जमशेदपुर : इंदिरा आवास की प्रगति की गहन समीक्षा - Live Aaryaavart

Breaking

प्रबिसि नगर कीजै सब काजा I ह्रदय राखि कौसलपुर राजा II, हरिजन जानि प्रीति अति गाढ़ी। सजल नयन पुलकावलि बाढ़ी॥, मंगल भवन अमंगल हारी I द्रवहु सुदसरथ अजिर बिहारी II, हरि अनंत हरि कथा अनंता I कहहि सुनहि बहुबिधि सब संता II, दीन दयाल बिरिदु संभारी । हरहु नाथ मम संकट भारी।I, माता पिता की सेवा करें....बुजुर्गों का ख्याल रखें...अपनी प्रतिभा और आचरण से देश का नाम रौशन करें...

गुरुवार, 2 जनवरी 2020

जमशेदपुर : इंदिरा आवास की प्रगति की गहन समीक्षा

meeting-indira-awas
जमशेदपुर (आर्यावर्त संवाददाता) उप-विकास आयुक्त श्री बी. माहेश्वरी द्वारा आज प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण, अंबेडकर आवास तथा इंदिरा आवास की प्रगति की गहन समीक्षा की गई। प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत सबसे ज्यादा 679 आवास बहरागोड़ा प्रखंड में लंबित है। उप विकास आयुक्त द्वारा 31 जनवरी तक हर हाल में प्रखंडों में  लंबित आवास को पूरा करने का निर्देश संबंधित प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिये। वहीं वित्तीय वर्ष 2019-2020 में प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण में 11428 का लक्ष्य के विरुद्ध 8467 आवास स्वीकृत किए जा चुके हैं। शेष बचे आवास की स्वीकृति के संबंध में प्रखंड विकास पदाधिकारियों द्वारा बताया गया कि उनके प्रखंड में योग्य लाभुक नहीं है जिसके कारण विशेषकर  प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के तहत स्वीकृति नहीं कर पा रहे हैं। इस संबंध में उप विकास आयुक्त द्वारा सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को यह स्पष्ट निर्देश दिया गया कि वे ग्राम सभा आयोजित कर अयोग्य लाभुकों की सूची पास करवाकर उसे संबंधित प्रतिवेदन जिला को उपलब्ध कराएं। गौरतलब है कि एक बार लाभुक को अयोग्य करार दिए जाने के पश्चात फिर उस लाभुक को इस योजना का लाभ कभी नहीं मिल पाएगा। प्रखंड विकास पदाधिकारियों द्वारा प्रधानमंत्री आवास योजना ग्रामीण के अयोग्य लाभुकों की सूची उपलब्ध कराने के पश्चात जिला स्तर की टीम द्वारा उस सूची के सत्यापन हेतु औचक निरीक्षण किया जाएगा। सूची में गलत पाए गए सूचना पर संबंधित पदाधिकारी के विरुद्ध कार्रवाई भी की जा सकती है। वहीं उप विकास आयुक्त द्वारा अंबेडकर आवास योजना की प्रगति पर असंतोष जताते हुए इसको ससमय पूरा करने का निर्देश सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिया गया।जिले में 1847 इंदिरा आवास को 31 जनवरी तक पूर्ण करने का निर्देश उप विकास आयुक्त द्वारा सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को दिया गया है। आज के बैठक में मुख्य रुप से जिला योजना पदाधिकारी, निदेशक डीआरडीए, निदेशक एन ई पी सहित सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, ब्लॉक कोऑर्डिनेटर, जेई मुख्य रूप से उपस्थित थे।

कोई टिप्पणी नहीं:

Loading...