दिल्ली की अनधिकृत बस्तियों में महिलाओं के नाम से या संयुक्त रूप से होगी रजिस्ट्री - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 4 दिसंबर 2019

दिल्ली की अनधिकृत बस्तियों में महिलाओं के नाम से या संयुक्त रूप से होगी रजिस्ट्री


registry-in-unauthorised-colonies-either-in-woman-s-name-or-in-joint-nameनयी दिल्ली 04 दिसंबर, आवास एवं शहरी कार्य मंत्री हरदीप सिंह पुरी ने बुधवार को राज्यसभा में घोषणा की कि दिल्ली की 1,700 से अधिक अनधिकृत बस्तियों का मान्यता देने के बाद वहाँ संपत्ति की रजिस्ट्री महिला के नाम से या महिला के साथ पुरुष के नाम से संयुक्त रूप से होगी।श्री पुरी ने ‘राष्ट्रीय राजधानी राज्यक्षेत्र दिल्ली (अप्राधिकृत कॉलोनी निवासी संपत्ति अधिकारी मान्यता) विधेयक, 2019’ पर चर्चा के जवाब के दौरान सदन में यह घोषणा की। उन्होंने कहा कि कानून बनने के बाद दिल्ली की अनधिकृत बस्तियों में मकानों और भूखंडों की रजिस्ट्री महिलाओं के नाम पर हाेगी। यह रजिस्ट्री पुरुष के साथ संयुक्त रूप से भी करायी जा सकती हैं। उन्होंने कहा कि रजिस्ट्री के लिए मामूली शुल्क चुकाना होगा। इन भूखंडों की रजिस्ट्री की प्रक्रिया 16 दिसंबर से शुरू हाे जाएगी।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...