वरिष्ठ पत्रकार भास्कर मेनन का निधन - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

रविवार, 1 दिसंबर 2019

वरिष्ठ पत्रकार भास्कर मेनन का निधन

senior-journalist-bhaskar-menon-passes-away
चेन्नई, एक दिसंबर, वरिष्ठ पत्रकार भास्कर मेनन का रविवार को यहां दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया। उनके परिवार ने यह जानकारी दी। मेनन (87) प्रेस ट्रस्ट ऑफ इंडिया के क्षेत्रीय प्रबंधक (दक्षिण) के पद से सेवानिवृत्त हुए थे। उनके परिवार में पत्नी और एक बेटा है। पीटीआई के प्रधान संपादक विजय जोशी ने कहा कि मेनन के निधन से एक युग का अंत हो गया। उन्होंने कहा, “भास्कर का निधन एक युग का अंत है, भद्र पत्रकारों के युग का अंत है। वह मुहावरों, सही शब्दों के चयन और अच्छे लेखन के नियमों का काफी खयाल रखते थे।” जोशी ने कहा, “उन्होंने पीटीआई में अनेक पत्रकार तैयार किये, गलतियों के लिये हल्के -फुल्के अंदाज में उन्हें सुधार के लिये डांटा तो अच्छे संपादन के लिये खुले दिल से उनकी प्रशंसा भी की।”  उन्होंने कहा कि पीटीआई परिवार को उनकी कमी महसूस होगी। वह उपसंपादक के तौर पर समाचार एजेंसी में शामिल हुए थे और तरक्की पाते हुए पीटीआई के क्षेत्रीय ब्यूरो के प्रमुख के पद से सेवानिवृत्त हुए। मेनन की अंग्रेजी भाषा पर जबर्दस्त पकड़ थी और उनका संपादन कौशल बेहतरीन था। वह हमेशा तत्परता और सटीकता पर जोर देते थे। उन्होंने अपने पत्रकारीय जीवन में पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या समेत अनेक अहम खबरों को कवर किया। राजीव गांधी की मई 1991 में श्रीपेरंबदूर में हत्या कर दी गई थी। 

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...