रानी मुखर्जी ने ‘हिचकी’ के लिए जीता मोस्ट इन्फ्लुएंश‍ियल पर्सनैलिटी का अवॉर्ड - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 10 नवंबर 2019

रानी मुखर्जी ने ‘हिचकी’ के लिए जीता मोस्ट इन्फ्लुएंश‍ियल पर्सनैलिटी का अवॉर्ड

rani-mukherjee-wins-most-influential-personality-award-for-hichki
नयी दिल्ली 10 नवंबर, बॉलीवुड अभिनेत्री रानी मुखर्जी को फिल्म हिचकी के लिये सबसे प्रभावशाली सिनेमा पर्सनैलिटी अवॉर्ड से नवाजा गया है।साउथ-ईस्ट एशिया में आयोजित एक अवॉर्ड शो में रानी को द मोस्ट इन्फ्लुएंश‍ियल सिनेमा पर्सनैलिटी अवॉर्ड से सम्मानित किया गया। उन्हें यह अवॉर्ड सिद्धार्थ पी मल्होत्रा निर्देश‍ित फिल्म हिचकी में बेहतरीन अभ‍िनय के लिए मिला है।रानी मुखर्जी ने कहा ,“मोस्ट इन्फ्लुएंश‍ियल सिनेमा पर्सनैलिटी कहा जाना मेरे लिए बहुत सम्मान की बात है। बतौर एक्टर मैं लकी हूं कि मुझे ऐसी फिल्में करने का मौका मिलता है जिनसे मैं प्रेरित होती हूं और जिसे सभी लोग देखते हैं। कुछ फिल्में ऐसी भी हैं जो चर्चा का विषय बन जाती हैं और समाज में बदलाव भी लाती हैं। मुझे ऐसी फिल्में कुछ ज्यादा पसंद हैं जो लोगों के दिल और दिमाग में चेंज लाती हैं और इस दुनिया के बारे में सोचने के तरीके को बदलती हैं।”रानी मुखर्जी ने कहा, “ मुझे लगता है कि ये मेरी जिम्मेदारी है कि मैं उस चीज को आवाज दूं, बढ़ावा दूं जो मेरे आस-पास हो रही है। हिचकी भी ऐसी ही एक फिल्म है। फिल्म का पॉजीट‍िव मैसेज दुनियाभर के ऑडियंस, स्टूडेंट्स, टीचर्स और खासकर टॉरेट सिंड्रोम से लड़ रहे लोगों के बीच फैला है।”गौरतलब है कि फिल्म हिचकी में रानी मुखर्जी ने टॉरेट सिंड्रोम से ग्रसित एक शिक्षक की भूमिका निभाई है, जो कुछ वंचित छात्रों के समूह को शिक्षित करके स्वयं को साबित करना चाहती है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...