झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 17 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

मंगलवार, 17 दिसंबर 2019

झाबुआ (मध्यप्रदेश) की खबर 17 दिसंबर

विजय दिसव 16 दिसम्बर 2019 को डीआरपी लाईन सामुदायिक भवन में षहिदो के परिजनो का सम्मान एवं षाबाष इण्डिया का कार्यक्रम आयोजित किया गया
      
jhabua news
झाबुआ । डीआरपी लाईन सामुदायिक भवन पर आयोजित विजय दिवस के आयोजन पर सर्वप्रथम जिले के अमर षहिद स्व. श्री मथुरालाल की पत्नि श्रीमती दाखाबाई एवं सेनानी श्री कैलाषचंद्र राठौर को पुलिस द्वारा सलामी दी गई। समारोह में श्रीमती षांति राजेष डामोर अध्यक्ष जिला पंचायत, कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा, पुलिस अधीक्षक विनीत जैन, जिला कांग्रेस कमेटी अध्यक्ष श्री निर्मल मेहता द्वारा षाल एवं श्रीफल से अमर षहिद स्व. श्री मथुरालाल की पत्नि श्रीमती दाखाबाई एवं सेनानी श्री कैलाषचंद्र राठौर का सम्मान किया गया।  मुख्यमंत्री जी मध्यप्रदेष षासन श्री कमलनाथ जी के संदेष का वाचन श्रीमती षंाति राजेष डामोर जिला पंचायत अध्यक्ष झाबुआ द्वारा किया गया। इस अवसर पर वरिष्ठ साहित्यकार श्री के.के त्रिवेदी द्वारा सन् 1971 के युद्व में षामिल सैनिको की गौरव गाथा एवं उनकी बहादुरी की गौरवषाली इतिहास के बारे में सदन को बताया एवं श्री प्रकाष चैहान द्वारा मैं भारत का रहने वाला हूॅ भारत की बात सुनाता हूॅ। बहुत ही सुंदर ढंग से देष भक्ति गाना प्रस्तुत किया। इसके पष्चात जिला पंचायत स्टेनो श्री सुनिल सक्सेना द्वारा गंगा तेरा पानी अमृत है, झर-झर बहता जाए, आरटीओ श्री राजेष गुप्ता द्वारा आरम्भ हो प्रचंड मस्तको के झुड को झुका देष्ष् श्री षैलेन्द्रसिंह राठौर द्वारा, ये षुभ दिन है हमारा लहराओ तिरंगा जो षहिद हुए उनको याद करो कुरबानी, श्री विपुल सारोलकर द्वारा ये वैष्णोजन तो तेने कहीये ये पीर पराई जानेरे देष भक्ति गीत से सभी को देष प्रेम से ओतप्रोत कर दिया। श्रीमती षीला सिसोदिया जो सेनानी श्री कैलाषचंद्र राठौर जी की पुत्री है उनके द्वारा भी अपना उद्बोधन दिया। इस आयोजन में मुख्य रूप से नाषिक की नौ सदस्य टीम जिसने वर्ष 2010 में षाबाष इण्डिया में अपना कार्यक्रम प्रस्तृत किया था। इस टीम द्वारा आज अपने करतब जिसमे बाल से पुलिस वाहन कोे खिचना, बाल से दो व्यक्यिो को घुमाना, हाथ से बडे-बडे पत्थर तोडना एवं बोलोरो वाहन अपने ऊपर से गुजरने जैसे करतब दिखाये। जिसमें कलेक्टर श्री प्रबल सिपाहा, पुलिस अधीक्षक श्री विनीत जैन, एवं षहिदो के परिजन द्वारा इस आयोजन की प्रषंसा की एवं इस टीम को पुरस्कार भी दिया। इस आयोजन में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी श्री संदीप षर्मा, एडीषनल सीईओ श्री दिनेष वर्मा, सहायक आयुक्त श्री प्रषांत आर्य, श्रीमती आईषा कुरैषी समस्त जिला अधिकरी/कर्मचारी छात्र/छाात्राएं प्रिंट एवं इलेक्ट्रानिक मीडिया सम्मिलित थे। कार्यक्रम का संचालक श्री महेन्द्र खुराना द्वारा किया गया एवं आभार श्री अभयसिंह खराडी अनुविभागीय अधिकारी राजस्व झाबुआ द्वारा माना गया।

