केरल में कोरोना वायरस के एक मामले की पुष्टि - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 30 जनवरी 2020

केरल में कोरोना वायरस के एक मामले की पुष्टि

corona-virus-found-in-keral
तिरुवनंतपुरम , 30 जनवरी, केरल के त्रिशूर जिले में कोरोना वायरस के एक मामले की पुष्टि हुई है और संक्रमित मरीज को 'आइसोलेशन' वार्ड में रखा गया है।  राज्य की स्वास्थ्य मंत्री के के शैलजा ने यह जानकारी दी। मंत्री ने यहां संवाददाताओं से कहा कि मरीज चीन के वुहान विश्वविद्यालय का छात्र है और उसकी हालत स्थिर है। उसे त्रिशूर के अस्पताल में पृथक वार्ड में रखा गया है। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य अधिकारी एक और जांच-जीन स्वीक्वेंसिंग-के नतीजे का इंतजार कर रहे हैं और उसके बाद अंतिम तौर पर यह नतीजा निकाला जा सकता है कि मरीज वायरस से पीड़ित है।  शैलजा ने कहा कि चीन से लौटे तीन अन्य लोग त्रिशूर के अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में हैं।  इससे पहले केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने दिन में कहा था कि केरल में कोरोना वायरस के एक मामले की पुष्टि हुई है। शैलजा ने यहां संवाददताओं से कहा,‘‘चीन से लौटे चार छात्रों में से एक को कोरोना वायरस से संक्रमित पाया गया है। कुल 20 नमूने पुणे के नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी में भेजे गए थे जिनमें से 10 नमूने नकारात्मक पाए गए। लेकिन इनमें से एक संक्रमित पाया गया।’’  शेष नमूनों की जांच की रिपोर्ट की प्रतीक्षा है।  मुख्यमंत्री पिनराई विजयन ने जोर दिया कि राज्य का स्वास्थ्य नेटवर्क किसी भी प्रकार की आपात स्थिति से निपटने में सक्षम है। उन्होंने कहा,‘‘हमने आपात स्थिति से निपटने के लिए कई कदम उठाए हैं। संपर्क में आए लोगों की पहचान,मामलों को अलग करना,गुणवत्तापरक देखभाल जैसे काम किए जा रहे हैं। उन्होंने ट्वीट किया,‘‘ इस बात का ध्यान रखा जाना चाहिए कि सोशल मीडिया में अफवाहें नहीं फैले।’’  उन्होंने संवाददताओं से कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि राज्य में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है लकिन राज्य ने पहले भी ऐसी स्थिति का सामना किया है और उससे निपटने का उसे अनुभव है।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...