सीएए विरोधी हिंसक प्रदर्शन मामले में कांग्रेस कार्पोरेटर समेत 49 गिरफ्तार - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 20 दिसंबर 2019

सीएए विरोधी हिंसक प्रदर्शन मामले में कांग्रेस कार्पोरेटर समेत 49 गिरफ्तार

congress-corporator-with-49-arrest-protest-caa
अहमदाबाद/पालनपुर, 20 दिसंबर, गुजरात में अहमदाबाद के मुस्लिम बहुल शाहआलम इलाके में नागरिकता संशोधन कानून और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर के विरोध में हुए हिंसक प्रदर्शन के सिलसिले में शुक्रवार तड़के कांग्रेस के एक स्थानीय कार्पोरेटर समेत 49 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया। हिंसक घटनाओं और पथराव में पुलिस उपायुक्त और सहायक आयुक्त समेत 26 पुलिसकर्मी घायल हो गये थे। इस संबंध में देर रात ईसनपुर पुलिस स्टेशन में वहां के इंस्पेटर जे एम सोलंकी, जो स्वंय भी घायलों में शामिल थे, ने हत्या का प्रयास, बलवा करने, सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने तथा सार्वजनिक आदेश का उल्लंघन करने के आरोपोें के साथ कुल 50 नामजद और 5000 अज्ञात लोगों के खिलाफ मामला दर्ज कराया था। श्री सोलंकी ने आज यूनीवार्ता को बताया कि पकड़े गये लोगों में अहमदाबाद महानगरपालिका में दानीलीमड़ा इलाके के कांग्रेस कार्पोरेटर शहजाद पठान भी शामिल हैं। बिना अनुमति के रैली निकाल रही भीड़ को कल जब पुलिस ने रोकने का प्रयास किया था तो इसने जबरदस्त पथराव शुरू कर दिया। बचने के लिए छुप रहे पुलिस वालों पर नजदीक से तेज पथराव के कई सीसीटीवी फुटेज भी वायरल हो गये हैं। इनकी विधि विज्ञान प्रयोगशाला के जरिये जांच कर बलवाइयों की धरपकड़ के प्रयास किये जा रहे हैं। पुलिस को अपनी ही जान बचाने और उग्र भीड़ को नियंत्रित करने के लिए आंसू गैस के गोले छोड़ने पड़े थे और लाठी चार्ज करना पड़ा था। उधर उत्तर गुजरात के बनासकांठा जिले के छापी में उक्त प्रदर्शन के दौरान भीड़ के पुलिस पर हमले के प्रयास के मामले में भी पुलिस ने 22 नामजद तथा 3000 अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया है। यह घटना कांग्रेस समर्थित निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी के विधानसभा क्षेत्र वडगाम में हुई थी। बंद और प्रदर्शनों के समर्थन में मेवाणी ने ट्विट करते हुए पुलिस को घेरे जाने की घटना का भी जिक्र किया था। इस बीच अहमदाबाद समेत राज्य भर में आज शांति का माहौल है। शाह आलम समेत आसपास के इलाकों में पुलिस की बड़े पैमाने पर तैनाती की गयी है। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...