सरकार का एक साल पूरा होने पर विजन डॉक्यूमेंट पेश करेंगे सीएम कमलनाथ

झाबुआ। मुख्यमंत्री कमलनाथ 17 दिसंबर को एक साल का कार्यकाल पूरा करने जा रहे हैं। इस दिन वे अपनी सरकार की उपब्धियां गिनाएंगे साथ ही अगले चार साल का विजन डॉक्यूमेंट भी जनता के सामने पेश करेंगे। प्रदेश में कांग्रेस सरकार का एक साल का कार्यकाल पूरा होने पर मंगलवार को मिंटो हॉल में एक कार्यक्रम आयोजित किया गया है, जिसमें पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह समेत अन्य कांग्रेस के नेता शामिल हो रहे हैं। इस दौरान मुख्यमंत्री बताएंगे कि उन्होंने एक साल में क्या किया है और अगले चार साल में सरकार क्या करने जा रही है। विजन डॉक्यूमेंट में प्रदेश के सभी विभागों की प्राथमिकता को शामिल किया गया है। इसमें कांग्रेस के वचन पत्र को प्राथमिकता में रखा गया है। बताया जा रहा है कि विभागों ने पहले जिस तरह विजन डॉक्यूमेंट बनते आए हैं, उसी हिसाब से प्रस्ताव भेज दिए थे, लेकिन मुख्यमंत्री कमलनाथ ने उसे खारिज कर दिया। उन्होंने सभी विभागों से कहा है कि डॉक्यूमेंट में विजन नजर आना चाहिए कि आखिर वे पांच साल में कहां पहुंचना चाहते हैं और उससे क्या बदलाव आएगा। इसके अलावा सामाजिक न्याय विभाग का इंदिरा गांधी समाज सेवा सम्मान कार्यक्रम भी होगा। उक्त जानकारी जिला कांग्रेस प्रवक्ता हर्ष भट्ट ने दीं।

मध्यप्रदेष के मुख्यमंत्री एवं प्रदेष कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ जी एवं जिला कांग्रेस ने विजय दिवस पर जिलावासीयों को हार्दिक शुभकामनाएं दी  

