बिहार : देश के पहले मॉडर्न खादी मॉल का उद्घाटन किया नीतीश ने - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 7 नवंबर 2019

बिहार : देश के पहले मॉडर्न खादी मॉल का उद्घाटन किया नीतीश ने

nitish-inaugrate-khadi-mall
पटना (आर्यावर्त संवाददाता)  देश के पहले मॉडर्न खादी मॉल में लोगों को बिहार में उत्पादित सभी प्रकार के खादी वस्त्र व ग्रामोद्योग से जुड़ी चीजें एक छत के नीचे मिल सकेंगी।  राजधानी के पूर्वी गांधी मैदान के पास मंगलवार की सुबह उद्घाटन के बाद ही बिक्री शुरू हो गई। नए डिजाइन में बनाये गये खादी मॉल की सबसे बड़ी खासियत यह होगी कि यहां पहली बार बच्चों के लिए भी खादी के कपड़ों संग बिहार के मशहूर उत्पाद भी लोगों को मिल सकेंगे। 

मुख्यमंत्री नीतीश ने किया उद्घाटन  
मुख्यमंत्री नीतीश कुमार मंगलवार को पूर्वी गांधी मैदान स्थित नवनिर्मित बिहार खादी मॉल का उद्घाटन किया। खादी के नाम पर खोले जाने वाला यह देश का पहला सबसे बड़ा मॉल है। इसमें राज्य की तमाम खादी संस्थाओं द्वारा उत्पादित खादी वस्त्रों की बिक्री होगी। सभी खादी वस्त्रों पर 20 प्रतिशत छूट दी जाएगी। बिहार राज्य खादी बोर्ड द्वारा निर्मित मॉल के उद्घाटन अवसर पर सर्वप्रथम मुख्यमंत्री द्वारा गांधी प्रतिमा पर माल्यार्पण किया गया। उद्योग मंत्री श्याम रजक ने अध्यक्षता की।

मॉल में बिहार के खादी उत्पादित खादी उत्पादों की बिक्री की 
दूसरे राज्यों की खादी संस्थाएं भी अगर चाहें तो अपने खादी वस्त्रों की बिक्री कर सकते हैं। इस मॉल के ग्राउंड फ्लोर पर साड़ी, सलवार सूट, लेडीज गारमेंट्स की बिक्री की व्यवस्था की गई है। जबकि प्रथम तल पर खादी फेब्रिक, रेडीमेड शर्ट, कुर्ता पैजामा, बंडी और जेन्ट्स गारमेंट्स की बिक्री की व्यवस्था है। द्वितीय तल पर ग्रामोद्योग सामग्री जैसे- खादी के साबुन, शैम्पु, बॉडी लोशन, फेसवाश एवं हैंडीक्राफ्ट से संबंधित सामग्रियों की बिक्री होगी।

हस्तशिल्प उत्पाद भी मिलेगा मॉल में
इस मॉल में उपेंद्र महारथी शिल्प अनुसंधान संस्थान द्वारा निर्मित हस्तशिल्प सामग्री जैसे- मिथिला पेंटिंग, टिकुली आर्ट, पेपरमेशी और स्टोन क्राफ्ट आदि की बिक्री होगी।इस मॉल में खादी वस्त्रों के नए डिजाइनों पर तैयार किए गए खादी वस्त्रों की बिक्री होगी। बिक्री की प्रक्रिया को सरल बनाया गया है। सभी उत्पादों का अलग-अलग सेक्शन बनाया गया है। तृतीय तल पर शुद्ध देशी बिहारी व्यंजन तथा खाद्य पदार्थ उपलब्ध रहेगा। सभी प्रकार के खादी वस्त्र सूती, ऊनी एवं रेशमी उपलब्ध रहेगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने कहा कि फिलहाल तीन मंजिला खादी मॉल में खादी उत्पादित खादी उत्पादों को ही सेल की जारी है। बाद में हैंडलूम के उत्पाद रखा जाएगा। शोरूम के मैनेजर रमेश कुमार ने बताया कि मॉल में स्त्री, पुरुषों और बच्चों के लिए अलग-अलग व्यवस्था की गई है। यहां लोग कपड़े खरीद कर सिलवा भी सकते हैं। उन्होंने बताया कि बिहार के सभी खादी संस्थान के द्वारा बने कपड़ों, ग्रामोद्योग के सामान समेत हैंडमेड सामान को भी जगह दी गई है। इनमें शिल्पकारी और मधुबनी पेंटिंग आदि शामिल हैं। बिहार राज्य खादी ग्रामोद्योग बोर्ड से मिली जानकारी के अनुसार मॉल में बिहार के सभी खादी संस्थानों से कपड़ों को मंगाकर शेल्फ में लगा दिया गया है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...