बिहार : नीतीश 3 दिसम्बर को राज्य में जल जीवन हरियाली यात्रा शुरू करेंगे - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

सोमवार, 2 दिसंबर 2019

बिहार : नीतीश 3 दिसम्बर को राज्य में जल जीवन हरियाली यात्रा शुरू करेंगे

nitish-will-start-jal-jiwan-hariyali-yatra
पटना,2 दिसम्बर। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार 3 दिसम्बर को राज्य में जल जीवन हरियाली यात्रा शुरू करेंगे। उनकी यात्रा की शुरुआत महात्मा गांधी के चम्पारण सत्याग्रह की भूमि से होगी। तय कार्यक्रम के मुताबिक नीतीश कुमार की इस यात्रा का पहला चरण तीन दिनों का होगा।  इस दौरान वे बेतिया, मोतिहारी और सीवान जिले के विभिन्न स्थानों पर आधा दर्जन से अधिक स्थलों का भ्रमण करेंगे तथा योजनाओं का शिलान्यास, उद्घाटन करेंगे तथा रोजाना एक जागरूकता सम्मेलन को भ संबोधित करेंगे।  मंत्रिमंडल सचिवालय के प्रधान सचिव डा. दीपक प्रसाद ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की जल जीवन हरियाली यात्रा को लेकर सभी विभागों के अपर मुख्य सचिव, प्रधान सचिव, सचिव, जिलों के प्रभारी सचिव, प्रमंडलीय आयुक्तों, पुलिस महानिरीक्षकों, सभी डीएम व सभी एसएसपी को गुरुवार को पत्र भेजा है। प्रभारी मंत्रियों को भी मुख्यमंत्री की इस यात्रा की जानकरी भेजी गयी है।  अपनी हरियाली यात्रा के पहले दिन मुख्यमंत्री चंपापुर के गनौली में चंपापुर तालाब एवं नंदी तालाब का भ्रमण करेंगे। योजनाओं का शिलान्यास व उद्घाटन तथा जागरूकता सम्मेलन को संबोधित करेंगे। उसके बाद पश्चिम चंपारण के मंझौलिया प्रखंड में बायो फ्लॉक तकनीक पर आधारित मत्स्य पालन स्थल का भ्रमण करेंगे। शाम 5 बजे बेतिया के समाहरणालय कक्ष में जल जीवन हरियाली से संबंधित समीक्षा बैठक करेंगे।  4 दिसम्बर को मुख्यमंत्री मोतिहारी जिले के पीपरा पंचायत परिसर का भ्रमण करेंगे। ठोस तरल कचरा प्रबंधन का मुआयना करेंगे। अरेराज अनुमंडल मुख्यालय परिसर में प्रखंड आईटी सेंटर भवन का भ्रमण करेंगे और जागरूकता सम्मेलन को संबोधित करेंगे। 5 दिसम्बर को सीवान जिले में इस यात्रा के क्रम में मुख्यमंत्री के दो कार्यक्रम होंगे। रैयतों द्वारा विकसित तालाव एवं मगत्स्य पालन का भ्रमण करने के बाद योजनाओं का शिलान्यास एवं उद्घाटन करेंगे

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...