सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 21 दिसंबर - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शनिवार, 21 दिसंबर 2019

सीहोर (मध्यप्रदेश) की खबर 21 दिसंबर

प्रभारी मंत्री से सेवादल कांग्रेस ने महिला पॉलोटेक्रिक  कॉलेज में डॉ अम्बेडकर की प्रतिमा अनावरण की मांग 

sehore news
सीहोर। सेवादल कांग्रेस के जिलाध्यक्ष नरेंद्र खंगराले ने भोपाल नाका स्थित डॉ अम्बेडकर महिला पॉलोटेक्रिक कॉलेज परिसर में जनसहयोग से लगाई गई संविधान निर्माता डॉ बाबा साहब अम्बेडकर की प्रतिमा के अनवारण की मांग प्रभारी मंत्री आरिफ अकील से की। इस अवसर पर श्री खंगराले ने प्रभारी मंत्री श्री अकील को बताया की उक्त डॉ अम्बेडकर की प्रतिमा छात्रावास में अध्यनारत छात्राओं एवं डॉ अम्बेडकर अनुयियों के द्वारा चंदा एकत्रित कर जिला प्रशासन से स्वीकृति पश्चात लगाई गई है। उक्त प्रतिमा का अनावरण विभाग के मंत्री बाला बच्चन से समय व दिनांक की स्वीकृति पश्चात लगाई जानी है। उक्त प्रतिमा को लगे कई महिने बीत गए है लेकिन प्रतिमा का अनावरण नहीं होने से अध्यायनरत छात्राओं डॉ अम्बेडकर अनुयियों एवं नागरिकों में रोष व्याप्त है।  साथ हीं क्षेत्रीय पार्षद आरती खंगराले के द्वारा वार्ड में निर्माण कार्यो में आ रहीं परेशानियों से प्रभारी मंत्री को अवगत कराया और प्रभारी मंत्री ने जिले के कलेक्टर अजय गुप्ता मुख्य नगर पालिका अधिकारी संदीप श्रीवास्तव से तत्काल समस्याओं के निराकरण के निर्देश दिए। प्रभारी मंत्री को ज्ञापन देने समय क्षेत्रीय पार्षद आरती नरेंद्र खंगराले, महिला कांग्रेस सेवादल अध्यक्ष आशा गुप्ता, दर्शन सिंह वर्मा, डॉ अनीस खान, सेवादल ब्लाक अध्यक्ष मांगीलाल टिमरई, डॉ जितेंद्र चंद्रवंशी, राहुल जाटव, जितेंद्र सिंह आदि सेवादल कांग्रेस कार्यकर्ता उपस्थित थे।  प्रभारी मंत्री श्री आरिफ अकील ने टाउनहाल में आयोजित आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में सुनी लोगों की समस्याएं

नवनियुक्त नगरपालिका अध्यक्ष को पदभार ग्रहण कराया

गैस त्रासदी, राहत एवं पुर्नवास, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग विभाग मध्यप्रदेश शासन तथा सीहोर जिले के प्रभारी मंत्री श्री आरिफ अकील शनिवार को सीहोर जिले के भ्रमण पर रहे। इस दौरान उन्होंने जिले में अलग-अलग स्थानों पर आयोजित आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में शामिल होकर लोगों की समस्याएं सुनी, आवास पट्टे और लाड़ली लक्ष्मी योजना के तहत प्रमाण पत्र वितरित किए और पूर्ण हो चुके निर्माण कार्यों के लोकार्पण भी किए। सर्वप्रथम प्रभारी मंत्री सीहोर के टाउनहाल में आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में शामिल हुए जहां उन्होंने लोगों की समस्याएं सुनी। इस असवर पर प्रभारी मंत्री द्वारा नव नियुक्त नगरपालिका अध्यक्ष श्रीमती नमिता विवेक राठौर को पदभार ग्रहण कराया। श्री अकील ने अनेक हितग्राहियों को आवास के पट्टे वितरित किए और प्राप्त हुई समस्याओं के निराकरण हेतु मौके पर उपस्थित अधिकारियों को निर्देशित किया। कार्यक्रम में उपस्थित जनप्रतिनिधियों में श्री रमेश सक्सेना, श्री राजीव गुजराती, श्री सुरेश गुप्ता, श्री कुलदीप सेठी, श्री जफरलाला सहित कलेक्टर श्री अजय गुप्ता, पुलिस अधीक्षक श्री शशीन्द्र चौहान, मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अरुण कुमार विश्वकर्मा, डीएफओ श्री रमेश गनावा आदि प्रमुख थे।

