन के मसीहा गणिवर्य राजेन्द्र विजयजी मसा अपनी निश्रा प्रदान करेंगे। इस हेतु उनका मंगल प्रवेष झाबुआ जिले में 24 नवंबर को हो जाएगा। बाद 26 नवंबर को शासकीय विद्यालय कालीदेवी एवं रोटला स्थित आश्रम में भी अपनी निश्रा प्रदान करने के साथ स्कूल एवं आश्रम के छात्र-छात्राओं को अपने आर्षीवचन भी प्रदान करेंगे। इसके साथ ही इस दौरान आयोजन के सूत्रधार मुंबई निवासी शैलेन्द्र घीया द्वारा भी बच्चों को संस्कार विषय पर संबोधन दिया जाएगा।

यह रहेंगे अतिथि
श्री भंडारी ने उपस्थित कार्यक्रम संयोजकों एवं संस्था प्राचार्यों तथा प्रतिनिधियों को बताया कि स्कूलों में होने वाले स्वेटर वितरण कार्यक्रमों में वे अपने क्षेत्र के विधायक या जनपद अध्यक्ष, नगर पंचायत-ग्राम पचांयत अध्यक्ष-सरपंच, प्रषासनिक अधिकारियों में सबंधित अनुभाग के एसडीएम, जैन संघ के अध्यक्ष या वरिष्ठ सुश्रावक, वरिष्ठ पत्रकार, नगर-गांव के सम्मानित वरिष्ठजनों को भी अतिथि के रूप में आमंत्रित कर सकते है। कार्यक्रम के दौरान कालीदेवी कार्यक्रम प्रभारी एवं वरिष्ठ अभिभाषक उत्तम जैन ने बताया कि वे अपने क्षेत्र में उक्त स्वेटर वितरण कार्यक्रम पूरे गरिमामय रूप से करेंगे। कालीदेवी रोटला में गणिवर्य राजेन्द्र विजयजी मसा की आगवानी भी उत्साहपूर्वक की जाएगी। रानापुर कार्यक्रम संयोजक कमलेष नाहर ने भी सहमति व्यक्त की कि वे अपने क्षेत्र में स्कूल में होने वाले कार्यक्रम में संपूर्ण तैयारी पूर्ण रखने के साथ इस पुण्यानुबंधी-पुण्य के आयोजन को उत्साह के साथ करेंगे। भारतीय जैन संघटना के जिलाध्यक्ष सुनिल संघवी एवं जिला महामंत्री राजेन्द्र आर भंडारी ने बताया कि झाबुआ में वह यह कार्यक्रम शहर के पैलेस गार्डन पर भव्य रूप से रखेंगे। जहां शासकीय विद्यालयों के छात्र-छात्राओ को आमंत्रित कर स्वेटर वितरण करने के बाद उन्हंे संघटना की ओर से बिस्कीट के पैकेट का भी वितरण किया जाएगा। इस तरह कार्यक्रम में उपस्थित अन्य संयोजकों एवं संस्था प्राचार्यों ने भी अपने-अपने विद्यालयों में आयोजन में कार्यक्रम के पूर्व अतिथियों से दीप प्रज्जवलन करवाने, प्रवेष द्वार छात्र-छात्राओं से स्वागत एवं स्वागत गीत तथा सरस्वती वंदना प्रस्तुत करने के लिए भी स्कूल छात्र-छात्राओं को तैयार किया जाएगा।

स्वेटरों का लोकार्पण किया गया
बाद सभी द्वारा मिलकर स्वटरों का गरिमामय रूप से लोकार्पण कर जिन शासन देव के जयकारे लगाने के साथ जैन ज्योति शासनम् के भी घोष लगाए गएं। प्रारंभ में श्री नमस्कार महामंत्र के चित्र पर दीप प्रज्जवलन एवं माल्यार्पण अतिथियांे ने किया। बाद सभी ने श्री नमस्कार महामंत्र का जाप किया। कार्यक्रम का संचालन थांदला प्रभारी पवन नाहर ने किया एवं अंत में आभार भारतीय जैन संघटना के जिलाध्यक्ष सुनिल संघवी ने माना।