झाबुआ  । 16 दिसंबर 1971 का दिन भारतीय इतिहास के स्वर्णिम पृष्ट के स्मरण का दिवस इसी तारीख को 48 वर्ष पूर्व भारतीय सैनाओं ने पाकिस्तान द्वारा भारत पर थोपे गए युद्ध मंे निर्णायक विजयी प्राप्त की थी । इस युद्ध मंे हुए शहीद जवानों को जिला कांग्रेस ने स्मरण करते हुए उन्हें अपनी ओर से श्रृद्धांजली अर्पीत की । मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कमलनाथ जी ने प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं देते हुए अपने संदेश में कहा कि हम सब इस विजय दिवस की पूर्णवैला हम सब भारतीय चाहे वह किसी भी महजब और धर्म से हो जाति के हो, या पन्थ को मानते हो का कर्तव्य बनता है कि राष्ट्र की एकता और अखण्डता को अक्षुर्ण बनाये रखें तथा हम सब इस विजय दिवस पर भारत का गुणगान करें हमारे सैनिकों का यशगान करें और इंदिरा जी स्मरण करें एवं 1971 के शहीदों को श्रृद्धांजली अर्पण दें। इस अवसर पर हम सब समर्पित हो, मां भारती के विकास देशवासियों की खुशहाली व अमन चैन के लिए प्रार्थना करें। पूर्व केन्द्रीय मंत्री एंव झाबुआ विधानसभा के विधायक कांतिलाल भूरिया ने कहा कि तत्कालिन प्रधानमंत्री भारतरत्न श्रीमती इंदिरा गांधी का दृढ़ संकल्पित राजनीतिक नेतृत्व एवं भारतीय थल सेना अध्यक्ष जनरल एस.एच.एफ.जे  मानक शाह के कुशल और रणनैतिक नेतृत्व में भारत की तीनों सेनाओं का अपरिमित शौर्य का परिणाम यह है कि भारत को इस युद्ध में एैतिहासिक विजयी प्राप्त हुई । तथा विश्व की महाशक्तियों ने विरोध करने के बावजूद भी यह सफलता प्राप्त की तथा भारत का गौरव विश्व में दिखलाया, भारत हमेशा ही सशक्त रहा हैै और  हमेशा रहेगा। जिला कांग्रेस अध्यक्ष निर्मल मेहता ने इस अवसर पर अपने संदेश में कहा कि सन 1971 में भारत-पाकिस्तान युद्ध एक सेन्य संघर्ष था । 13 दिन की इस लड़ाई भारतीय सेनाओं ने पाकिस्तानी सैनाओं के हर मोर्चे पर उन्हें नेस्त-नाबुत कर उन्हें आत्म समर्पण मजबूर किया था। इस युद्ध में पाकिस्तानी सेना हर मोर्चे पर पराजित हुई थी, तथा हताश पाकिस्तानी सैना में आत्म समर्पण करने पर मजबूर हुई इसी के साथ पूर्वी पाकिस्तान एक नए देश बंगलादेश के रूप में विश्व मानचित्र पर स्थापित हुआ । भारत की पाकिस्तान पर इस ऐतिहासिक जीत को ही विजयी दिवस के रूप मंे मनाया जाता है। यह युद्ध देश की पूर्व प्रधानमंत्री एवं विश्व मंे आयरनलैडी के नाम से विख्यात इंदिरा गांधीजी सशक्त नेतृत्व और अद्वितीय राष्ट्रवाद की अद्भुत मिशाल होने के साथ-साथ भारतीय जांबाज सैनिकों के अदभ्य शौर्य का प्रतिक भी है, जिसमें पाकिस्तान के 93 हजार सैनिक घूटने टेकने पर मजबूर हुए और उन्हें आत्म समर्पण करना पड़ा । जिला कांग्रेस प्रवक्ता हर्ष भटट् ने अपने संदेश में कहा कि आज वो दिन है,  जिस पर हर भारतीय को गर्व महसुस होता रहेगा और आज के दिन वर्ष 1971 में भारत-पाकिस्तान युद्ध के दौरान 16 दिसंबर को ही भारत ने पाकिस्तान पर विजय हासिल की थी उसी जीत को ही पूरा हिन्दुस्तान ‘विजय दिवस’ के रूप में मनाया जाता है। इस युद्ध में तकरीबन उन्चालीस सौ जवान शहीद हुए थे, और नौ हजार आठसौ ईक्यावन जवान घायल हुए। इस युद्ध में पूर्व सेनाध्यक्ष मानेक शाह पूर्व कमांडर ले. जनरण जगजीतसिंह अरोड़ा, मेजर हौशियार सिंह, पूर्व लांन्च नायक अलबर्ट ऐका, पूर्व फ्लाइंग आॅफिसर निर्मलजीत सिंह शैखो, पूर्व ले. अरूण खेत्रपाल, चेवांग रिनचैन, महेन्द्रनाथ मुल्ला आदि के शौर्य पराक्रम की बदौलत की हमें ऐतिहासिक जीत प्राप्त हुई । विधायक वालसिंह मेड़ा, वीरसिंह भूरिया, जिला पंचायत अध्यक्ष शांति डामोर, जिला कांग्रेस कोषा अध्यक्ष प्रकाश रांका,  युवा नेता डाॅ. विक्रांत भूरिया, जिला कांग्रेस कार्यवाहक अध्यक्ष हेमचन्द डामोर, रूपसिंह डामोर, पूर्व विधायक जेवियर मेड़ा संभागीय प्रवक्ता साबिर फिटवेल, प्रवक्ता आचार्य नामदेव सहित जिला कांग्रेस, ब्लाॅक कांग्रेस, शहर कांग्रेस, महिला कांग्रेस, सेवादल, युवक कांग्रेस, एन.एस.यू.आई, विभिन्न मोर्चा संगठन के पदाधिकारीगण  एवं जनप्रतिनिधिगणों ने 1971 के युद्ध में शहीद हुए सैनिकों को नमन करते हुए इस विजय पर क्षैत्रवासियों को हार्दिक शुभकानाएं दी।

शांतिकंुज हरिद्वार से नषा मुक्ति एवं गौ-रक्षा को लेकर देष भ्रमण पर निकला रथ, झाबुआ में स्कूल, काॅलेज एवं छात्रावास-आश्रमों के साथ मुख्य बाजारों में रथ ने फिल्म दिखाकर नषा मुक्ति एवं गौ-संवर्धन का दिया संदेष