प्रभारी मंत्री श्री आरिफ अकील ने ग्राम सतपीपलिया में सुनी लोगों की समस्याएं एवं नलजल योजना का लोकार्पण किया

sehore news
आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत जिले के ग्राम सतपीपलिया में पहुंचे गैस त्रासदी, राहत एवं पुर्नवास, पिछड़ा वर्ग एवं अल्पसंख्यक कल्याण, सूक्ष्म, लघु एवं मध्यम उद्योग विभाग मध्यप्रदेश शासन तथा सीहोर जिले के प्रभारी मंत्री श्री आरिफ अकील ने सर्वप्रथम 1 करोड़ 2 लाख रुपये की लागत से तैयार की गई मुख्यमंत्री नलजल प्रदाय योजना का लोकार्पण किया। इसके बाद उन्होंने ग्रामवासियों से कहा कि आपकी सरकार आपके द्वार आई है। आपकी जो भी समस्याएं हों वह आप हमें लिखित में दें, जो लोग आवेदन नहीं लाएं हैं वह अपनी समस्याएं हमें मौखिक रूप से बताएं। आपकी सभी समस्याओं का जल्दी से जल्दी निराकरण किया जाएगा। श्री अकील ने कहा कि आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम अनोखी पहल है लोगों की समस्यांए सुलझाने की। उन्होंने लोगों द्वारा की गई तालाब की मांग को लेकर कहा कि तालाब गहरीकरण का कार्य 1 सप्ताह में प्रारम्भ कर दिया जाएगा साथ ही गौशाला भी जल्दी बनाई जाएगी। निर्माण कार्य 15 दिन में शुरू करवा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि सरकार और जनता के बीच कोई दूरी न हो। संविधान के हर अक्षर का पालन करेंगे और लोगों को बेहतर सुविधाएं देंगे। श्री अकील ने उपस्थित अधिकारियों को भी समस्याओं के शीघ्र निराकरण हेतु सख्त निर्देश दिए। इस अवसर पर विधायक इछावर श्री करण सिंह वर्मा, श्री शैलेन्द्र पटेल सहित अन्य जनप्रतिनिधि उपस्थित रहे। कार्यक्रम समापन के बाद प्रभारी मंत्री श्री अकील द्वारा जावर पहुंचकर 6 करोड़ 50 लाख की लागत से निर्मित महाविद्यालय भवन का लोकार्पण किया। उन्होंने लोकार्पण अवसर पर बड़ी संख्या में उपस्थित हुए ग्रामवासियों से आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत उनकी समस्याएं सुनी एवं उन्हें आश्वस्त किया कि समस्याओं का शीघ्र निराकरण किया जाएगा।  अंत में प्रभारी मंत्री श्री अकील द्वारा आष्टा विकासखंड के ग्राम गुराड़िया वर्मा पहुंचकर वहां आयोजित आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम में भाग लिया जहां उन्होंने सर्वप्रथम 1 करोड़ 20 लाख 38 हजार की लागत से निर्मित मुख्यमंत्री नलजल प्रदाय योजना का लोकार्पण किया गया। इसके बाद उन्होंने बड़ी संख्या में उपस्थित जनसमुदाय की समस्याएं सुनी और शीघ्र निराकरण के निर्देश दिए। इस अवसर पर इस जिला पंचायत अध्यक्ष श्रीमती उर्मिला मरेठा, नगरपालिका अध्यक्ष आष्टा श्री कैलाश परमार, जनपद पंचायत अध्यक्ष श्री ठाकुर बल बहादुर सिंह, श्री गोपाल सिंह इंजीनियर सहित अन्य जनप्रतिनिधि एवं मुख्य कार्यपालन अधिकारी जिला पंचायत श्री अरुण कुमार विश्वकर्मा, डीएफओ श्री रमेश गनावा सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

