बिहार : बेतिया डीएम व एसपी ने मीना बाजार में बिगड़े हालात को नियंत्रण में कर लिया - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

बुधवार, 29 जनवरी 2020

बिहार : बेतिया डीएम व एसपी ने मीना बाजार में बिगड़े हालात को नियंत्रण में कर लिया

बेतिया डीएम एसपी ने मीना बाजार में बिगड़े हालात को नियंत्रण में कर लिया है, बेतिया डीएम डॉ. नीलेश रामचन्द्र देवड़े एक बार फिर बेतिया को जलने से बचा लिया है तो वंही महिला एसपी निताशा गुड़िया ने भी एक दिलेर महिला एसपी होने का परिचय दिया है
betiya-under-control
बेतिया,29 जनवरी (आर्यावर्त संवाददाता) । भा.क.पा. माले के राष्ट्रीय सचिव, श्री दीपांकर भट्टाचार्य के आह्वान पर वामपंथी पार्टियों सहित अन्य विपक्षी दल तथा संगठनों द्वारा आज 29 जनवरी को एनआरसी/सीएए/एनपीआर के विरोध में भारत बंद का आह्वान किया गया था।इस दरम्यान कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा विधि-व्यवस्था को प्रभावित करने की कोशिश भी की गयी।मीना बाजार व आसपास के इलाकों में असामाजिक तत्वों द्वारा उपदव फैलाने की असफल कोशिश की गयी है,जिसे जिला प्रशासन-पुलिस द्वारा नाकाम कर दिया गया है। बताते चले कि वामपंथी पार्टियों सहित अन्य विपक्षी दल तथा संगठनों द्वारा आज 29 जनवरी को एनआरसी/सीएए/एनपीआर के विरोध में भारत बंद का आह्वान किया गया। इसका असामाजिक तत्वों फायदा उठाना चाह रहे थे।बंद समर्थक एवं बंद विरोधी असामाजिक तत्वों ने माहौल बिगाड़ने की कोशिश की थी अमन के दुश्मनों ने बेतिया को अशांत करने की कोशिश की थी। चारो तरफ से पथराव हो रहा था छत के ऊपर से बोतल के साथ साथ ईंट पत्थर बरसाए जा रहे थे उसमे बेतिया डीएम और एसपी दौड़ लगा रहे थे,हालात को नियंत्रण में करने की कोशिश कर रहे थे, मैं आश्चर्यचकित था डीएम को पहली बार दौड़ लगाते हुए देखकर,पत्थर के बारिश में सिंह के समान गर्जना करते हुए बिगड़े हुए माहौल को नियंत्रित करते हुए, इससे भी बड़ा आश्चर्य महिला एसपी निताशा गुड़िया को देखकर हुआ,वो भी असमाजिक तत्वों पर टूट पड़ी थी बिगड़े हुए माहौल को देखते ही देखते दोनों अधिकारियो ने नियंत्रण में कर लिया। डीएम और एसपी समेत जिला के वो तमाम पदाधिकारी जो मीना बाजार में मौजूद थे उनलोगों ने आज बेतिया को जलने से बचा लिया है अमन के दुश्मनों और असमाजिक तत्वों के मंसूबो पर पानी फेर दिया है। बेतिया डीएम डॉ. नीलेश रामचन्द्र देवड़े द्वारा बताया गया है कि मीना बाजार व आसपास के इलाकों में जिन असामाजिक तत्वों द्वारा उप्रदव फैलाने की असफल कोशिश की गयी है, उनकी गहन छानबीन की जा रही है। ऐसे तत्वों के विरूद्ध सख्त से सख्त कार्रवाई की जायेगी। इसके साथ ही सोशल मीडिया जैसे-फेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम आदि पर भी साइबर सेल द्वारा पैनी नजर रखी जा रही है। सोशल मीडिया पर भी अफवाह फैलाने वाले तत्वों के विरूद्ध आईटी एक्ट के तहत कड़ी कार्रवाई की जायेगी।इसके साथ ही बेतिया शहर के छावनी चौक पर राष्ट्रीय उच्च पथ को बंद करने वाले सभी व्यक्तियों पर प्राथमिकी दर्ज की गयी है। वीडियो फुटेज के आधार पर सभी व्यक्तियों पर अग्रतर कार्रवाई की जायेगी। बेतिया डीएम डॉ. नीलेश रामचन्द्र देवड़े बेतिया एसपी निताशा गुड़िया को बहुत बहुत धन्यवाद आपलोगो के सूझ बूझ से आपलोगो की दिलेरी से अमन का राज कानून का राज भाईचारे का राज कायम है ऐहतियात के तौर पर मीना बाजार, बेतिया एवं आसपास के दुकानों को विधि-व्यवस्था संधारण हेतु शाम को 6.00 बजे के बाद खोलने हेतु कहा गया है। उनकी गहन छानबीन की जा रही है। बेतिया डीएम डॉ. नीलेश रामचन्द्र देवड़े ने कहा कि जिला प्रशासन को ऐसी सूचना मिली है कि कुछ असामाजिक तत्वों द्वारा अफवाहों को फैलाने की भी कोशिश की जा रही है जो बिल्कुल गैरकानूनी है। बेतिया शहर सहित पूरे जिले में शांति है। आप सभी जिलेवासियों से अनुरोध है कि विधि-व्यवस्था संधारण में प्रशासन-पुलिस का सहयोग करें तथा अफवाहों पर बिल्कुल ध्यान नहीं दें। इन कार्य को लेकर आलोक कुमार चौबे कहते हैं कि पश्चिम चम्पारण की समझ ने जिले को बचाया है।बेतिया के लोगों का जिलाधिकारी पर गर्व है। रामेश्वर सरार्फ ने कहा कि डीएम साहब व एसपी साहिबा के जज्बे के कारण ही अमन के दुश्मनों के गलत मंसूबे नाकाम हुए आप दोनों को बहुत बहुत बधाई साथ ही अमन के दुश्मनों को चुनचुन कर सलाखों के अंदर करें।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...