जमशेदपुर : उपायुक्त द्वारा शिक्षा विभाग की समीक्षा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

शुक्रवार, 10 जनवरी 2020

जमशेदपुर : उपायुक्त द्वारा शिक्षा विभाग की समीक्षा

dc-jamshedpur-meeting-education
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता) आज समाहरणालय सभागार में उपायुक्त द्वारा शिक्षा विभाग की समीक्षा की गई। समीक्षा के दौरान उपायुक्त ने सबसे पहले जिले में निर्माणाधीन मॉडल स्कूल को 15 मार्च तक पूर्ण करने का निर्देश संबंधित पदाधिकारी को दिया।वहीं जिले 206 जर्जर स्कूल भवन के संबंध में सहायक अभियंता से अनापत्ति प्रमाण पत्र प्राप्त करने के पश्चात जर्जर स्कूल भवन को अविलंब ध्वस्त  करने का निर्देश उपायुक्त द्वारा संबंधित पदाधिकारी को दिया गया। उपायुक्त द्वारा घाटशिला मुसाबनी और डुमरिया प्रखंड के वैसे 21 स्कूलों को चिन्हित करने का निर्देश संबंधित पदाधिकारी को दिया गया जहां स्मार्ट क्लास की शुरुआत करनी है।वहीं कुछ शिक्षकों को स्मार्ट क्लास संचालन से संबंधित प्रशिक्षण दिलवाने का निर्देश उपायुक्त ने सम्बन्धित पदाधिकारी को दिए।उपायुक्त ने सभी प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी को उनके प्रखंड अन्तर्गत सभी स्मार्ट क्लास का निरीक्षण कर एक सप्ताह में प्रतिवेदन उपलब्ध कराने का निर्देश दिए।वहीं उपायुक्त ने सभी प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी को कक्षा 5 से 6 एवं कक्षा 8 से 9 में गए छात्रों कि शत प्रतिशत जांच कर प्रतिवेदन उपलब्ध कराने का निर्देश दिए। उपायुक्त ने छात्रों को पोशाक हेतु दिए जाने वाली राशि का भुगतान 14 जनवरी तक करने का निर्देश संबंधित पदाधिकारी को दिया। स्कूलों में आयोजित नेत्र जांच शिविर में चिन्हित 474 बच्चो को  26 जनवरी तक रेड क्रॉस के सहयोग से चश्मा उपलब्ध कराने का निर्देश उपायुक्त ने दिए।वही 30 जनवरी तक बेंच डेस्क खरीदने का निर्देश संबंधित पदाधिकारी को उपायुक्त ने दिए।उपायुक्त ने 10वीं और 12वीं 50 वैसे स्कूल चिन्हित करने का निर्देश दिया जिसका रिजल्ट विगत खराब रहा,उन स्कूल के रिजल्ट बेहतर करने के उद्देश्य से जिले के सभी वरीय पदाधिकारियों एक एक स्कूल को गोद लेने का निर्देश दिया। उपायुक्त ने सभी 10 वीं और 12 वीं विद्यालयों में मॉडल प्रश्न और उसके उतर उपलब्ध कराने के विशेष क्लास आयोजित करने का निर्देश दिया गया। जिससे बच्चे बेहतर प्रदर्शन कर सके।शिक्षा विभाग में बेहतर प्रदर्शन के आधार पर आज उपायुक्त ने पोटका की प्रखंड शिक्षा प्रसार पदाधिकारी,सहायक योजना पदाधिकारी और जिला शिक्षा पदाधिकारी को उपायुक्त द्वारा प्रशस्ति पत्र प्रदान किया गया।  आज के बैठक में मुख्य रूप से जिला शिक्षा पदाधिकारी, जिला शिक्षा अधीक्षक,सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, सभी कस्तूरबा गांधी आवासीय विद्यालय के वर्डन सभी बी. आर. सी. सहित अन्य अधिकारी उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...