बड़ी संख्या में आगे आये नागरिक परिवार कल्याण सेवाओं के लिए

जिले में नागरिक बडे़ पैमाने पर परिवार कल्याण सेवाओं का लाभ उठाने आगे आ रहे है। दिसंबर माह में अब तक 1285 हितग्राही नसबंदी सेवाओं का लाभ उठा चुके है। उल्लेखनीय है कि सीहोर जिले में जिला अस्पताल सहित विकासखण्ड स्तरीय स्वास्थ्य सेवाओं के लिए पुरूष एवं महिला नसबंदी की निःषुल्क सेवाएं उपलब्ध है। पुरूष नसबंदी हेतु अधिक प्रोत्साहन राशि का भी प्रावधान है। माह के प्रत्येक सोमवार को सामु.स्वा.केन्द्र श्यामपुर तथा दोराहा में विशेषज्ञ एल.टी.टी.सर्जन डॉ.गौरव त्रिपाठी द्वारा सेवाएं दी जा रही है। प्रत्येक मंगलवार एवं शुक्रवार को सिविल अस्पताल  नसरूल्लागंज में डॉ.किरण वाड़िवा द्वारा सेवाएं दी जा रही है।  डॉ.परवेज खान द्वारा प्रति गुरूवार को सेवाएं सीएचसी श्यामपुर में दी जा ही है। सीएचसी इछावर एवं सीएचसी लाड़कुई में डॉ.विपिन जैन माह के प्रत्येक गुरूवार को एलटीटी की सेवाएं दे रहे है। माह के प्रत्येक बुधवार एवं शनिवार को सिविल अस्पताल आष्टा एवं सीएचसी जावर में एलटीटी सर्जन डॉ.मोहन सोनी द्वारा पुरूष एवं महिला नसबंदी की जा रही है। माह के प्रत्येक शुक्रवार को सामुदायिक स्वा.केन्द्र बुदनी एवं रेहटी में डॉ.सुधीर विजयवर्गीय द्वारा महिला एंव पुरूष परिवार कल्याण की स्थायी सेवाएं दी जा रही है। प्रति मंगलवार सामु.स्वा.केन्द्र बिल्किसगंज में एलटीटी सर्जन डॉ.श्रद्धा अग्रवाल द्वारा एलटीटी आपरेशन किए जा रहे है। मिशन परिवार विकास कार्यक्रम के अंतर्गत पुरू्रष सेवा आवश्यकता पर हितग्राही को 3000 रूपए एवं प्रेरक को 400 रू. की प्रोत्साहन राशि दी जाती है। प्रसव के तुरंत पश्चात अथवा एक सप्ताह के भीतर महिला नसबंदी कराने पर हितग्राही महिला को 3000 एवं प्रेरक को 400 एवं महिला की सामान्य  नसबंदी पर 2000 एवं प्रेरक को 300 रूपए की प्रोत्साहन राशि प्रदान की जाती है। मिनीलेप आपरेशन जिला चिकित्सालय सीहोर, सिविल अस्पताल आष्टा एवं नसरूल्लागंज, सामु.स्वा.केन्द्र इछावर तथा पुरूष नबसंदी सीएचसी श्यामपुर में प्रतिदिन सर्जन द्वारा की जा रही है। मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी द्वारा इन शिविरों का अधिक से अधिक लाभ लेने का आग्रह किया गया है।

जमकर फायदा उठाया सीहोर के नागरिकों ने मिशन इंद्रधनुष का मिशन इंद्रधनुष के प्रथम चरण में शत प्रतिशत लक्ष्य पूर्ण

sehore news
जिले में  सघन  मिशन इंद्रधनुष 2.0 टीकाकरण अभियान के अंतर्गत संचालित प्रथम चरण 2 दिसंबर से 12 दिसंबर 2019 तक जिले में शत प्रतिशत अधिक का लक्ष्य पूरा किया गया। अभियान के अंतर्गत टीकाकरण से छूटे हुए बच्चों को विशेष सत्रों का आयोजन विभिन्न टीकें लगाए जाने है। अभियान का द्वित्तीय चरण 6 जनवरी से 16 जनवरी 2020 तक आयोजित किया जाएगा। प्रथम चरण में 1525 बच्चों को टीकाकृत किया जाना था जिसमें लक्ष्य से अधिक 1559 बच्चों को टीकाकृत किया गया। 662 गर्भवती माताओं का लक्ष्य के विरूद्ध 671 गर्भवती माताओं को टीका लगाकर शत प्रतिशत से अधिक टीकाकरण किया गया । मिषन इंद्रधनुष अभियान का तृतीय चरण 3 फरवरी से 13 फरवरी 2020 तथा चतुर्थ चरण 2 मार्च से 12 मार्च 2020 तक संचालित किया जाएगा। टीकाकरण कार्यकम का उद्देष्य शिशुओं एवं गर्भवती माताओं में होने वाली 11 जानलेवा बीमारियों पोलियो, टी.बी.हेपेटाइटिस-बी, काली खांसी, गलघोंटू, टिटेनस,दस्त रोग, निमोनिया, खसरा-रूबेला एवं हिब से जैसी गंभीर बीमारियों से बचाव करना तथा शिशु एवं बाल्य मृत्यु दर में आषातीत कमी लाना है। जिला कलेक्टर श्री अजय गुप्ता ने द्वित्तीय चरण 6 जनवरी से 16 जनवरी में भी मिशन इंद्रधनुष का अधिक से अधिक लाभ लेने की अपील की गई है।

सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग पर रोक के निर्देश

राज्य सरकार द्वारा वर्ष 2022 तक सिंगल यूज प्लास्टिक के उपयोग को फेजआउट करने का संकल्प लिया गया है। राज्य शासन द्वारा जारी निर्देशों में जिले के समस्त विभाग प्रमुख अधिकारियों को समस्त विभागों में होने वाले सार्वजनिक कार्यक्रमों के दौरान डिस्पोजेबल प्लास्टिक, प्लास्टिक कैरीबैग, फूड पैकेजिंग, प्लास्टिक फ्लॉवर, बैनर, झण्डे, पैट, बॉटल्स, कटलरी प्लेट्स, कप, ग्लास, स्ट्रॉ, स्पून्स, पाउच व शेसे आदि एवं थर्माकोल से निर्मित सजावट व अन्य सामान के उपयोग को प्रतिबंधित करने के लिये कहा गया है।

आंगनबाड़ी केन्द्रों के लिए वर्ष 2020 में 13 दिवस के अवकाश घोषित

आंगबनाडी केन्द्रों के संचालन के लिए वर्ष 2020 में पूरे साल के रविवार के अतिरिक्त 13 दिवस का अवकाश स्थानीय परिस्थितियों के अनुसार घोषित किए है। वर्ष 2020 में 15 जनवरी 2020 बुधवार को मकर संक्रान्ति, 21 फरवरी 2020 शुक्रवार को महाशिवरात्रि, 10 मार्च 2020 मंगलवार को होली, 25 मार्च 2020 बुधवार को गुढीपढ़वा, 2 अप्रैल 2020 गुरूवार को रामनवमी, 25 मई 2020 सोमवार को ईद-उल-फितर, 1 अगस्त 2020 शनिवार को ईदुज्जुहा, 3 अगस्त 2020 सोमवार को रक्षाबंधन, 12 अगस्त 2020 बुधवार को जन्माष्टमी, 17 सितम्बर 2020 गुरूवार को पितृमोक्ष अमावस्या, 4 नवम्बर 2020 बुधवार को करवाचौथ, 14 नवम्बर 2020 शनिवार को दीपावली एवं 16 नवम्बर 2020 सोमवार को भाईदूज पर अवकाश घोषित किए है।

वृद्धावस्था पेंशन की राशि बढ़ने से भरण-पोषण में हुई आसानी (खुशियों की दास्तां)

प्रदेश सरकार द्वारा वृद्धावस्था पेंशन की राशि दोगुनी कर देने से प्रदेश के गरीब तकबे के लाखों वृद्धजनों को राहत मिली है। वृद्धावस्था पेंशन की राशि बढ़ने से वृद्धजनों को भरण-पोषण में भी सुविधा हो रही है। जिले के ग्राम जहाजपुरा निवासी श्रीमती डिल्लो बाई वृद्धावस्था पेंशन की राशि 300 रूपए से बढ़ाकर 600 रूपए प्रतिमाह करने के लिए मुख्यमंत्री श्री कमलनाथ को धन्यवाद देते हुए कहते हैं कि मुख्यमंत्री जी ने हम जैसे गरीब और वृद्धजनों के दुख तथा परेशानी को समझते हुए वृद्धावस्था पेंशन की राशि दोगुनी कर दी है। पहले हमें 300 रूपए प्रतिमाह मिलते थे लेकिन अब 600 रूपए प्रतिमाह मिल रहे हैं। पेंशन की राशि मिलने से भरण-पोषण में भी बहुत सुविधा हो गई है। पहले हमें छोटे-छोटे खर्चो के लिए बेटों पर निर्भर रहना पड़ता था लेकिन अब ऐसा नहीं है।