यह रहे उपस्थित
इस अवसर पर भारतीय जैन संघटना के पदाधिकारियों में वरिष्ठ डाॅ. प्रदीप संघवी, जिला प्रभारी योगेन्द्र नाहर, संजय जैन (जगावत), रंभापुर से पंकज रंाका, पेटलावद से ओंकारसिंह मेड़ा एवं कांतिलाल जैन, कालीदेवी से अरविन्द गादिया, शासकीय उमा विद्यालय रातीतलाई से रविन्द्रसिंह सिसौदिया, कप्तानसिंह, जयेन्द्र बैरागी झाबुआ,, पंकज भंडारी, पलाष कोठारी एवं अंतिम भंडारी पारा, रानापुर से ललित सकलेचा एवं आयोजन के मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी आदि उपसिथत थे।

मां दक्षिणमुखी कालिकाजी को अर्पण किये गये छप्पन भोग
महाआरती में सैकडो भक्तो ने लिया भाग आतिशबाजी के साथ मनाया आंवला नवमी का पर्व
jhabua news
झाबुआ । आंवला नवमी पर नगर में बिराजित मां दक्षिणमुखी कालिका माता के मंदिर में भव्य छप्पनभोग नैवेद्य अर्पण का कार्यक्रम भक्ति एवं श्रद्धा के साथ मंगलवार रात्री 7-30 बजे संपन्न हुआ । नवनीत कला मंडल द्वारा आयोजित इस कार्यक्रम में मां कालिका की  महा आरती के बाद छप्पनभोग की प्रसादी का सम्मान पूर्वक वितरण किया गया । दक्षिणमुखी कालिका माता के मंदिर में मां का आकर्षक श्रृंगार पुजारी राजेन्द्र पुरी द्वारा किया गया । ठीक साढे सात बजते ही मां की महा मंगल आरती पुजारी राजेन्द्र पुरी द्वारा की गई । इस अवसर पर मंदिर के बाहर भव्य आतीशबाजी की गई । आरती के पूर्व माताजी के समक्ष अन्नकूट में 56 प्रकार के व्यंजनों का भोग लगाया गया । नगाडों, घडी घंटालों  शंखध्वनि के साक्थ माताजी की आरती में नगर में बडी संख्या में श्रद्धालुजनों एवं महिलाओं ने  सहभागिता  की । इस अवसर पर नगर के गणमान्य जनो मे एडवोकेट राजेन्द्र अग्निहौत्री, अतिश, कन्हैयालाल राठौर, दयानंद पाटीदार जितू पांचाल, अतिश शर्मा, पिंटू शर्मा, प्रतापसिंह चैहान, विजय चैहान , विनोद पांचाल, कपील पांचाल, निमेश जेैन, राजेन्द्रपुरी, लोकेश नानावटी, ओम प्रकाश जायसवाल, कृष्णा राठौर,महादेव गोलानी, सौभाग्यसिंह चैहान, राजेन्द्रसोनी, मनोज बारिया,सहित बडी संख्या में श्रद्धाल्रुजनों एवं महिलाओं ने भाग लिया । आरती सम्पन्न होने के बाद प्रत्येक श्रद्धालु को आवंला फल के अलावा सम्मानपूर्वक  छप्पनभोग की प्रसादी वितरण किया गया । कतार बद्ध होकर श्रद्धालुओं ने प्रसादी को ग्रहण किया । कालिका माता मंदिर पर आंवला नवमी के पावन पर्व पर मां कालिका के दर्शनार्थ बडी संख्या में श्रद्धालुओं का देर रात्री तक तांता लगा रहा । नवनीत कला मंडल के कन्हैयालाल राठौर ने कार्यक्रम में सहभागी होने वाले सभी श्रद्धालुओं का धन्यवाद ज्ञापित किया है ।

राजपूत महिला क्लब ने मनाया दीपावली मिलन समारोह, समारोह का आयोजन कर विभिन्न मनोरंजक गेम्स भी रखे गएं