jhabua news
झाबुआ। अखिल विष्व गायत्री परिवार की ओर से शांतिकुंज हरिद्वार से देष को नषा मुक्त बनाने एवं गौ-संवर्धन के प्रति लोगों को जागरूक करने के उद्देष्य एक रथ निकाला गया हेै, जो संपूर्ण देष में भ्रमण कर लोगों को नषा मुक्त करने एवं नषा नाष की जड़ की जानकारी देने के साथ गौ-रक्षा के लिए लोगों को प्रेरित कर रहा है। यह रथ मप्र मंे इंदौर की ओर से भ्रमण करते हुए 14 दिसंबर की शाम को झाबुआ पहुंचा। रथ में शांतिकुंज हरिद्वार से दो समयदानी कार्यकर्ता गायत्री परिजन शंकरलाल पंचाल एवं दिन याल सुमन अपनी सेवाएं दे रहे है। यह कार्यकर्ता शांतिकुंज हरिद्वार से रथ के साथ निकले है, जो पूरे देष में रथ के भ्रमण के समय करीब 8 महीने तक साथ रहेंगे। झाबुआ पधारने पर स्वागत-अभिनंदन गायत्री शक्तिपीठ काॅलेज मार्ग गायत्री परिवार की ओर से जिला समन्वयक पं. घनष्याम बैरागी एवं नारी जागरण अभियान की जिला संयोजिका श्रीमती नलिनी बेरागी के नेतृत्व में गायत्री परिजन प्रकाष डावर, मनोरमा डावर, अर्चना राठौर, रीना शर्मा, हरिप्रिया निगम, माया बेैरागी, सुलोचना चैहान, कल्पना यादव, विजय लक्ष्मी शुक्ला आदि ने किया।

डेढ़ दिन रथ ने झाबुआ में घूमकर दिया नशा मुक्ति का संदेष
नारी जागरण अभियान की जिला संयोजिका श्रीमती नलिनी बेरागी ने बताया कि रथ ने डेढ़ दिन में झाबुआ के पाॅलिटेक्निक काॅलेज, शासकीय शहीद चन्द्रषेखर आजाद स्नातकोत्तर महाविद्यालय, उत्कृष्ट कन्या छात्रावास उत्कृष्ट स्कूल, मां त्रिपुरा नर्सिंग काॅलेज के साथ अन्य स्कूल और छात्रावासों में जाकर नषा मुक्ति को लेकर प्रचार-प्रसार करने के साथ ही विषेषकर युवाओं को जिसमें स्कूल-काॅलेज के छात्र-छात्राओं को नषा नहीं करने का संदेष दिया एवं गौ-माता को राष्ट्रीय माता मानकर उसकी सदैव सेवा करने का संकल्प दिलवाया। 

राजवाड़ा पर दिखाई फिल्म
15 दिसंबर, रविवार रात 8 बजे से शहर के राजवाड़ा पर रथ के माध्यम से फिल्म दिखाकर राह चलते लोगों, वाहन चालकांे ओर व्यापारियो को जागरूक किया गया। नषा मुक्ति की करीब एक घंटे की फिल्म इस दौरान दिखाई गई। जिसमें मुख्य रूप से नषा करने से किस प्रकार हमारे शरीर में विभिन्न रोग जन्म ले लेते हे एवं कई बार मनुष्य को अपनी जान से भी हाथ धोना पड़ता है। नषे के हानिकारक प्रभाव बताकर इससे सभी को दूर रहने की सलाह दी गई। बाद उपस्थितजनों को जिला समन्वयक पं. घनष्याम बैरागी ने नषा मुक्ति का संकल्प भी दिलवाया।

सकल व्यापारी संघ ने किया स्वागत
तत्पष्चात् रथ के साथ अपनी निःस्वार्थ सेवाएं दे रहे समयदानी कार्यकर्ता शंकरलाल पंचाल एवं दिनदयाल सुमन का पुष्पामाला पहनाकर भावभरा स्वागत सकल व्यापारी संघ की ओर से अध्यक्ष नीरजसिंह राठौर, सचिव पंकज जैन मोगरा, सह-सचिव हरिष शाह लालाभाई आदि ने किया। इस दौरान गायत्री परिजन भी उपस्थित रहे। बाद सभी को नषा छोड़ने हेतु नषे के कारण, बचाव, उपाय संबंधी जानकारी के पेंपलेट्स भी प्रदान किए गए।

संस्था वालपुर मे पाई अनियमितता मे संलिप्त तत्कालिन शाखा प्रबंधक श्री राजेष जोषी निलंबित

झाबुआ । आदिम जाति सेवा सहकारी संस्था मर्या. वालपुर मे पाई अनियमितताओं की विस्तृत जांच हेतु गठित जांच कमेटी द्वारा वर्ष 2016-17, 2017-18 एवं 2018-19 मे किये गये समस्त कार्य, लेनदेन आदि संबंधी प्रस्तुत जांच प्रतिवेदन अनुसार संस्था वालपुर मे राषि रू. 1,49,70,346/- की आर्थिक अनियमितता मे शाखा उमराली के तत्कालिन शाखा प्रबंधक श्री राजेष जोषी का शाखा/संस्था के कार्यो पर पूर्ण नियंत्रण का अभाव एवं लापरवाही व संप्लितता के कारण तत्काल प्रभाव से निलंबित किया गया है।

