अर्थव्यवस्था में कुप्रबंधन, लोकतंत्र की तौहीन : साेनिया गाँधी - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 28 नवंबर 2019

अर्थव्यवस्था में कुप्रबंधन, लोकतंत्र की तौहीन : साेनिया गाँधी

mismanagement-in-economy-demoralizing-democracy-sonia
नयी दिल्ली, 28 नवंबर, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने नरेंद्र मोदी सरकार की कड़ी आलोचना करते हुए गुरुवार को आरोप लगाया कि अर्थव्यवस्था में कुप्रबंधन व्याप्त है और महाराष्ट्र में लोकतंत्र की तौहीन की गयी है।श्रीमती गांधी ने कांग्रेस संसदीय दल की बैठक को संबाेधित करते हुए कहा कि राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार बदले की भावना से काम कर रही है। उन्होंने कहा कि पूर्व वित्त मंत्री पी. चिदंबरम को 100 दिन तक जेल में रखना इसका ज्वलंत उदाहरण है।पार्टी कार्यकर्ताओं अौर नेताओं से एकजुट होने का आह्वान करते हुए उन्होंने कहा कि उन्हें मोदी- शाह के शासन के खिलाफ एकजुटता से खड़े हो जाना चाहिए। उन्होेंने कहा, ‘‘ हमारी पार्टी प्रत्येक जंग पूरी ताकत से लड़ेगी और एकजुटता से हर स्थिति बदल देगी।”कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि सरकार की आर्थिक नीतियों के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन हाे रहे हैं और इनका समापन दिल्ली में 14 दिसंबर को एक सभा से होगा।उन्होंने कहा कि भारतीय जनता पार्टी बेशर्मी से लोकतंत्र की तौहीन कर रही है। उन्होंने कहा कि शिवसेना, कांग्रेस अौर राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की एकजुटता भाजपा को हराने के लिए हैं। उन्होंने आरोप लगाया कि पिछले कुछ दिनों के दाैरान महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने अभूतपूर्व और गैरजिम्मेदाराना ढंग से काम किया है। इसमें कोई सन्देह नहीं है कि उन्होंने प्रधानमंत्री और गृहमंत्री के निर्देशों पर काम किया है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...