jhabua news
झाबुआ। राजपूत महिला क्लब झाबुआ द्वारा 5 नवंबर, मंगलवार रात 8 बजे से दीपावली मिलन समारोह का गरिमामय आयोजन स्थानीय पैलेस गार्डन पर किया गया। जिसमें क्लब का महत्वपूर्ण समारोह सहित महिला-पुरूषों के लिए विभिन्न गेम्स (प्रतियोगिताएं) भी रखे गएं। जिसमें सभी ने उत्साह के साथ भाग लिया। अंत में प्रतियोगिता में विजेताओं को पुरस्कार प्रदान कर सभी के लिए सहभोज का आयोजन रखा गया। समारोह के प्रारंभ में मां सरस्वतीजी की तस्वीर पर माल्यार्पण एवं दीप प्रज्जवलन ठा. जयंतीसिंह राठौर ने किया। कु. साक्षी राठौर ने दीप मंत्र प्रस्तुत किया । ठा. गोपालसिंह चैहान ने सरस्वती वंदना प्रस्तुत की। सुश्री रूक्मणी वर्मा ने दीपावली क्यो मनाई जाती है ....?, इसके महत्व पर प्रकाष डाला। इस अवसर पर सुश्री अनिला बेस एवं श्रीमती ज्योत्सना चैहान ने भीे दीपालवी पर्व की महत्वता को प्रतिपादित किया। ठा. भेरूसिंह सोलंकी एवं ठा. राकेषसिंह परमार ने राजपूत महिला क्लब द्वारा किए जा रहे कार्यक्रमों एवं गतिविधियों पर पर प्रसन्नता व्यक्त की। ठा. भेरूसिंह चैहान ‘तरंग’ ने गली-गली, मौहल्ले-मौहल्ले सजा माता का दरबार .... रचना  प्रस्तुत की। साथ ही कई अन्य कविताएं सुनाकर भी सभी को मंत्रमुग्ध किया।

विभिन्न गेम्स रखे गए
बाद सभी के लिए चेयर रेस, वन मिनिट, कपल गेम्स सहित कई अन्य मनोरंजन खेल रखे गए। जिसमें उपस्थित सभी महिला-पुरूषों के साथ बालिकाओं एवं बच्चों ने उत्साह के साथ हिस्सा लिया। सीनियर चेयर रेस में प्रथम श्रीमती साधना एवं द्वितीय श्रीमती भारती राठौर रहीं। पुरस्कार प्रयोजक संतोष ठाकुर रहीं। जूनियर चेयर रेस प्रतियोगिता में प्रथम कृतिका चैहान एवं द्वितीय मोहक राठौर रहीं। पुरस्कार प्रायोजक अनिला बेस रहीं। इसी प्रकार सीनियर वन मिनिट प्रतियोगिता में प्रथम सीमा गेहलोद एवं द्वितीय सुश्री रूक्मणी वर्मा रहीं। इसकी प्रायोजक शोभा राठौर थी। जूनियर वन मिनिट प्रतियोगिता में प्रथम कु. भूमि गेहलोद रहीं एवं द्वितीय स्थान पर हर्षवर्धनसिंह तोमर रहे। जिसकेी प्रायोजक कमला सोलंकी रहीं। कपल गेम्स में प्रथम ठा. मनोहरसिंह राठौर एवं श्रीमती शोभा राठौर तथा द्वितीय ठा. जितेन्द्रसिंह सिसौदिया एवं राखी सिसौदिया रहीं। जिसकी प्रायोजक सुश्री रूक्मणी वर्मा रहीं। ठा. नीरजसिंह राठौर द्वारा संपूर्ण आयोजन की भूरी-भूरी प्रसंषा करते हुए भविष्य में भी ओर अच्छे कार्यक्रम रखने का प्रस्ताव रखा।

यह रहे उपस्थित
दीपावली मिलन समारोह में लता-मनोजसिंह चैहान, राजेश्री-राकेष परमार, माधुरी-विजयसिंह तोमर, अनिता-कैलाषसिंह चैहान, टीना-राजेषसिंह गौतम, ममता-दिनेष जादौन, सुमित्रा-सत्यनारायण चैहान, संतोष-चंदरसिंह ठाकुर, साधना-विजयसिंह चैहान, साधना सोलंकी, सीमा-महेन्द्रसिंह गेहलोद, माया-हरिओम पंवार, हेमा-चेतन्यसिंह पंवार, ज्योति-विजेन्द्रसिंह सोलंकी, श्रद्धा-विजेन्द्र चैहान आदि उपस्थित रहे। समारोह का सफल संचालन सुश्री रूक्मणी वर्मा ने किया एवं अंत में आभार ठा. मनोहरसिंह राठौर ने माना। 

बोतल,कन्टेनर,केन या अन्य किसी प्रकार से खुला पेट्रोल/डीजल प्रदाय नही किया जावेगा कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा ने जारी किया आदेष
      