झिरी बगास्या मेले का पं. मुकेश शर्मा ने फीता काटकर किया शुभारंभ, सात दिवसीय मेला का अधिकाधिक लाभ लेने की अपील

jhabua news
झाबुआ। जिले के रामा तहसील के ग्राम झिरी बगास्या में स्थित अति प्राचीन बाबा बगास्या देव स्थल पर तृतीय वर्ष मवेशी मेले का भव्य रुप से आयोजन किया जा रहा है। 16 दिसंबर, सोमवार को दोपहर 11 बजे अगराल से पधारे पंडित श्री मुकेश जी शर्मा द्वारा फीता काटकर मेले का भव्य शुभारंभ किया गया। बाद चल समारोह के माध्यम से अतिथि पं. मुकेश जी शर्मा, ठा. चितरंजनसिंह राठौर, झिरी सरपंच बाथु वास्केल, अकमालसिंह डामोर (मालू), पूर्व झिरी सरपंच मुन्नाभाई, मनीष कुमट झकनावदा, गोपाल विश्वकर्मा, अरविंद राठौर, सरपंच फतेहसिंह भाबर, रतांभा सरपंच लक्ष्मणसिंह मालीवाड़, मंजू भूरिया, प्रमोदभाई भूरिया, आमलीपाड़ा सरपंच प्रेमसिंह, जनपद सदस्य मेनसिंह, राकेश डामोर बगास्या बाबा देव मंदिर पर पहुंचे। जहां बगास्या बाबा देव की महाआरती की गई। तत्पष्चात् महाप्रसादी का वितरण किया गया।

धर्म सभा का हुआ आयोजन
मंदिर परिसर में धर्म सभा का आयोजन हुआ। जिसमें समस्त अतिथियों का पुष्पमालाओं से स्वागत एवं अभिनंदन किया गया। मुख्य अतिथि पं. मुकेश शर्मा ने अपने उद्बोधन में कहा कि आपका यह मेला तृतीय वर्ष में प्रवेश कर चुका है। जिस प्रकार पूर्व में 2 वर्ष मेले के सफलतापूर्वक आयोजन हुए। उसी प्रकार इस वर्ष भी आप समस्त उपस्थित जन, कार्यकर्तागण मेले में अपना पूर्ण सहयोग प्रदान कर इस वर्ष भी मेले को शांतिपूर्ण तरीके से सफल बनाएं। आयोजन का संचालन मनीष कुमट ने किया एवं आभार गोपाल विश्वकर्मा ने माना।

मेले में यह रहेगा आकर्षण का केंद्र
झीरी मेले का यह तृतीय वर्ष है, जो कि मवेशी मेले के नाम से इस वर्ष आयोजित किया गया है। मेले में बाकानेर मनावर तहसील का प्रसिद्ध सांई फोटो स्टूडियो दीवानसिंह द्वारा लगाया गया है। साथ ही मौत का कुआं, झूले चकरियां, साज- सज्जा की दुकाने, खेल-खिलौनों की दुकान लगी है। कपड़े आदि की दुकाने भी बड़े पैमाने पर सजी हुई है, जो मेले के आकर्षण का केंद्र बनी हुई है। मेला आयोजक समिति ने समस्त बगास्या बाबा के भक्तों से निवेदन किया है, कि अधिक से अधिक तादाद में पधार कर इस सात दिवसीय मेले मैं सहभागिता कर इसे भव्य एवं ऐतिहासिक बनाएं।

राज्य शिक्षक संघ द्वारा ‘‘श्रेष्ठ शिक्षक गुणात्मक शिक्षा’’ विषय पर शैक्षिक संवाद कार्यक्रम का किया गया आयोजन, संवाद में षिक्षकों ने षिक्षा क्षेत्र की बेहतरी के लिए दिए अपने अमूल्य सुझाव