मत्स्य-उत्पादन से जुड़े प्रत्येक व्यक्ति का हुआ बीमा

प्रदेश में मत्स्य-विकास एवं मछुआ कल्याण के लिये बीते एक साल में महत्वपूर्ण निर्णय लेकर उन्हें क्रियान्वित भी किया गया। इसके फलस्वरूप मत्स्य कृषक 2 लाख टन मत्स्य-उत्पादन करने में सफल हुए। शासन की सुव्यवस्थित योजनाओं का ही परिणाम रहा कि इस दौरान प्रदेश में 163 करोड़ 25 लाख मत्स्य.बीज स्टैण्डर्ड फ्राई का रिकॉर्ड उत्पादन भी हुआ। देवास के मत्स्य-कृषक श्री संदीप परदेशी को उत्कृष्ट मत्स्य.उत्पादन के लिये भारत सरकार ने विश्व मात्सिस्कीय दिवस पर द्वितीय पुरस्कार प्रदान कर सम्मानित भी किया।

जीरो प्रतिशत ब्याज पर ऋण - मत्स्य-पालकों को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए अल्पावधि ऋण के लिए जीरो प्रतिशत ब्याज दर पर 6293 फिशरमेन क्रेडिट कार्ड जारी किए गए। शासन ने मछुआरों एवं मत्स्य-उत्पादन के क्षेत्र से जुड़े प्रत्येक व्यक्ति का बीमा करवाकर उनका जीवन सुरक्षित कर दिया हैं। नील क्रांति योजना एवं राष्ट्रीय कृषि विकास योजना में प्रदेश में 338 केज स्थापित किए गए है। अब प्रत्येक केज से 4 से 5 टन पंगेशियस मछली का उत्पादन मिल रहा है।

मत्स्य-उत्पादन एवं विक्रय को प्रोत्साहन - मत्स्य-उत्पादकता बढ़ाने के लिए निजी क्षेत्र में अनुदान पर मत्स्य आहार उत्पादन के लिए चार फिशफीड मिल की स्थापना की गई है। निजी क्षेत्र में मत्स्य.बीज उत्पादन एवं संवर्धन के लिये 5 हैचरी की स्थापना के लिए आवश्यक राशि प्रदान की गई है। इसी के साथए राष्ट्रीय कृषि विकास योजना में मत्स्य.कृषकों को उत्पाद का उचित मूल्य एवं उपभोक्ता को ताजी तथा हाईजिनिक मछली उपलब्ध कराने के लिए नगर पंचायतोंध्ग्राम पंचायतों में 105 फुटकर मत्स्य बाजारों का निर्माण भी कराया गया है। मत्स्य महासंघ द्वारा जलाशय में कार्यरत मछुआरों को आखेटित मछली के लिये 20 करोड़ रूपये पारिश्रमिक के रूप में भुगतान किया गया। बंद ऋतु में मछुआरों एवं उनके पारिवार के सदस्यों को जीवन.यापन के लिये आजीविका सहयोग योजना में तीन करोड़ से ज्यादा राशि का भुगतान किया गया। नाव.जाल अनुदान योजना में 5031 मछुआरों को 343 लाख रूपये का भुगतान किया गया। मुख्यमंत्री मीनाक्षी कन्या विवाह - मुख्यमंत्री मीनाक्षी कन्या विवाह योजना में राज्य शासन द्वारा मछुआरों की 143 कन्याओं के विवाह के लिए 28 लाख 60 हजार की राशि व्यय की गई। प्रोत्साहन पुरस्कार योजना में राज्य शासन द्वारा महासंघ के जलाशय में 28 मत्स्य सहकारी समिति एवं 247 मछुआरों को कुल 21 लाख 22 हजार की प्रोत्साहन राशि दी गई। राज्य सहकारी मत्स्य महासंघ द्वारा संचालित निषादराज छात्रवृत्ति योजनाए शिक्षा प्रोत्साहन योजनाए गंभीर बीमारी अनुदान योजनाए अनुग्रह योजनाए मछुआ प्रशिक्षण योजना में राज्य शासन द्वारा 22 लाख 44 हजार रूपये की प्रोत्साहन राशि के रूप में मछुआरों को प्रदान किये गये। इस तरह बीते एक साल में मछुआरों के कल्याण पर भरपूर ध्यान दिया गया।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...