झाबुआ । जिले में कानून व्यवस्था को दृष्टिगत रखते हुए। कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा एव अनुज्ञापन प्राधिकारी जिला झाबुआ मध्यप्रदेष मोटर रिस्प्ररिट तथा हाई स्पीड डीजल आॅयल आदेष 1980 की कंडिका-10 के तहत प्रदत्त षक्तियो का प्रयोग करते हुए। जिले के समस्त  पेट्रोल/डिजल पम्प डीलरो को आदेषित किया है कि पेट्रोल/डीजल का प्रदाय केवल वाहनो में ही करना सुनिष्चित करे। बोतल,कन्टेनर,केन या अन्य किसी प्रकार से खुला पेट्रोल/डीजल प्रदाय नही किया जावेगा।

भारत के प्रथम प्रधानमंत्री श्री जवाहरलाल नेहरू की 130वीं वर्षगाँठ
नेहरू जी की विरासत को प्रतिष्ठापित करने के लिये वर्ष भर होंगे कार्यक्रम
झाबुआ । प्रदेश में 14 नवम्बर को भारत के प्रथम प्रधानमंत्री श्री जवाहरलाल नेहरू की 130वीं वर्षगाँठ मनाई जाएगी। उच्च शिक्षा विभाग ने निर्णय लिया है कि युवाओं और विद्यार्थियों में नेहरू जी की विरासत को प्रतिष्ठापित करने के लिये सभी विश्वविद्यालयों और शासकीय तथा अशासकीय महाविद्यालयों में वर्ष भर विभिन्न कार्यक्रम और सेमिनार आयोजित किए जाएंगे। विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों को वर्ष भर आयोजित किये जाने वाले कार्यक्रमों और सेमिनार की रूपरेखा तैयार करने के लिये कहा गया है। कार्यक्रमों और सेमिनार में विद्यार्थियों, शोधार्थियों, प्राध्यापकों, गणमान्य नागरिकों ओर जन-प्रतिनिधियों को आमंत्रित किया जाएगा। नेहरू जी की 130वीं वर्षगाँठ पर राष्ट्रीय स्तर के सेमिनार और कार्यक्रम आयोजित किये जाएंगे। सभी विश्वविद्यालयों और शासकीय तथा अशासकीय महाविद्यालयों में राष्ट्रीय स्तर के सेमीनार और कार्यक्रम के लिये महत्वपूर्ण विषय निर्धारित किये गये हैं। ये विषय हैं नेहरू और धर्मनिरपेक्षता, नेहरू और प्रजातंत्र, नेहरू और भारत की संकल्पना, नेहरू और शिक्षा, नेहरू और आधुनिक भारत का निर्माण, नेहरू की विदेश नीति, नेहरू और विधि सम्मत शासन, नेहरू एवं वैज्ञानिक अभिरूचि का विकास, नेहरू एवं इतिहास बोध, नेहरू एवं लेखन की अभिव्यक्ति, नेहरू एवं समाजवाद, नेहरू एवं बौद्धिक उदारवार, नेहरू एवं गुट निरपेक्षता तथा नेहरू एवं भारत का स्वतंत्रता संघर्ष।

रूक जाना नहीं योजना की वर्चुअल कक्षाएँ प्रारंभ
    
झाबुआ । म.प्र. राज्य मुक्त स्कूल शिक्षा बोर्ड द्वारा प्रारंभ रूक जाना नहीं योजना एवं म.प्र. ओपन बोर्ड (परम्परागत) द्वारा 10वीं एवं 12वीं के परीक्षार्थियों को मार्गदर्शन देने के लिये 4 नवम्बर से सम्पर्क कक्षाएँ प्रारंभ कर दी गयी हैं। ये सम्पर्क कक्षाएँ 20 नवम्बर तक प्रदेश के सभी जिलों में जिला एवं विकासखण्ड स्तर पर उत्कृष्ट विद्यालयों में स्थित वर्चुअल कक्षा के माध्यम से संचालित की जायेंगी। इन कक्षाओं में विषय विशेषज्ञ, पीपीटी एवं अन्य रोचक तरीकों से विद्यार्थियों को पढ़ाएंगे। इन कक्षाओं में माध्यमिक शिक्षा मण्डल की 2019 की परीक्षा में अनुत्तीर्ण छात्र एवं ओपन स्कूल परम्परागत की दिसम्बर 2019 की परीक्षा में शामिल हो रहे विद्यार्थी अपनी प्रोबलम्स को हल करवा सकते हैं। संचालक मध्यप्रदेश राज्य मुक्त स्कूल शिक्षा बोर्ड ने विद्यार्थियों से आव्हान किया है कि विद्यार्थी परीक्षा पूर्व आयोजित इन सम्पर्क कक्षाओं में शामिल होकर 6 दिसम्बर से शुरू होने वाली परीक्षाओं की तैयारी बेहतर ढंग से करें। कक्षा 10 के विद्यार्थियों के लिये हर दिन दोपहर 2रू30 से 3रू50 बजे तक तथा कक्षा 12वीं के लिये 3रू50 से शाम 5रू50 बजे तक सम्पर्क कक्षाएँ लगाई जाएंगी। प्रशिक्षण कार्यक्रम की समय सारणी म.प्र. राज्य मुक्त स्कूल शिक्षा बोर्ड की कार्यालयीन वेबसाईट  ढूूूण्उचेवेण्दपबण्पदझ  से डाउनलोड की जा सकती है।