jhabua news
झाबुआ। राज्य शिक्षक संघ की झाबुआ इकाई द्वारा 15 दिसंबर रविवार को स्थानीय डीआरपी लाईन स्थित डाॅ. अंबेडकर पार्क में ‘श्रेष्ठ शिक्षक गुणात्मक शिक्षा’ पर शैक्षिक संवाद कार्यक्रम संघ के जिलाध्यक्ष गजेंद्रसिंह चंद्रावत के नेतृत्व एवं मार्गदर्शन में आयोजित किा गया। जानकारी देते हुए जिला मीडिया प्रभारी महेंद्रसिंह गेहलोत एवं सीताराम भूरिया ने बताया कि स्कूल शिक्षा विभाग की प्रमुख सचिव श्रीमती रश्मि अरुण शर्मा की मंशानुसार शिक्षा क्षेत्र में गुणात्मक शिक्षा की दिशा में नवाचार के दृष्टिकोण से प्रदेशभर में शिक्षकों का शैक्षिक संवाद कार्यक्रम ‘‘श्रेष्ठ शिक्षक-गुणात्मक शिक्षा‘‘ विषय पर प्रांताध्यक्ष जगदीश यादव के निर्देशानुसार आयोजित किए गए। इसी तारतम्य में झाबुआ के डाॅ. अंबेडकर पार्क में जिलेभर से आए शिक्षकों ने शैक्षिक संवाद के माध्यम से ‘‘श्रेष्ठ शिक्षक- गुणात्मक शिक्षा‘‘ पर चर्चा की।

षिक्षकों से गैर षिक्षकीय कार्य ना करवाया जाएं
संवाद के दौरान उपस्थित शिक्षकों ने शिक्षा क्षेत्र की बेहतरी के लिए अपने-अपने सुझाव दिए। जिनमें प्रमुख रूप से गैर षिक्षकीय कार्यों से शिक्षकों को मुक्त रखा जाएं, विद्यालयों में पर्याप्त शिक्षकों की नियुक्ति की जाएं, प्राथमिक विद्यालय में प्रत्येक कक्षा पर कम से कम 1 शिक्षक हो, माध्यमिक विद्यालय में विषयवार शिक्षकों की नियुक्ति की जाएं, इस प्रकार प्राथमिक विद्यालय में कम से कम पांच और माध्यमिक विद्यालय में कम से कम 6 शिक्षकों की नियुक्ति हो, शिक्षा के क्षेत्र में नित नए प्रयोगों को बंद कर एकमेव शिक्षा प्रणाली लागू हो, मैपिंग, प्रोफाइल अपडेशन, गणवेश, छात्रवृत्ति वितरण आदि कार्यों के लिए पृथक से नियुक्तियां की जाएं, ग्रामीण अभिभावकों में शिक्षा के प्रति जागरूकता लाने की दिशा में सरकार प्राथमिकता से कार्य करे।

षिक्षकों हेतु भयमुक्त वातावरण का हो निर्माण
पूर्व प्राथमिक शिक्षा जैसे एलकेजी, यूकेजी प्रारंभ की जाए, जिससे बच्चों की बुनियाद मजबूत हो, शिक्षकों हेतु भयमुक्त वातावरण का निर्माण हो, विद्यालयों में नैतिक शिक्षा अनिवार्य हो, प्रत्येक शाला में एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी की नियुक्ति हो, पाठ्यक्रम जीवन उपयोगी एवं रोजगार मूलक बनाया जाएं, आवासीय विद्यालयों को अधिक से अधिक खोला जाएं, विद्यालयों में पर्याप्त कक्षों की उपलब्धता सुनिश्चित की जाएं।

यह रहे उपस्थित
संवाद कार्यक्रम में प्रमुख रूप से श्रीमती सीमा चैहान, अबरार खान, सुनीता बाजपेई, सुश्री रीटा डामोर, शैलीन डामोर, मीना रावत, कांता खड़िया, नरेन्द्र डामोर, लीना कटारा, बाबू भूरिया, मनवेल भूरिया, विवेक दुबे, दरियावसिंह राठौर, रूपेंद्रसिंह राठौर, रावजी कटारा, कोमलसिंह कटारा, प्रमोद सिसोदिया, लेखा बैरागी, जॉन भाबोर, रमेश गवली, अनिल नागर, दशमसिंह बघेल, पंकज बेरागी, दिलीप सोलंकी, महेन्द्र उपाध्याय,  कैलाशचंद्र त्रिपाठी, विजय शर्मा, अब्दुल हमीद खान, रमेश भूरिया, सुभाष राजपूत, देवानंद बेरागी आदि उपस्थित थे। संचालन श्रीमती संगीता गुप्ता ने किया आभार दरियाव सिंह राठौर ने माना।

