दुष्कर्म की घटनाओं के खिलाफ जंतर-मंतर पर प्रदर्शन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 3 दिसंबर 2019

दुष्कर्म की घटनाओं के खिलाफ जंतर-मंतर पर प्रदर्शन

demonstration-at-jantar-mantar-against-incidents-of-rape
नयी दिल्ली 02 दिसंबर, तेलंगाना में हैदराबाद में एक महिला पशु चिकित्सक से सामूहिक दुष्कर्म के बाद उनकी हत्या तथा रांची और वडोदरा में हुई दुष्कर्म की घटनाओं के खिलाफ अपना विरोध दर्शाने और न्याय की मांग के लिए समाज के विभिन्न वर्गों के लोग सोमवार को यहां जंतर-मंतर पर एकत्रित हुए।ऑल इंडिया डेमोक्रेटिक स्टूडेंट ऑर्गेनाइजेशन, ऑल इंडिया स्टूडेंट एसोसिएशन, ऑल इंडिया डेमोक्रेटिक विमेंस एसोसिएशन और ऑल इंडिया प्रोग्रेसिव विमेंस एसोसिएशन जैसे कई संगठनों के संयुक्त तत्वावधान में आयोजित विरोध-प्रदर्शन की आयोजक एवं कांग्रेस नेता अमृता धवन ने कहा, “मैं एक नेता के तौर पर नहीं बल्कि समाज के एक ऐसे सदस्य के तौर पर इस प्रदर्शन का आह्वान कर रही हूं, जो समाज में हो रही घटनाओं को लेकर चिंतित है। महिलाएं कितनी असुरक्षित हैं, इस पर चर्चा करने के लिए हमें दूसरी निर्भया क्यों चाहिए? न्यायिक प्रणाली को त्वरित न्याय सुनिश्चित करना होगा ताकि पीड़ितों के परिवारों को कुछ राहत मिले।”उन्होंने कहा, “निर्भया के बलात्कारी अब भी जेल में है और उन्हें अब तक फांसी नहीं दी गयी है। वे जेल में अपनी जिंदगी जी रहे हैं, उन्हें खाना मिल रहा है और वे चैन से सो रहे हैं लेकिन पीड़ितों के परिवारों को क्या मिला, जिनकी जिंदगी हमेशा के लिए तबाह हो गई है।”प्रदर्शन के दौरान काली पट्टियां बांधे प्रदर्शनकारियों ने ‘हमें न्याय चाहिए’, ‘हमें शर्म आती है कि हत्यारे अब तब जिंदा हैं’ के नारे लगाये।गौरतलब है कि सरकारी अस्पताल में काम करने वाली पशु चिकित्सक का गुरुवार रात हैदराबाद के बाहरी इलाके में चार लोगों ने दुष्कर्म किया और उसके बाद उन्हें जिंदा जला दिया जिससे उनकी मौत हो गई। उनका झुलसा हुआ शव शुक्रवार को बरामद हुआ था। इस मामले के चार आरोपियों को उसी दिन गिरफ्तार कर लिया गया था।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...