इस वर्ष 119.18 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में होंगी रबी फसलें
    
झाबुआ । प्रदेश में इस वर्ष रबी सीजन की प्रमुख फसलों की 119.18 लाख हेक्टेयर क्षेत्र में बोनी संभावित है। कृषि विभाग के आकलन के आधार पर इस वर्ष अनाज और दलहन सहित कुल खाद्यान्न की 109 लाख हेक्टेयर में बोनी संभावित है। इसमें गेहूँ 64 लाख हेक्टेयर तथा जौ और अन्य अनाज की 1.35 लाख हेक्टेयर में बोनी संभावित है। इसी प्रकार, दलहन में चना 34.15 लाख हेक्टेयर, मटर 3.50 लाख हेक्टेयर, मसूर 5.50 लाख हेक्टेयर तथा अन्य दालों की 50 हजार हेक्टेयर में बोनी होगी। रबी 2019-20 में तिलहन में प्रमुख रूप से रेपसीड/सरसों 7.50 लाख हेक्टेयर और अलसी तथा अन्य तिलहन की बोनी 1.68 लाख हेक्टेयर में आकलित है। जानकारी के अनुसार एक लाख हेक्टेयर क्षेत्र में गन्ने की बोनी होगी।

किसानों के खेतों में लगेंगे 2 लाख सोलर पम्प
    
झाबुआ । नवीन और नवकरणीय ऊर्जा विभाग ने प्रदेश में करीब 19 हजार किसानों के खेत पर सोलर पम्प लगवाने में सफलता प्राप्त की है। आगामी पाँच वर्ष में किसानों के लिए दो लाख सोलर पम्प स्थापित किए जायेंगे। सोलर पम्पों की स्थापना पर किसानों को तीन एचपी क्षमता तक 90 प्रतिशत और 3 से 5 एचपी क्षमता तक 85 प्रतिशत अनुदान देने का प्रावधान है। सोलर पम्प को लोकप्रिय बनाने में वन, कृषि, लोक स्वास्थ्य यांत्रिकी और आदिम जाति कल्याण विभाग द्वारा सक्रिय सहयोग दिया जा रहा है। सोलर पम्प से कृषि के क्षेत्र में बिजली की बचत के साथ वित्तीय भार कम हो जाता है। इस योजना का लाभ प्राप्त करने के लिये कृषक के पास स्वयं का जल स्रोत जैसे बोरवेल, कुआँ, नदी, स्टॉप डेम इत्यादि होना आवश्यक है। योजना के अंतर्गत स्थापित सोलर पम्प संयंत्र में पाँच वर्ष की वारंटी के साथ 5 वर्ष का रख-रखाव भी सम्मिलित हैं। सोलर पम्पों के सोलर पैनलों से वर्ष के लगभग 330 दिन व औसतन 8 घंटे प्रतिदिन ऊर्जा का उत्पादन होता है, जबकि कृषि पम्पिंग के लिये आवश्यकता लगभग 100-120 दिन ही होती है। शेष ऊर्जा का उपयोग विभिन्न वैकल्पिक उपयोगों, जैसे लाईंटिंग, बैटरी चार्जिंग, सूक्ष्म ग्रिड, आदि के लिए किया जा सकता है। किसान हितैषी राज्य सरकार द्वारा किसानों की पैदावार एवं उनकी आय को बढ़ाने की दृष्टि से आगामी पाँच वर्षों में प्रदेश के किसानों के लिये खेती के दो लाख सोलर पंप स्थापित किये जाने की पहल से आगामी वर्षों में प्रदेश के किसान कृषि के क्षेत्र में अधिक समृद्ध और आत्म निर्भर हो सकेंगे।