युवा शक्ति संगठन ने रोटी बैंक संचालित करने में सहयोग देने वाले अतिषय देषलहरा का स्वागत कर उन्हें संगठन के सदस्य का नियुक्ति पत्र सौंपा, 1 जनवरी 2020 से रोटी बेैंक संचालित करने की संगठन की योजना

jhabua news
झाबुआ। युवा शक्ति संगठन जिला इकाई झाबुआ की बैठक स्थानीय छोटे तालाब मनकामेष्वर महादेव मंदिर के समीप स्थित कार्यालय पर 15 दिसंबर, रविवार रात संपन्न हुई। जिसमें विषेष रूप से संगठन द्वारा शहर में संचालित किए जाने वाले प्रोजेक्ट रोटी बैंक की स्थापना में विषेष सहयोग देने वाले युवा अतिषय देषलहरा का पुष्पामाला पहनाकर उन्हंे नियुक्ति पत्र देकर संगठन की सदस्यता ग्रहण करवाई गई। बैठक में संगठन के जिलाध्यक्ष घनष्यामसिंह राठौर (ऋतिकभाई), क्षेत्र प्रमुख वरूण बैरागी, जिला सचिव रवि बारिया, मीडिया प्रभारी दौलत गोलानी आदि ने सर्वप्रथम संगठन के प्रोजेक्ट रोटी बैंक में सहयोग देने के लिए आगे आए अमन इलेक्ट्रानिक्स के संचालक युवा अतिषय देषलहरा का पुष्पामाला पहनाकर उन्हें संगठन का सदस्य बनाया गया। बाद इस प्रोजेक्ट पर बैठक में चर्चा की गई। जिसमें सभी की सहमति से तय किया गया कि संगठन द्वारा संभवतः आगामी 1 जनवरी 2020 से रोटी बेंक का संचालन प्रारंभ कर दिया जाएगा। पहले शुरूआती दौर में यह शहर में छोटे स्तर पर कुछ वार्डों में आरंभ होगा।

घरों से रोटी कलेक्षन कर गरीब वृद्ध-महिलाओं को प्रदान की जाएगी
इस हेतु प्रत्येक वार्ड में दो प्रभारी बनाए जाएंगें, जो निर्धारित समय पर लोगांे के घर पहुंचकर रोटी कलेक्षन करने का कार्य पात्रों में करेंगे। सब्जी के लिए भी अन्य संस्थाओं से सहयोग लिया जाएगा। प्रतिदिन यह सब्जी-रोटी शहर में घूमने वाले गरीब वृद्धजनों एवं महिलाओं को प्रदान करने की योजना है, ताकि उनकी दो समय की रोटी की जुगात की जा सके। इस हेतु निःस्वार्थ सेवाएं देने वाले युवाओं की भी आगामी दिनों में बैठक आयोजित कर उन्हें वार्ड के प्रभारी बनाएं जाएंगंे। बेठक के अंत में आभार संगठन के जिलाध्यक्ष घनष्यामसिंह राठौर ने माना।

विजय दिवस पर सद्भावना दौड आयोजित की गई
   
jhabua news
झाबुआ । 16 दिसम्बर को विजय दिवस के उपलक्ष्य में सदभावना दौड का भी आयोजन किया गया है। यह विजय दौड राजवाडा चैक से सायं 5 बजे प्रारंभ होकर मैन बाजार होते हुवे बस स्टेड से विजय स्तम्भ टाउन हाॅल पर समाप्त हुई।  इस दौड में खिलाडी/ छात्र-छात्राओं/ एनसीसी/ एनएसएस /नेहरू युवा केन्द्र/ अर्द्धषासकीय/ एनजीओ / अधिकारी/कर्मचारी रैली में सम्मिलित हुए। इस विजय दौड में देष भक्ति नारो के साथ जय घोष किया गया। इसका समन्वय श्रीमती आईषा कुरेषी, महेन्द्र खुराना, कुलदीप धबाई, श्री  राकेष गुप्ता द्वारा किया गया।

ऑनलाइन ठगी से बचने के सुझाव पोर्टल पर आमंत्रित
      
झाबुआ । ऑनलाइन ठगी से नागरिकों को बचाने के लिये उच.उलहवअ.पद पोर्टल पर ऑनलाइन कैम्पेन चलाया जा रहा है। ऑनलाइन ठगी से बचने के लिये राज्य साइबर पुलिस द्वारा नागरिकों से जागरूक और सावधान रहने की अपील की गई है । राज्य साइबर पुलिस को ऑनलाइन एडवरटाइजिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से लोगों से अलग-अलग ठगी करने संबंधी कई शिकायतें प्राप्त हुई हैं । लगातार प्राप्त हो रही इन शिकायतों की वजह से राज्य साइबर पुलिस द्वारा विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम और जागरूकता अभियान चलाये जा रहे हैं । नागरिक अब आम लोगों को ठगी का शिकार होने से बचाने के उपाय,  महत्वपूर्ण सुझाव और विचार पोर्टल पर लॉग इन कर साझा कर सकते हैं।

अनुसूचित-जाति छात्रावासी विद्यार्थिय¨ं की शिष्यवृत्ति में वृद्वि
   
झाबुआ । राज्य शासन ने अनुसूचित जाति के छात्रावास¨ं अ©र आश्रम¨ं में रहने वाले विद्यार्थिय¨ं की शिष्यवृत्ति में वृद्वि की है। वर्ष 2019-20 में छात्र¨ं के लिए 1230 रुपये अ©र छात्राअ¨ं के लिए 1270 रुपये की प्रतिमाह शिष्यवृत्ति देय ह¨गी। वर्ष 2018 में छात्र¨ं क¨ 1140 अ©र छात्राअ¨ं क¨ 1180 रुपये शिष्यवृत्ति प्रदान की जा रही थी।

रोजगार की जानकारी के लिए जॉब्स इन एम.पी. पोर्टल
    
झाबुआ । प्रदेश के युवाओं को एमएसएमई इकाईयों में रोजगार के अवसरों की जानकारी के लिये तथा अंबंदबल होने पर आवेदन की सुविधा के लिये एमएसएमई विभाग द्वारा पोर्टल रवइेपदउचण्उचउेउमण्हवअण्पद तैयार किया गया है। इस पोर्टल का उद्देश्य रोजगार के इच्छुक युवाओं एवं रोजगार प्रदान करनें वाली औद्योगिक इकाईयों के मध्य संवाद स्थापित करना है ताकि युवाओं को रोजगार के अधिक से अधिक अवसर प्राप्त हो सके। पोर्टल पर शिक्षित बेरोजगार युवा निर्धारित प्रपत्र अनुसार स्वयं का विवरण दर्ज करते हुए पंजीकरण कर सकते है ताकि पोर्टल के माध्यम से उनके विवरण का अवलोकन जॉब प्रदाता औद्योगिक इकाईयॉ कर सकें। पोर्टल में एमएसएमई इकाईयां स्वयं को जॉब प्रदाता के रूप में पंजीकृत कर सकती है। जॉब प्रदाता औद्योगिक इकाईयों के लिये यह सुविधा होगी कि वे अपनी आवश्यकता के अनुरूप रोजगार के इच्छुक युवाओं के बायोडाटा का अवलोकन कराएं उन्हें अपनी प्रक्रिया अनुसार रोजगार के अवसर प्रदान कर सकते है। ऐसे शिक्षित बेरोजगार युवा जो रोजगार के इच्छुक है वे इस पोर्टल पर स्वयं का विवरण दर्ज करते हुए पंजीकरण करावा सकते हैं।

युवाओं के लिये विद्यालयीन शिक्षा के साथ प्रेक्टिकल ज्ञान भी जरूरी रू मुख्यमंत्री श्री कमल नाथ
छिन्दवाडा एन.आई.आई.टी के विद्यार्थियों को प्रमाण-पत्र वितरित
झाबुआ । मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने छिन्दवाडा में नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ इन्फार्मेशन टेक्नालॉजी (छप्प्ज्) में विद्यार्थियों को प्रमाण-पत्र प्रदान करते हुए कहा कि आज के प्रतिस्पर्धा के जमाने में युवाओं को किसी न किसी क्षेत्र का प्रेक्टिकल ज्ञान होना जरूरी है। श्री कमलनाथ ने कहा कि जीवन में सफलता हासिल करने के लिये रोज ज्ञान में वृद्धि करने के लिये तैयार रहना चाहिये। मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ ने कहा कि उन्होंने केन्द्रीय वाणिज्य मंत्री रहते हुए छिन्दवाडा जिले में युवाओं के स्किल डेव्हलपमेंट की दिशा में निरंतर प्रयास किये। श्री कमलनाथ ने छिन्दवाडा में एनआईआईटी की स्थापना के उद्देश्य की जानकारी देते हुए युवाओं से अपेक्षा की वे हर क्षेत्र में बेहतर प्रदर्शन कर छिन्दवाडा और पूरे प्रदेश का नाम रोशन करेंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...