अनुभूति कार्यक्रम में भाग लेंगे 1.11 लाख बच्चे, बच्चों के लिये वन्य-प्राणी संरक्षण का देश का अनूठा और प्रभावी कार्यक्रम

झाबुआ । वन विभाग के ईको-टूरिज्म बोर्ड द्वारा इस वर्ष भी 15 दिसम्बर से स्कूली बच्चों के लिये एक माह का अनुभूति कार्यक्रम आयोजित किया जायेगा। इस वर्ष प्रदेश के एक लाख 11 हजार स्कूली छात्र-छात्राओं को कार्यक्रम में वन और वन्य-प्राणियों के जीवन संरक्षण के प्रति अनुभूति कराने का लक्ष्य है। मुख्य कार्यपालन अधिकारी ईको-टूरिज्म बोर्ड श्री एस.एस. राजपूत ने बताया कि देश में अपनी तरह के अनूठे वृहद एवं प्रभावी अनुभूति कार्यक्रम में पिछले तीन सालों में ईको कैम्प के माध्यम से 2 लाख 25 हजार से अधिक छात्र-छात्राओं को वन और वन्य-प्राणियों के प्रति संवेदनशील बनाते हुए प्रशिक्षित किया गया है। प्रदेश के वरिष्ठ, क्षेत्रीय और सेवानिवृत्त वन अधिकारियों और पर्यावरणविदों के कुशल मार्गदर्शन से कार्यक्रम के बहुत अच्छे परिणाम आये हैं। अब यह कार्यक्रम संस्थागत रूप ले चुका है। कार्यक्रम का उद्देश्य देश के भावी नागरिकों में वन संरक्षण के संस्कार विकसित करना है। कैम्प में पक्षी दर्शन, जंगल सफारी, ट्रेकिंग, नेचर ट्रेल, प्रश्नोत्तरी आदि विभिन्न प्रतियोगिताएँ और गतिविधियाँ होंगी। इनके माध्यम से बच्चों को वन और वन्य-प्राणियों के संरक्षण तथा सृष्टि में उनकी महत्ता के प्रति जागरूक किया जाता है।

मत्स्य बीज की दर निर्धारित
    
झाबुआ । संचालक मत्स्य उद्योग ने संपूर्ण प्रदेश में मत्स्य बीज विक्रय दरों का निर्धारण किया है। यह दर शासकीय एवं अशासकीय क्षेत्र की संस्थाओं पर लागू होगा। मत्स्य उद्योग विभाग ने मत्स्य पालन व्यवसाय करने वालों से आह्वान किया है कि यदि कहीं पर निर्धारित दर से अधिक पर विक्रय हो रहा है तो उसकी जानकारी अपने क्षेत्र के मत्स्य विभाग के अधिकारी को दें। जिससे उचित दर पर मत्स्य बीज मिल सके। सभी जिलों के मत्स्य पालन विभाग के कार्यालयों से मत्स्य बीज कि दरों कि जानकारी ली जा सकती है।

मुख्यमंत्री के कार्यक्रम में आजीविका मिषन द्वारा लगाई गई प्रदर्शनी

झाबुआ । मुख्यमंत्री कमलनाथ के गत दिवस बिजावर प्रवास के दौरान म.प्र. डे-राज्य ग्रामीण आजीविका मिषन द्वारा गठित स्व-स्हायता समूह की महिलाओं द्वारा निर्मित उत्पादों की प्रदर्षनी लगाई गई। विस्तृत जानकारी देते हुये आजीविका मिशन से जिला परियोजना प्रबंधक सोनू सुषीला यादव ने बताया कि जिले से स्व-सहायता समूह की महिलाऐं विभिन्न गतिविधियों से जुड़कर अपने परिवार की आय में बढ़ोत्तरी कर परिवार को सहयोग प्रदान कर रही हैं। महिलाओं द्वारा लगाये गये स्टाॅल में जिले में निर्मित उत्पाद जैसे अगरबत्ती, टेराकोटा, साबुन, हैण्डलूम, दोना पत्तल एवं सेनेटरी नैपकिन हेतु प्रदर्षनी लगाई गई एवं विक्रय किया गया। इस दौरान लगभग 1500 के सामान की बिक्री हुई। कार्यक्रम में बड़ी संख्या में स्व-सहायता समूह की महिलाऐं सम्मिलित हुई और मुख्यमंत्री के उद्बोधन को सुना।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...